Russia-Ukraine War: स्नेक आइलैंड छोड़ने के बाद ओडेसा के पास रूस ने की मिसाइलों की बारिश, 18 की मौत

Russia-Ukraine War रूसी सेना द्वारा दागी गई मिसाइल का असर इतना ज्यादा था कि एक इमारत देखते ही देखते धराशाई हो गई। इस हमले में 18 लोगों की मौत हो गई है। वहीं आपातकालीन विभाग मलबे में दबे और लोगों की तलाश कर रहा है।

Mahen KhannaPublish: Fri, 01 Jul 2022 04:24 PM (IST)Updated: Fri, 01 Jul 2022 04:24 PM (IST)
Russia-Ukraine War: स्नेक आइलैंड छोड़ने के बाद ओडेसा के पास रूस ने की मिसाइलों की बारिश, 18 की मौत

कीव, रायटर। रूस-यूक्रेन में जारी युद्ध थमने का नाम नहीं ले रहा है। रूसी सेना लगातार हमले करने पर लगी है। इसी के तहत रूस ने शुक्रवार को ओडेसा के यूक्रेन के काला सागर बंदरगाह के पास मिसाइलों की बारिश कर दी। एक अपार्टमेंट की इमारत और एक रिसार्ट को इस हमले में रूसी सेना ने धराशाई कर दिया। इस हमले में यूक्रेन के 18 लोगों की मौत हो गई। यूक्रेन की आपातकालीन सेवाओं द्वारा जारी तस्वीरों में दिखाया गया है कि यूक्रेन के दमकलकर्मी इमारत के मलबे के नीचे दबे लोगों की तलाश कर रही है।

अब तक हजारों लोगों की गई जान

24 फरवरी से रूस द्वारा यूक्रेन पर किए गए आक्रमण के बाद से हजारों नागरिक मारे गए हैं। बता दें कि एक दिन पहले ही रूस ने स्नेक आइलैंड से अपने सैनिकों को वापिस ले लिया है। यह आइलैंड एक उजाड़ लेकिन रणनीतिक रूप से महत्वपूर्ण क्षेत्र पर है जिसे रूस ने युद्ध के पहले दिन जब्त कर लिया था और पूर्वोत्तर काला सागर को नियंत्रित करने के लिए इस्तेमाल किया था।

जेलेंस्की ने वीडियो संदेश जारी किया

वहीं रूस द्वारा स्नेक आइलैंड से सेना को वापिस लेने के निर्णय को राष्ट्रपति वलोडिमिर जेलेंस्की ने वीडियो संदेश में एक रणनीतिक जीत बताया है। इसी के साथ जेलेंस्की ने दावा किया कि उनकी सेना कदम दर कदम, रूसी सेना को अपने समुद्र, अपनी जमीन से पीछे धकेलेंगे। लंबी दूरी की मिसाइलों का उपयोग करते हुए ओडेसा पर हमला उस समय किया गया जब रूस ने स्नेक आइलैंड से अपने पैर पीछे खीचे हैं।

पहले भी भीड़ भरे शापिंग माल में दागी थी मिसाइल

रूसी सेना ने इससे पहले भी कई हमले किए हैं। हाल ही में एक भीड़ भरे शापिंग माल में कम से कम 19 लोग मारे गए थे। वहीं मिसाइल अटैक करने वाले मास्को का कहना है कि वह सैन्य ठिकानों पर हमला कर रहा था। कीव ने हमलों को युद्ध अपराध बताया है। यूक्रेन के एक जनरल ने गुरुवार को कहा कि रूस भले ही सैन्य ठिकानों को निशाना बनाने की कोशिश कर रहा हो, लेकिन आबादी वाले इलाकों में मिसाइलें दागकर नागरिकों को मारा जा रहा है।

Edited By Mahen Khanna

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept