This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.
OK

लंदन में एक महिला में पाया गया कोरोना वायरस, यूके में अब तक कुल 9 मामले आए सामने

चीन के बाद अब लंदन में भी कोरोना के मरीज पाए जा रहे हैं। यूके में अब तक कोरोना से प्रभावित कुल 9 मामले पाए जा चुके हैं।

Vinay TiwariThu, 13 Feb 2020 06:38 PM (IST)
लंदन में एक महिला में पाया गया कोरोना वायरस, यूके में अब तक कुल 9 मामले आए सामने

लंदन, एजेंसी। चीन में सैकड़ों लोगों की जान ले चुके कोरोना वायरस ने अब लंदन में दस्तक दे दी है। साउथ लंदन में कोरोना का एक मरीज पाया गया है। इस तरह से अब तक यूएस में कोरोना से पीड़ित होने वाले मरीजों की संख्या 9 तक पहुंच गई है। जिस महिला में कोरोना के वायरस पाए गए हैं फिलहाल उसका इलाज साउथ लंदन के गाइ एंड सेंट थॉमस अस्पताल में इलाज चल रहा है।

माना जाता है कि वो महिला कुछ दिन पहले ही चीन से वापस लौटी है, उसी वजह से उसमें कोरोना के लक्षण पाए गए हैं। मेलऑनलाइन की रिपोर्ट के अनुसार गुरूवार की दोपहर को महिला में कोरोना के लक्षण पाए गए उसके बाद उसका इलाज शुरू किया गया। इंग्लैंड के मुख्य चिकित्सा अधिकारी प्रोफेसर क्रिस व्हिट्टी ने मामले की पुष्टि की। इंग्लैंड में एक और मरीज ने उपन्यास कोरोनवायरस (COVID-19) के लिए सकारात्मक परीक्षण किया है, जिससे ब्रिटेन में कुल मामलों की संख्या नौ हो गई है।

यह वायरस चीन में फैला था, उसके बाद इसने बाकी दुनिया के लोगों को संक्रमित किया है। जिस महिला में कोरोना के लक्षण पाए गए उसे अब लंदन के गाइ एंड सेंट थॉमस के विशेषज्ञ एनएचएस सेंटर में स्थानांतरित कर दिया गया है। लंदन में कोरोना के लक्षण वाले मरीज को पाए जाने के बाद अब ये कहा जा रहा है कि इस मामले से वहां पर दहशत फैल सकती है।

स्वास्थ्य सचिव मैट हैनकॉक ने इस हफ्ते की शुरुआत में कहा था कि कोरोनावायरस का प्रकोप ब्रिटिश जनता के लिए एक गंभीर खतरा है। ताजा मामला यह है कि सभी 83 लोगों को वायरल में अर्रोवे पार्क अस्पताल में रखा गया था, उन्हें वायरस से मुक्त घोषित किया गया था। 

जो मरीज ठीक हो गए हैं वो अपना आवास छोड़ सकेंगे। इसके अलावा जिन लोगों को अपार्टमेंट के एक ब्लॉक में रखा जा रहा था, उन सभी का टेस्ट किया गया, मगर इनमें कोरोना के लक्षण नहीं पाए गए थे।