Covid-19 Outbreak In North Korea: कोविड -19 के चलते उत्तर कोरिया कर रहा अपने इतिहास की सबसे बड़ी चुनौती का सामना: किम जोंग उन

उत्तर कोरिया में कोरोना के दस्तक से तानशाह नेता किम जोंग उन परेशान हैं। बढ़ते मामलों के बीच नेता किम जोंग उन ने इस कोरोना प्रकोप को देश की आजादी बाद अबतक का सबसे गंभीर चुनौती कहा है।लाखों मामले आने से सरकार ने देश में आपातकाल की घोषणा की है।

Babli KumariPublish: Sat, 14 May 2022 10:08 AM (IST)Updated: Sat, 14 May 2022 10:39 AM (IST)
Covid-19 Outbreak In North Korea: कोविड -19 के चलते उत्तर कोरिया कर रहा अपने इतिहास की सबसे बड़ी चुनौती का सामना: किम जोंग उन

प्योंगयांग, एएनआइ। कोरोना पिछले दो सालों से पूरे विश्व को अपने चपेट में ले रखा है। उत्तर कोरिया ने पिछले दो सालों के दौरान एक भी कोरोना संक्रमण न होने की बात कर रहा था। लेकिन कोरिया सरकार ने देश में कोरोना की दस्तक की बात कबूल ली है। किम जोंग उन सरकार ने सार्वजनिक तौर पर देश में कोरोना होने की पुष्टि की है। कोरिया ने बीते दिनों माना की कोरोना से पहली मौत देश में हो चुकी है, और लाखों लोग अज्ञात बुखार से पीड़ित हैं। 

सरकारी समाचार एजेंसी KCNA के अनुसार, किम जोंग उन ने उत्तर कोरिया में  COVID-19 के संक्रमण मामलों को देश के आजादी के बाद का सबसे गंभीर आपातकाल बताया है। किम जोंग उन ने कहा 'देश को गणतंत्र की स्थापना के बाद से सबसे बड़ी चुनौती का सामना करना पड़ रहा है।'

संक्रमितों की संख्यां पांच लाख के पार 

केसीएनए के अनुसार, किम ने कहा कि देश को कोरोनोवायरस विरोधी उपायों को लागू करने पर ध्यान देना चाहिए और बीमारी के प्रसार को रोकने के लिए उन्हें बढ़ावा देना चाहिए। केसीएनए समाचार एजेंसी के अनुसार, देश में 17,400 नए कोविड ​​​​-19 मामले दर्ज किए गए हैं, जिसमें संक्रमणों की कुल संख्या 520,000 हो गई है।

देश में कोरोना से 1 की मौत 

विशेष रूप से, स्पुतनिक न्यूज एजेंसी के अनुसार, कोरोनोवायरस मामलों के कारण 21 नए लोगों की मौत भी हुई। उत्तर कोरिया ने शुक्रवार को पहली कोरोनोवायरस मौतों की सूचना दी। देश में कल कम से कम छह लोगों के मारे जाने की पुष्टि हुई थी।

देश में आपातकाल की घोषणा 

कोरियन सेंट्रल न्यूज एजेंसी (KCNA) के अनुसार, उत्तर कोरिया में कोरोना विस्फोट के बाद हलचल पैदा हो गयी है। रोज नए बढ़ते मामलों के कारण सरकार ने सख्त कदम उठाने शुरू कर दिए हैं। बीते गुरुवार को कोरोना के ओमिक्रोण वैरिएंट मामले की रिपोर्ट से सरकार ने 'प्रमुख राष्ट्रीय आपातकाल' की घोषणा की है। नेता किम जोंग उन ने देश में कोरोना और अज्ञात बुखार पर काबू पाने के लिए 'अधिकतम आपातकालीन' वायरस नियंत्रण प्रणाली को अपनाया है। किम जोंग उन ने उत्तर कोरिया से वायरस को 'समाप्त' करने का संकल्प लिया। इसके साथ ही उत्तर कोरिया का कोरोनावायरस मुक्त दावा समाप्त हो गया है।

किम ने प्रतिज्ञा की कि 'अप्रत्याशित संकट' को दूर किया जाएगा। उन्होंने आगे सभी अधिकारियों को वायरस के प्रसार को रोकने के लिए हर संभावना को अवरुद्ध करने का निर्देश दिया।

योनहाप समाचार एजेंसी के अनुसार, उत्तर कोरियाई नेता ने देश की राष्ट्रीय रक्षा में 'सुरक्षा वैक्यूम' को रोकने के लिए सभी मोर्चों, वायु और समुद्र पर सख्त सीमा चौकसी का आदेश दिया। उत्तर कोरियाई अधिकारियों ने यह भी कहा कि बुखार से पीड़ित मरीजों से एकत्र किए गए नमूने ओमाइक्रोन प्रकार के समान थे।

हालांकि, उत्तर कोरिया ने जोर देकर कहा कि वह वायरस के प्रसार को नियंत्रित करने और रोकने की कोशिश कर रहा है। सरकारी मीडिया ने आगे बताया कि देश 'कम से कम समय में संक्रमण के स्रोत को जड़ से खत्म करने' के लिए ओमाइक्रोन-पहचाने गए रोगियों को उपचार प्रदान करेगा।

Edited By Babli Kumari

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept
ट्रेंडिंग न्यूज़

मौसम