UK Minister Rishi Sunak Resigns : ब्रिटेन के वित्त मंत्री ऋषि सुनक ने दिया इस्तीफा, बोरिस जानसन सरकार के कार्यकाल पर उठाए सवाल

ब्रिटेन के वित्त मंत्री ऋषि सुनक और स्वास्थ्य सचिव साजिद जाविद ने पीएम बोरिस जानसन की सरकार से इस्तीफा दे दिया। सुनक ने प्रधानमंत्री बोरिस को चिट्ठी लिखकर इस्तीफा दिया है। इस चिट्ठी में उन्होंने बोरिस सरकार की कार्यशैली पर सवाल उठाएं हैं।

Piyush KumarPublish: Tue, 05 Jul 2022 11:27 PM (IST)Updated: Wed, 06 Jul 2022 06:07 AM (IST)
UK Minister Rishi Sunak Resigns  : ब्रिटेन के वित्त मंत्री ऋषि सुनक ने दिया इस्तीफा, बोरिस जानसन सरकार के कार्यकाल पर उठाए सवाल

लंदन, रायटर्स। बहुचर्चित पार्टीगेट स्कैंडल के बाद से अपने राजनीतिक अस्तित्व की लड़ाई लड़ रहे ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जानसन को मंगलवार को बड़ा झटका लगा। उनके दो वरिष्ठ मंत्रियों ऋषि सुनक और साजिद जाविद ने इस्तीफा दे दिया। भारतीय मूल के सुनक वित्त मंत्री और पाकिस्तानी मूल के जाविद स्वास्थ्य मंत्री थे। सुनक और जाविद ने इंटरनेट मीडिया के जरिये इस्तीफा देने का एलान किया। इन इस्तीफों का असर ब्रिटिश मुद्रा पर पड़ा है और डालर के मुकाबले पाउंड-स्टर्लिग अपने दो साल के निम्नतम स्तर पर पहुंच गया। स्वास्थ्य मंत्री पद से जाविद के इस्तीफा देने की घोषणा के कुछ देर बाद ही सुनक ने भी अपना इस्तीफा प्रधानमंत्री जानसन के पास भेज दिया। इन दो वरिष्ठ मंत्रियों के अलावा जानसन के मंत्रिमंडल से किसी अन्य वरिष्ठ मंत्री ने इस्तीफा नहीं दिया है।

बोरिस जानसन ने इस्तीफे पर जताया दुख 

दोनों वरिष्ठ मंत्रियों के इस्तीफे के बाद प्रधानमंत्री बोरिस जानसन ने फैसले पर दुख जताया है। बोरिस जानसन के कार्यालय से प्रकाशित पत्र के अनुसार बोरिस जानसन को दोनों वरिष्ठ मंत्रियों द्वारा इस्तीफा दिए जाने पर उन्होंने खेद व्यक्त किया है।

मानकों के लिए लड़ाई लड़ी जानी चाहिए: सुनक

विदेश मंत्री लिज ट्रुस समेत अन्य वरिष्ठ मंत्रियों ने जानसन का समर्थन किया है। मंत्रियों के इस्तीफे के रूप में प्रधानमंत्री जानसन को दो दिन के भीतर दो बड़े झटके लगे हैं। एक दिन पहले ही एक पूर्व नौकरशाह ने यौन दुराचार के आरोपित निलंबित सांसद क्रिस पिंचर के मामले से निपटने में डाउनिंग स्ट्रीट (प्रधानमंत्री कार्यालय) पर आरोप लगाकर सनसनी मचा दी थी। इससे पहले भी अपने सरकारी कार्यालय में कोरोना लाकडाउन के दौरान पार्टी को लेकर जानसन आलोचनाओं के शिकार हो चुके हैं। 42 वर्षीय सुनक ने पीएम को भेजे इस्तीफा पत्र में लिखा है, 'जनता उम्मीद करती है कि सरकार सही, गंभीर और सक्षम ढंग से संचालित होगी। हो सकता है कि एक मंत्री के रूप में यह मेरा आखिरी कार्यकाल हो लेकिन मेरा मानना है कि इन मानकों के लिए लड़ाई लड़ी जानी चाहिए। यही वजह है कि मैं इस्तीफा दे रहा हूं।

