This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.
OK

फलस्तीनी हमलों से थर्राया इजरायल, गाजा में कई इमारतें ध्वस्त, 53 की मौत; हमास के शीर्ष कमांडर सहित 16 ढेर

इजरायल और फलस्तीन के बीच जंग तेज हो गई। इजरायल के तेल अवीव सहित कई शहरों पर राकेट से हमले किए गए। चरमपंथी हमास ने गाजा से एक हजार से अधिक राकेट इजरायल पर दागे हैं। इजरायल ने भी युद्ध में अपने लड़ाकू विमानों को उतार दिया है।

Bhupendra SinghThu, 13 May 2021 01:49 AM (IST)
फलस्तीनी हमलों से थर्राया इजरायल, गाजा में कई इमारतें ध्वस्त, 53 की मौत; हमास के शीर्ष कमांडर सहित 16 ढेर

यरुशलम, एजेंसियां। इजरायल और फलस्तीन के बीच जंग तेज हो गई है। इजरायल के तेल अवीव सहित कई शहरों पर राकेट से हमले किए गए हैं। चरमपंथी हमास ने गाजा से एक हजार से अधिक राकेट इजरायल पर दागे हैं। इजरायल ने भी युद्ध में अपने लड़ाकू विमानों को उतार दिया है। उसने गाजापट्टी पर हवाई हमले में हमास की मिलिट्री विंग के शीर्ष कमांडर सहित 16 सदस्यों को मार गिराया है। हमास ने इसकी पुष्टि की है। इजरायल ने हमास नेताओं के दफ्तरों और घरों पर कई हमले किए ।

13 बच्चे और तीन महिलाओं समेत 53 की मौत: गाजा का स्वास्थ्य मंत्रालय

गाजा के स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार मरने वालों की संख्या 53 हो गई है। इनमें 13 बच्चे और तीन महिलाएं शामिल हैं। करीब तीन सौ लोग घायल भी हुए हैं। इजरायल ने भी अपने यहां छह लोगों के मरने की पुष्टि की है।

2014 के बाद इजरायल और फलस्तीन के बीच भीषण संघर्ष पहली बार

2014 के बाद दोनों के बीच इतना भीषण संघर्ष पहली बार हुआ है। इजरायल के हमले से गाजा में एक सात मंजिला इमारत ध्वस्त हो गई वहीं एक अन्य इमारत बुरी तरह क्षतिग्रस्त हुई है।

इजरायल बौखला गया, रातभर सायरनों की आवाज और धमाकों से लोग बेचैन

गाजापट्टी पर हो रहे हमले के बीच लोगों ने कहा कि इजरायल अब बौखला गया है। हमलों से इजरायली जनता की भी नींद उड़ी हुई है। रातभर सायरनों की आवाज और धमाकों से लोग बेचैन हैं।

Qatar Sends Palestinians Aid After Deadly Gaza Clash With Israel - WSJ

हमास का दावा- इजरायल के शहरों में दागे दो सौ से ज्यादा राकेट

हमास ने दावा किया है कि उसने इजरायल के तेल अवीव, बेर्शेबा, अश्केलोन और अशदोद शहर में दो सौ से ज्यादा राकेट दागे हैं। इस संघर्ष को देखते हुए पूर्वी यरुशलम से फलस्तीन परिवारों को हटाने के लिए चल रही कोर्ट की सुनवाई भी स्थगित कर दी गई है।

इजरायली सैनिक की मौत

गाजा पट्टी के निकट इजरायली टैंक पर एंटी टैंक मिसाइल का हमला होने से एक इजरायली सैनिक स्टाफ सार्जेट उमर ताबिब की मौत हो गई। तीन दिन से जारी इस संघर्ष में किसी इजरायली सैनिक की यह पहली मौत है।

विदेशी पत्रकारों पर रोक

इजरायल ने गाजा पट्टी की तरफ जाने वाले एरेज बार्डर तक पहुंचने पर विदेशी पत्रकारों को प्रतिबंधित कर दिया है।

पाकिस्तान फलस्तीन के साथ

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने कहा है कि उनका देश फलस्तीन के साथ है। इजरायल को फलस्तीन के साथ अत्याचार बंद करना चाहिए।

न्यूयार्क में भी भिड़े इजरायल और फलस्तीन समर्थक

न्यूयार्क में इजरायल के वाणिज्य दूतावास के सामने भी हजारों इजरायल और फलस्तीन समर्थक आमने-सामने आ गए। यहां ¨हसा की कोई घटना नहीं हुई लेकिन दोनों ओर से काफी देर तक नारेबाजी होती रही।

तत्काल रोकी जाए हिंसा : भारत 

इजरायल और फलस्तीनी आतंकवादियों के चल रहे भीषण टकराव पर भारत ने सभी हिंसक गतिविधियों खासकर गाजा से राकेट हमलों की निंदा करते हुए संघर्ष को फौरन रोके जाने की जरूरत बताई है।

भारत हिंसा के सभी कृत्यों की निंदा करता

संयुक्त राष्ट्र में भारत के स्थायी प्रतिनिधि टी.एस.तिरुमूर्ति ने बुधवार को ट्वीट किया कि पूर्वी यरुशलम की घटनाओं पर सुरक्षा परिषद की बैठक के दौरान, उन्होंने कहा कि भारत हिंसा के सभी कृत्यों विशेषकर गाजा से राकेट हमलों की निंदा करता है।

इजराइल में एक भारतीय नागरिक की मौत, सभी पक्ष हिंसक कार्रवाई को बंद करें

उन्होंने इजराइल में एक भारतीय नागरिक की मृत्यु पर शोक जताया और जोर देकर कहा कि यह वक्त का तकाजा है वहां सभी पक्ष हिंसक कार्रवाई को बंद करें।

गाजा हमले में इजरायल में भारतीय महिला सौम्या की मौत

अधिकारियों के मुताबिक, गाजा की ओर से किए गए हमले में इजरायल में भारतीय महिला सौम्या संतोष मौत हो गई। केरल के इदुक्की जिले की रहने वाले संतोष इजरायल के तटीय शहर अश्केलोन के एक घर में बूढ़ी महिला की आया के रूप में काम कर रही थीं।

एर्दोगन ने पुतिन से कहा- इजरायल को सबक सिखाने की जरूरत

इस बीच एक महत्वपूर्ण घटनाक्रम में तुर्की के राष्ट्रपति एर्दोगन रेसेप तैय्यप ने रूस के राष्ट्रपति व्लादिमिर पुतिन से इजरायल को कड़ा सबक सिखाने की बात कही है। फलस्तीनियों पर हमले से खफा एर्दोगन ने बुधवार को फोन से पुतिन से बात की और उनसे कहा कि अंतरराष्ट्रीय समुदाय को इजरायल को ऐसा सबक सिखाना चाहिए कि वह फिर कभी इस तरह की हिमाकत न कर सके।

Edited By: Bhupendra Singh