लोकप्रियता के ग्राफ में 'नमो' का बजा डंका, दुनिया के नंबर-1 नेता बने मोदी, जानें 10 बड़े नेताओं का हाल

पीएम मोदी को इस लिस्‍ट में 71 फीसद अप्रूवल रेटिंग मिली है। इस सर्वे में दुनिया के अन्‍य ग्‍लोबल लीडर्स उनसे कहीं पीछे हैं। आइए जानते हैं कि इस सर्वे में अमेरिकी राष्‍ट्रपति जो बाइडन और चीन के राष्‍ट्रपति शी चिनफ‍िंग समेत दुनिया के अन्‍य नेताओं की क्‍या स्थिति है।

Ramesh MishraPublish: Fri, 21 Jan 2022 01:16 PM (IST)Updated: Fri, 21 Jan 2022 01:39 PM (IST)
लोकप्रियता के ग्राफ में 'नमो' का बजा डंका, दुनिया के नंबर-1 नेता बने मोदी, जानें 10 बड़े नेताओं का हाल

नई दिल्‍ली, जेएनएन। एक बार फ‍िर भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी दुनिया के एक लोकप्रिय नेता के रूप में प्रतिष्ठित हुए है। नमो का डंका पूरी दुनिया में बज रहा है। ग्‍लोबल पापु‍लरिटी में एक बार फ‍िर पीएम मोदी नंबर एक स्‍थान पर बने हुए हैं। लोकप्रियता के सर्वे के दौरान ग्लोबल वर्ल्ड लीडर्स लिस्ट में मोदी को पहले नंबर पर चुना गया है। पीएम मोदी को इस लिस्‍ट में 71 फीसद अप्रूवल रेटिंग मिली है। इस सर्वे में दुनिया के अन्‍य ग्‍लोबल लीडर्स उनसे कहीं पीछे हैं। इस सर्वे को मार्निंग कंसल्‍प पालिटिक्‍ल इंटेलिजेंस ने जारी किया है। आइए जानते हैं कि इस सर्वे में दूसरे स्‍थान पर कौन है। अमेरिकी राष्‍ट्रपति जो बाइडन और चीन के राष्‍ट्रपति शी चिनफ‍िंग समेत दुनिया के अन्‍य नेताओं की क्‍या स्थिति है।

सर्वे में पीएम मोदी पहले स्‍थान, जानें 10 प्रमुख नेताओं का हाल

1- इस सर्वे में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 71 फीसद लोगों के समर्थन के साथ वह पहले स्‍थान पर है। इस सर्वे में सात फीसद लोग तटस्‍थ रहे और 21 फीसद लोगों ने पीएम मोदी को खारिज किया है। 66 फीसद समर्थन के साथ मेक्सिको के राष्‍ट्रपति आंद्रेस मैनुएल लोपेज ओब्रादर दूसरे स्‍थान पर रहे। तीसरे स्‍थान पर इटली के प्रधानमंत्री मारिया द्राघी है। उनको 60 फीसद लोगों का समर्थन मिला है। सात फीसद लोग तटस्‍थ रहे और 33 फीसद लोगों ने द्राघी का समर्थन नहीं किया।

2- अमेरिकी राष्‍ट्रपति जो बाइडन सातवें पायदान पर हैं। उनकी रेटिंग में काफी गिरावट आई है। 43 फीसद लोगों ने बाइडन का समर्थन किया है। आठ फीसद तटस्‍थ रहे और 49 फीसद लोगों ने बाइडन का विरोध किया है। लोकप्रियता सर्वे में ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोर‍िस जानसन 10वें स्‍थान पर है। 26 फीसद लोगों ने उनका समर्थन किया है, जबकि पांच फीसद लोग तटस्‍थ रहे और 69 फीसद लोग उनके विरोध में हैं। चौथे स्‍थान पर जापान के प्रधानमंत्री फुमियो किशिदा हैं। किशिदा को 48 फीसद लोगों ने समर्थन किया है।

