This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.
OK

चीन में ऑस्‍ट्रेलियाई लेखक गिरफ्तार, जासूसी का लगा है आरोप

चीन में जनवरी से हिरासत में रखे गए ऑस्ट्रेलियाई लेखक एवं पूर्व चीनी राजनयिक यांग हेंगजून को जासूसी करने के आरोप में औपचारिक तौर पर गिरफ्तार कर लिया गया है।

Monika MinalTue, 27 Aug 2019 11:35 AM (IST)
चीन में ऑस्‍ट्रेलियाई लेखक गिरफ्तार, जासूसी का लगा है आरोप

सिडनी, रायटर्स। कैनबरा व चीन के बीच बढ़ते तनाव के बीच चीन में जन्‍मे ऑस्‍ट्रेलियाई लेखक को जासूसी के संदेह में मंगलवार को गिरफ्तार कर लिया गया। बता दें कि जनवरी से ही वे हिरासत में थे। चीनी राजनयिक से ