Wang Yi To Visit Bangladesh, Mongolia: अमेरिका के साथ चल रहे विवाद के बीच चीनी विदेश मंत्री वांग यी बांग्लादेश, मंगोलिया का करेंगे दौरा

चीनी विदेश मंत्री और स्टेट काउंसलर वांग यी 6 से 8 अगस्त तक बांग्लादेश और मंगोलिया का दौरा करेंगे। चीन के विदेश मंत्री यी के निमंत्रण पर कोरिया के विदेश मंत्री जिन और नेपाल के विदेश मामलों के मंत्री खडका 8 अगस्त से 10 अगस्त तक चीन का दौरा करेंगे।

Shashank_MishraPublish: Sat, 06 Aug 2022 05:41 AM (IST)Updated: Sat, 06 Aug 2022 05:41 AM (IST)
Wang Yi To Visit Bangladesh, Mongolia: अमेरिका के साथ चल रहे विवाद के बीच चीनी विदेश मंत्री वांग यी बांग्लादेश, मंगोलिया का करेंगे दौरा

बीजिंग, एजेंसियां। चीनी विदेश मंत्री और स्टेट काउंसलर वांग यी 6 से 8 अगस्त तक बांग्लादेश और मंगोलिया का दौरा करेंगे। चीनी विदेश मंत्रालय की एक प्रेस विज्ञप्ति में विदेश मंत्रालय के हवाले से कहा गया, " बांग्लादेशी विदेश मंत्री एके अब्दुल मोमेन और मंगोलियाई विदेश मंत्री बत्सेत्सेग बटमुंख के निमंत्रण पर स्टेट काउंसलर और विदेश मंत्री वांग यी 6 अगस्त से 8 अगस्त तक दोनों देशों का दौरा करेंगे।" स्टेट काउंसलर और विदेश मंत्री वांग यी के निमंत्रण पर, कोरिया गणराज्य के विदेश मंत्री पार्क जिन और नेपाल के विदेश मामलों के मंत्री नारायण खडका 8 अगस्त से 10 अगस्त तक चीन का दौरा करेंगे। यह यात्रा अमेरिकी हाउस स्पीकर नैन्सी पेलोसी की हालिया ताइवान यात्रा के बाद हो रही है, जिससे क्षेत्र में तनाव बढ़ गया है।

वांग यी ने वाशिंगटन की कार्रवाई को जल्दबाजी बताया

चीन ताइवान जलडमरूमध्य में अब तक का सबसे बड़ा सैन्य अभ्यास कर रहा है, जिसमें वह अपने संप्रभु क्षेत्र के हिस्से के रूप में जीवित मिसाइलों को लान्च करने का दावा करता है। वांग यी ने शुक्रवार को वाशिंगटन को चेतावनी दी कि वह जल्दबाजी में कार्रवाई न करे और अमेरिकी हाउस स्पीकर नैन्सी पेलोसी की ताइवान की एक और यात्रा करके एक बड़ा संकट पैदा करने से बचें। 55वें एसोसिएशन आफ साउथईस्ट एशियन नेशंस (आसियान) के विदेश मंत्रियों की बैठक में बोलते हुए वांग ने कहा, ''अमेरिका को अमेरिकी हाउस स्पीकर की ताइवान की एक और यात्रा की अनुमति देने की गलती करने का कोई अधिकार नहीं है।''

वांग ने कहा, "अमेरिकी सदन के प्रतिनिधि अध्यक्ष पेलोसी ने चीन के कड़े विरोध और हमारे बार-बार संचार की अवहेलना की थी।" क्षेत्र में चीन की कड़ी कार्रवाई का बचाव करते हुए वांग ने कहा, "यह स्वाभाविक है कि चीनी पक्ष को हमारा कड़ा विरोध दिखाना चाहिए।" "वास्तव में, यह पेलोसी की ताइवान यात्रा की अनुमति देने के अमेरिकी सरकार के निर्लज्ज निर्णय के तहत है। इस यात्रा ने चीन की संप्रभुता को गंभीर रूप से प्रभावित किया है, हमारे आंतरिक मामलों में गंभीर रूप से हस्तक्षेप किया है, अमेरिका ने चीन के साथ किए गए वादे का उल्लंघन किया है और ताइवान स्ट्रेट संबंधों को नुकसान पहुंचाया है।"

अमेरिका ने चीन के सैन्य अभ्यास को असंगत बताया

इस बीच, अमेरिकी विदेश मंत्री एंटनी ब्लिंकन ने शुक्रवार को कहा कि पेलोसी की स्वशासित द्वीप की यात्रा के जवाब में ताइवान के आसपास चीन का सैन्य अभ्यास एक असंगत, अनुचित और उत्तेजक वृद्धि है। ब्लिंकन ने आसियान बैठक से इतर एक संवाददाता सम्मेलन में कहा, "इस चरम, अनुपातहीन और तेजतर्रार सैन्य प्रतिक्रिया का कोई औचित्य नहीं है।" तनावपूर्ण स्थिति के बीच क्षेत्रीय शिखर सम्मेलन के दौरान ब्लिंकन ने अपने चीनी समकक्ष वांग यी से मुलाकात नहीं की।

ब्लिंकेन ने शुक्रवार को पूर्वी एशिया शिखर सम्मेलन के बाद कहा, "मुख्य भूमि और ताइवान के बीच मतभेदों को शांति से हल करने की जरूरत है। जबरदस्ती या बल से नहीं, इसलिए चीन पर निर्भर है कि वह उन मतभेदों को शांतिपूर्ण तरीके से हल करना जारी रखे।" ब्लिंकन के बयानों पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए, वांग ने कंबोडियाई राजधानी में विभिन्न आसियान बैठकों के समापन के बाद एक ब्रीफिंग में संयुक्त राज्य अमेरिका को चेतावनी दी कि वह एक बड़ा संकट पैदा करने के लिए जल्दबाजी में कार्य न करे।

वांग ने कहा कि अमेरिका ने "कुछ गलत सूचना फैलाई"। उन्होंने कहा कि अमेरिकी विदेश मंत्री एंटनी ब्लिंकन सच नहीं बोलते थे, इसलिए उन्हें "हवा को साफ करना" पड़ा। वांग ने कहा, "मैंने सुना है कि अमेरिकी विदेश मंत्री ब्लिंकन ने अपना समाचार सम्मेलन आयोजित किया है, और कुछ फर्जी खबरें फैलाई हैं और सच नहीं बोल रहे हैं। इसलिए मेरे लिए हवा को साफ करना और तथ्यों को बताना अधिक महत्वपूर्ण है।

Edited By Shashank_Mishra

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept