भारत के खिलाफ अपने पहले ही टेस्ट मैच में छा गया ये चाइनामैन गेंदबाज

Mon, 14 Aug 2017 09:59 AM (IST)

संजय सावर्ण, नई दिल्ली। रंगना हेराथ जैसे दिग्गज स्पिनर की गैरमौजूदगी में जब श्रीलंका के इस चाइनामैन गेंदबाज को भारत के खिलाफ तीसरे टेस्ट मैच में खेलने का मौका मिला तो उन्होंने अपनी टीम को निराश नहीं किया। इस चाइनामैन गेंदबाज का भारत के विरुद्ध ये पहला टेस्ट मैच है लेकिन उन्होंने अपने पहले टेस्ट मैच की पहली पारी में ही आधी भारतीय टीम को पवेलियन भेजा। 

चला इस श्रीलंकाई चाइनामैन का जादू

तीसरे टेस्ट मैच की पहली पारी में जिस श्रीलंकाई गेंदबाज ने सबसे ज्यादा प्रभावित किया वो थे लक्षण संदाकन। संदाकन ने पहली पारी में आधी भारतीय टीम को आउट किया। ये भारत के खिलाफ उनका पहला टेस्ट मैच है। पहली पारी में संदाकन ने 35.3 ओवर गेंदबाजी की और 132 रन देकर कुल 5 विकेट झटके। उनका इकॉनामी रेट 3.72 का रहा और उन्होंने चार ओवर मेडन भी फेंके। 

ये भारतीय बल्लेबाज बने संदाकन का शिकार

संदाकन ने पहली पारी में पुजारा और विराट जैसे दिग्गज को आउट किया तो उसके बाद उन्होंने भारत के निचले क्रम के तीन बल्लेबाजों को अपना शिकार बनाया। उन्होंने विराट (42 रन), पुजारा (8 रन), हार्दिक पांड्या (108 रन), कुलदीप यादव (26 रन) और मो. शमी को पवेलियन भेजा। संदाकन के खतरनाक दिख रहे पांड्या को मैच के दूसरे दिन आउट कर श्रीलंका को बड़ी राहत दी। 

संदाकन का टेस्ट करियर

संदाकन ने अब तक 6 टेस्ट मैचों में कुल 20 विकेट लिए हैं। उन्होंने पल्लेकेले ग्राउंड पर ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ अपने टेस्ट करियर की शुरुआत की थी और इस मैच में उन्होंने अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करते हुए 107 रन देकर 7 विकेट लिए थे। संदाकन श्रीलंका के बेहतरीन चाइनामैन गेंदबाज हैं और अपने कमाल की एक्शन के दम पर वो बल्लेबाजों के लिए परेशानी खड़ी करते हैं। उन्हें भारत के खिलाफ इस टेस्ट सीरीज के पिछले दो मैचों में खेलने का मौका नहीं मिला था।

क्रिकेट की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

खेल की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

 

Tags: # Lakshan Sandakan ,  # Chinaman bowlers ,  # Sri Lanka ,  # India ,  # Team India ,  # India vs Sri Lanka ,  # third test ,  # लक्षण संदाकन , 

PreviousNext
 

संबंधित

तीसरे टेस्ट में हो सकती है ऐसी टक्कर जिसके बारे में सोच भी नहीं सकते आप

तीसरे टेस्ट मैच के दौरान अगर ऐसा हुआ तो होगी एक अनोखी टक्कर।