3- 16 फीसद लोग तटस्‍थ रहे जबकि 36 फीसद लोग जापानी प्रधानमंत्री के विरोध में रहे। जर्मनी के आल्‍फ स्‍कल्‍ज को 44 फीसद लोगों का समर्थन मिला, जबकि 15 फीसद लोग तटस्‍थ रहे। 40 फीसद लोगों ने स्‍कल्‍ज का विरोध किया।

सितंबर के सर्वे में भी पीमए मोदी नंबर वन नेता बने

5 सितंबर को अमेरिका की डेटा इंटेलीजेंस फर्म मार्निंग कंसल्ट के सर्वे में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को दुनिया का सबसे पसंदीदा नेता चुना गया था। प्रधानमंत्री मोदी अप्रूवल रेटिंग के मामले में वैश्विक नेताओं की लिस्ट में पहले स्थान पर हैं। मोदी ने अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन और ब्रिटिश प्रधानमंत्री बोरिस जानसन को भी इस मामले में पीछे छोड़ दिया है। रिपोर्ट के मुताबिक पीएम मोदी की अप्रूवल रेटिंग 70 फीसद है और यह रेटिंग दुनिया के शीर्ष 13 नेताओं में सबसे ज्यादा है। इस सर्वे के मुताबिक पीएम मोदी दूसरे वैश्विक नेताओं की तुलना में बेहतर काम कर रहे हैं। पीएम मोदी के अतिरिक्त विश्व के सिर्फ दो नेताओं को 60 से अधिक की रेटिंग मिली थी। इस लिस्ट में पीए मोदी के बाद दूसरे नंबर मेक्सिको के राष्ट्रपति आंद्रेज मैनुएल लोपेज ओबराडोर थे। तीसरे नंबर पर इटली के प्रधानमंत्री मारियो द्रागी है। अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन इस अप्रूवल लिस्ट में पांचवें स्थान पर थे। बाइडन की अप्रूवल रेटिंग 50 से भी कम थी। उनकी रेटिंग 48 थी।

मोदी की डिसअप्रूवल रेटिंग में गिरावट

जून, 2021 में जारी हुई अप्रूवल रेटिंग की तुलना में इस बार प्रधानमंत्री मोदी की अप्रूवल रेटिंग ज्यादा बेहतर हुई। गौरतलब है कि जून में पीएम मोदी की अप्रूवल रेटिंग 66 फीसद थी। ऐसा नहीं है कि मोदी की अप्रूवल रेटिंग में ही इजाफा हुआ है, बल्कि उनकी डिसअप्रूवल रेटिंग में गिरावट भी आई थी। करीब 25 फीसद की गिरावट के साथ अब यह लिस्ट में सबसे निचले स्थान पर थे।

ऐसे किया जाता है सर्वे

कंपनी द्वारा जो सैंपल साइज लिया गया है, उसमें कुछ लोगों को चुना जाता है। उनसे कुछ सवालों पर बात की जाती है। मार्निंग कंसल्ट द्वारा ये सर्वे काफी जटिल तरीके से किया जाता है। इसमें कंपनी के पास रियल टाइम पोलिंग डाटा, पालिटिकल इलेक्शन डाटा, चुने हुए प्रतिनिधियों का डाटा और चुनावी मुद्दे होते हैं। सर्वे के लिए 11 हजार से अधिक साक्षात्‍कार दुनियाभर में किए जाते हैं, जबकि करीब पांच हजार साक्षात्‍कार अमेरिका में राष्ट्रपति और कांग्रेसमैन की अप्रूवल रेटिंग के लिए किए जाते हैं। डेली ग्लोबल सर्वे सात दिन के मूविंग एवरेज पर आधारित होता है। ये सभी साक्षात्‍कार आनलाइन किए जाते हैं, जिसमें सर्वे फिलिंग होती है। भारत में जितने भी साक्षात्‍कार हुए हैं, सभी शिक्षित लोगों से किए गए हैं।

Edited By Ramesh Mishra

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept
ट्रेंडिंग न्यूज़

मौसम