This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.
OK

इजराइल की भीषण बमबारी से कांपा गाजा शहर, अब तक 201 फलस्तीनियों की मौत, सैंकड़ों घायल

Israel Palestine War इजरायल-फलस्तीन के बीच छिड़ी लड़ाई के थमने के आसार फिलहाल नजर नहीं आ रही हैं। समाचार एजेंसी एपी की रिपोर्ट के मुताबिक इजराइली लड़ाकू विमानों ने गाजा सिटी में कई जगहों पर भीषण बमबारी की।

Krishna Bihari SinghTue, 18 May 2021 06:51 AM (IST)
इजराइल की भीषण बमबारी से कांपा गाजा शहर, अब तक 201 फलस्तीनियों की मौत, सैंकड़ों घायल

गाजा सिटी, एजेंसियां। इजरायल के लड़ाकू विमान सोमवार तड़के गाजा पट्टी इलाके में फिर गरजे और आतंकी संगठन हमास के ठिकानों को निशाना बनाया गया। हवाई हमले में टनल और हमास के ठिकानों पर जमकर बमबारी की गई। यह टनल आतंकियों के लिए पनाहगाह थी। इजरायली सेना ने बताया कि हमास की 15 किलोमीटर लंबी टनल और इसके नौ कमांडरों के घरों को उड़ा दिया गया। हमास के एक शीर्ष कमांडर को भी ढेर कर दिया गया।

दस मई से जारी है संघर्ष 

गाजा पट्टी पर शासन करने वाले हमास और इजरायल के बीच दस मई से संघर्ष चल रहा है। इस इलाके में सोमवार को किया गया हवाई हमला सबसे भीषण बताया जा रहा है। एक दिन पहले गाजा सिटी में किए गए हवाई हमले में 42 लोगों की मौत हुई थी और तीन इमारतें ध्वस्त हुई थीं। हालांकि ताजा हवाई हमले में हताहतों के बारे में अभी कोई जानकारी नहीं मिली है। 

नौ घरों को निशाना बनाया 

इजरायली सेना ने बताया कि उत्तरी गाजा के विभिन्न इलाकों में हमास के शीर्ष कमांडरों के नौ घरों को निशाना गया। इसके कमांडर हुसाम अबू हरबीद को मार गिराया गया। वह इजरायली नागरिकों के खिलाफ कई आतंकी हमलों के लिए जिम्मेदार था।

...और बिगड़ सकते हैं हालात 

इजरायल के ताजा हवाई हमले में गाजा सिटी में एक तीन मंजिली इमारत ध्वस्त हो गई लेकिन इसमें रहने वाले लोगों ने बताया कि हमले से पहले ही इमारत को खाली कर दिया गया था। अलजजीरा टीवी ने गाजा के मेयर याहया सराज के हवाले से बताया कि हवाई हमले में सड़कों और दूसरे ढांचों को काफी नुकसान पहुंचा है। अगर संघर्ष इसी तरह चलता रहा तो स्थिति खराब हो सकती है।

हजारों की संख्या में दागे गए रॉकेट

इजरायल और हमास के बीच संघर्ष शुरू होने के बाद से अब तक हजारों की संख्या में एक-दूसरे पर रॉकेट दागे जा चुके हैं। इजरायली सेना ने बताया है कि वह हमास के ठिकानों को निशाना बना सैकड़ों हवाई हमले कर चुकी है। जबकि गाजा की ओर से इजरायल में 3,100 से अधिक रॉकेट दागे गए।

हमले में 201 लोगों की मौत

गाजा के स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार, अब तक के हमले में 58 बच्चों और 35 महिलाओं समेत 201 फलस्तीनियों की मौत हुई है। इधर, इजरायल में एक पांच वर्षीय बच्चे और एक सैनिक समेत आठ लोगों की जान गई है।

संघर्ष विराम के भी चल रहे प्रयास

इजरायल और हमास के बीच छिड़े संघर्ष को बंद कराने के भी प्रयास चल रहे हैं। दोनों में संघर्ष विराम के लिए अमेरिका से लेकर संयुक्त राष्ट्र तक प्रयास कर रहा है। संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद और मुस्लिम देशों के विदेश मंत्रियों ने हिंसा रोकने की मांग को लेकर बैठक की।

अमेरिका ने कही यह बात 

वहीं अमेरिकी विदेश मंत्री एंटोनी ब्लिंकन ने कहा, 'हम संघर्ष खत्म कराने के लिए कूटनीतिक प्रयास कर रहे हैं।' ब्लिंकन ने यह भी बताया कि उन्होंने गाजा में उस इमारत पर हमले के औचित्य को लेकर इजरायल से पूछा है, जिसमें समाचार एजेंसी एसोसिएटेड प्रेस और अलजजीरा समेत कई मीडिया संस्थानों के दफ्तर थे। इजरायली हवाई हमले में इस इमारत को निशाना बनाया गया था। एसोसिएटेड प्रेस ने स्वतंत्र जांच की मांग की है।

Edited By: Krishna Bihari Singh