'जाविद ने कहा कि उन्होंने एक के बाद एक सामने आए घोटालों के बाद जानसन की राष्ट्रीय हित में शासन करने की क्षमता पर विश्वास खो दिया है। उनकी अंतरात्मा उन्हें पद पर बने रहने की अनुमति नहीं दे रही। इन दोनों मंत्रियों ने ऐसे समय में इस्तीफा दिया है जब पीएम जानसन ने खेद जताते हुए कहा था कि यह जानते हुए कि पिंचर यौन दुराचार के आरोपी हैं, उन्हें अपना डिप्टी चीफ व्हिप नहीं बनाना चाहिए था। जानसन ने कहा, 'आखिरकार, ऐसा करना गलत था। मैं उन सभी लोगों से माफी मांगता हूं जो इससे प्रभावित हुए हैं।'

इन्फोसिस के सह संस्थापक नारायण मूर्ति के दामाद हैं सुनक ऋषि सुनक

ऋषि सुनक प्रमुख आइटी कंपनी इन्फोसिस के सह संस्थापक एन. नारायण मूर्ति के दामाद हैं। हाल ही में उन्हें और उनकी पत्नी अक्षता मूर्ति को इस बात को लेकर घेरा जा रहा था कि अक्षता मूर्ति रूस में इन्फोसिस के परिचालन से हो रही कमाई में हिस्सेदार हैं और इस पर ब्रिटेन में टैक्स नहीं दे रही हैं। इस पर सुनक ने पीएम जानसन से इस बात की जांच कराने को कहा था कि परिवार की आर्थिक व्यवस्था को लेकर क्या उन्होंने मंत्री पद की घोषणाओं के नियमों का पालन किया है या नहीं। 

बता दें कि यह पूरा मामला क्रिस पिंचर से जुड़ा बताया जा रहा है। क्रिस पिंचर पर नशे में धुत होकर लोगों के साथ दुर्व्यवहार करने के आरोप लगे थे। आरोप लगने के बाद भी पीएम बोरिस जानसन ने पिंचर पर सख्त कदम उठाने के बजाय उन्हें प्रमोट किया। 

बोरिस जानसन ने मांगी क्रिस पिंचर के मामले पर माफी

दोनों मंत्रियों द्वारा इस्तीफा देने से पहले पीएम बोरिस जानसन ने कंजरवेटिव पार्टी के पूर्व सचेतक क्रिस पिंचर के खिलाफ यौन दुराचार के आरोप लगाए जाने के बाद अपने पद पर रखने के लिए माफी मांगी। ब्रिटिश पीएम ने कहा कि पिंचर के खिलाफ कदाचार की शिकायत के खुलासे के बाद उन्हें डिप्टी चीफ व्हिप के रूप में सरकारी भूमिका देने का पछतावा है। जानसन ने आगे कहा,' आखिरकार ऐसा करना गलत था और मैं उन सभी से माफी मांगता हूं जो इस फैसले से प्रभावित हुए हैं। मैं बिल्कुल स्पष्ट करना चाहता हूं कि इस सरकार में किसी के लिए कोई जगह नहीं है जो हिंसक है या सत्ता की अपनी स्थिति का दुरुपयोग करता है।

बता दें कि सुनक और जाविद दोनों ने पूर्व में जानसन को उनके प्रशासन के आचरण और कोरोना महामारी के दौरान लाकडाउन के नियमों का उल्लंघन करने के मामले में सार्वजनिक तौर समर्थन किया था।

स्टीव बार्कले को अगला स्वास्थ्य मंत्री नियुक्त किया गया

बता दें कि नादिम जहावी को ब्रिटेन का अगला वित्त मंत्री नियुक्त किया गया है। वहीं, पाकिस्तानी मूल के स्वास्थ्य मंत्री साजिद जावेद के इस्तीफे के कुछ देर बाद बोरिस जानसन ने स्टीव बार्कले को स्वास्थ्य मंत्री के रूप में नियुक्त किया। जानसन ने अपने चीफ आफ स्टाफ स्टीव बार्कले को स्वास्थ्य मंत्री के रूप में नियुक्त किया 

यह भी पढ़ें: Nadhim Zahawi Appointed UK Finance Minister: नादिम जहावी को ब्रिटेन का अगला वित्त मंत्री नियुक्त किया गया, स्टीव बार्कले ने संभाला स्वास्थ्य मंत्री का पद

Edited By Piyush Kumar

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept