होम»»

वित्त वर्ष 2017 में एफडीआई में आया 9 फीसद का उछाल, निवेश का स्तर 43.48 अरब डॉलर तक पहुंचा

Fri, 19 May 2017 06:22 PM (IST)

नई दिल्ली (पीटीआई)। केंद्र सरकार की ओर से किए गए सुधार उपायों के कारण 2016-17 में भारत में विदेशी प्रत्यक्ष निवेश (एफडीआई) की वृद्धि दर 9.4 फीसद बढ़कर 43.48 अरब डॉलर हो गई है। आपको बता दें कि 2015-16 में देश के भीतर 40 अरब डॉलर का विदेशी निवेश आया था।

वाणिज्य एवं उद्योग मंत्रालय की ओर से जारी किए गए एक बयान में कहा गया कि देश में एफडीआई प्रवाह में वृद्धि का कारण सरकार के एफडीआई व्यवस्था को व्यवहारिक बनाने के लिए किए गए नीतिगत सुधार हैं। मंत्रालय ने कहा कि देश अब विदेशी निवेश के लिए सर्वाधिक आकर्षक स्थान बन गया है। बयान में आगे कहा गया कि एफडीआई इक्विटी प्रवाह 2016-17 में 43.48 अरब डॉलर रहा, किसी एक वित्त वर्ष में यह सर्वाधिक है।

मंत्रालय के बयान के मुताबिक प्राप्त आय के फिर से निवेश को भी लिया जाए तो कुल एफडीआई पिछले वित्त वर्ष में अब तक के सर्वाधिक 60.08 अरब डॉलर का रहा, जो 2015-16 में 55.6 अरब डॉलर था। बीते तीन वित्त वर्ष में एफडीआई इक्विटी प्रवाह करीब 40 प्रतिशत बढ़कर 114.41 अरब डॉलर रहा, जो इससे पूर्व तीन वित्त वर्ष (2011-14) में 81.84 अरब डॉलर था।

Tags: # FDI ,  # Foreign direct investment ,  # FY17 ,  # investment ,  # commerce ministry ,  # Business news in hindi , 

PreviousNext
 

संबंधित

FDI में हुआ 18 फीसद का उछाल, बीते साल देश में हुआ 46 अरब डॉलर का विदेश निवेश

भारत में वर्ष 2016 के दौरान विदेशी प्रत्यक्ष निवेश 18 फीसद वृद्धि के साथ 46 अरब डॉलर के स्तर पर पहुंच गया है।