This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.
OK

रूस ने फेसबुक, ट्विटर व टेलीग्राम पर लगाया जुर्माना, इंटरनेट पर नियंत्रण की दिशा में सख्त कदम

रूस ने इंटरनेट पर नियंत्रण की दिशा में सख्त कदम उठाया है। इसके तहत विदेशी इंटरनेट कंपनियों के लिए रूस में पूर्णकालिक दफ्तर खोलना अनिवार्य कर दिया गया है। कंपनियों को उनके क्षेत्र में ही रूसी नागरिकों से संबंधित डाटा का संग्रह करना होगा।

Monika MinalWed, 15 Sep 2021 01:08 AM (IST)
रूस ने फेसबुक, ट्विटर व टेलीग्राम पर लगाया जुर्माना, इंटरनेट पर नियंत्रण की दिशा में सख्त कदम

मास्को, रायटर।  रूस (Russia) की एक अदालत ने मंगलवार को कहा कि उसने अवैध सामग्री नहीं हटाए जाने पर अमेरिकी मीडिया कंपनियों फेसबुक व ट्विटर तथा मैसेजिंग एप टेलीग्राम पर जुर्माना लगाया है। टैगांस्की जिला अदालत ने बताया कि फेसबुक पर पांच मामलों में कुल 2.1 करोड़ रूबल (करीब 2.12 करोड़ रुपये) का जुर्माना लगाया गया है, जबकि ट्विटर को दो मामलों में कुल 50 लाख रूबल (करीब 50.49 लाख रुपये) का जुर्माना अदा करना होगा। कोर्ट ने मैसेजिंग एप टेलीग्राम पर भी 90 लाख रूबल (करीब 90.88 लाख रुपये) का जुर्माना लगाया है। इस मामले में फेसबुक, ट्विटर व टेलीग्राम ने अभी कोई प्रतिक्रिया नहीं दी है।

रूस ने इंटरनेट पर नियंत्रण की दिशा में सख्त कदम उठाते हुए विदेशी इंटरनेट कंपनियों के लिए अपने देश में पूर्णकालिक दफ्तर खोलना अनिवार्य कर दिया है। कंपनियों को उनके क्षेत्र में ही रूसी नागरिकों से संबंधित डाटा का संग्रह करना होगा।

इससे पहले भी लग चुका है जुर्माना

इसी साल जून में रूस के अधिकारियों ने प्रतिबंधित सामग्री हटाने में कथित तौर पर विफलता के कारण फेसबुक और टेलीग्राम एप पर जुर्माना लगाया था। मास्को की अदालत ने फेसबुक पर 1.7 करोड़ रूबल और टेलीग्राम पर एक करोड़ रूबल का जुर्माना लगाया था। इससे पहले 25 मई को रूसी अधिकारियों ने गैरकानूनी समझी जाने वाली सामग्री नहीं हटाने के मामले में फेसबुक पर 2.6 करोड़ रूबल का जुर्माना लगाया था। वहीं, अप्रैल में प्रदर्शन का आह्वान करने वाली सामग्री नहीं हटाने के लिए टेलीग्राम पर 50 लाख रूबल का जुर्माना लगाया गया था।इस साल की शुरुआत में, रूस की सरकारी संचार निगरानी संस्था ‘रोसकोम्नाडज़ोर’ ने ट्विटर को गैरकानूनी सामग्री हटाने में कथित तौर पर विफल रहने के मामले में प्रतिबंध लगाने की धमकी दी थी। अधिकारियों ने कहा था कि मंच बच्चों को आत्महत्या के लिए प्रेरित करने वाली सामग्री, मादक पदार्थ और ‘चाइल्ड पोर्नोग्राफी’ से जुड़ी जानकारी को हटाने में विफल रहा है।

Edited By: Monika Minal