भारतीय मूल के राजा कुमार बने FATF के अध्यक्ष, मनी लांड्रिंग और टेरर फंडिंग पर कसेंगे लगाम

FATF ने शुक्रवार को ट्वीट किया कि वह वैश्विक एंटी मनी लांड्रिंग और आतंकवादरोधी वित्तपोषण उपायों की प्रभावशीलता को बढ़ाने संपत्ति की वसूली में सुधार और अन्य पहलों पर ध्यान केंद्रित करेंगे। उनके पास नेतृत्व और संचालन का लंबा अनुभव है। राजा कुमार सिंगापुर के रहने वाले हैं।

Arun Kumar SinghPublish: Sat, 02 Jul 2022 01:02 AM (IST)Updated: Sat, 02 Jul 2022 01:09 AM (IST)
भारतीय मूल के राजा कुमार बने FATF के अध्यक्ष, मनी लांड्रिंग और टेरर फंडिंग पर कसेंगे लगाम

पेरिस, एएनआइ। भारतीय मूल के राजा कुमार फाइनेंशियल एक्शन टास्क फोर्स (FATF) के अध्यक्ष बन गए हैं। शुक्रवार को उन्होंने मनी लांड्रिंग और टेरर फंडिंग रोकने के लिए गठित इस एजेंसी का कार्यभार भी संभाल लिया।

FATF ने शुक्रवार को ट्वीट किया कि एफएटीएफ ने कहा कि वह वैश्विक एंटी मनी लांड्रिंग और आतंकवादरोधी वित्तपोषण उपायों की प्रभावशीलता को बढ़ाने, संपत्ति की वसूली में सुधार और अन्य पहलों पर ध्यान केंद्रित करेंगे। FATF एक वैश्विक निगरानी संस्था है जिसे मनी लांन्ड्रिंग और आतंकवादी वित्तपोषण से निपटने का काम सौंपा गया है।

राजा कुमार की खासियत

- उनके पास नेतृत्व और संचालन का लंबा अनुभव है। राजा कुमार सिंगापुर के रहने वाले हैं। वह सिंगापुर के गृह मंत्रालय और सिंगापुर पुलिस में 35 साल से अधिक समय तक काम कर चुके हैं। वर्तमान में वह गृह मंत्रालय में वरिष्ठ सलाहकार (अंतरराष्ट्रीय) के रूप में काम कर रहे थे।

- राजा कुमार डिप्टी कमिश्नर ऑफ पुलिस (नीति), पुलिस खुफिया विभाग के निदेशक और वाणिज्यिक मामलों के विभाग के वरिष्ठ उप निदेशक भी हैं।

- इससे पहले वह जनवरी 2015 से जुलाई 2021 तक मंत्रालय में उप सचिव (अंतरराष्ट्रीय) थे। साथ ही 2014 से 2018 के बीच गृह मंत्रालय की टीम अकादमी के मुख्य कार्यकारी अधिकारी थे।

- उप सचिव (अंतरराष्ट्रीय) के रूप में राजा कुमार ने सुरक्षा और सुरक्षा क्षेत्र में प्रमुख समकक्षों के साथ मजबूत सहयोगी संबंध बनाए, जिसमें इंटरपोल और यूएन जैसे रणनीतिक साझेदार शामिल हैं।

- राजा कुमार ने कैसीनो नियामक प्राधिकरण के अग्रणी मुख्य कार्यकारी के रूप में कार्य किया और सिंगापुर में नए कैसीनो के लिए एक मजबूत नियामक ढांचा तैयार किया, जिसमें एंटी मनी लॉन्ड्रिंग और टेररिज्म फाइनेंसिंग (एएमएल/सीएफटी) का मुकाबला करना शामिल है।

Edited By Arun Kumar Singh

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept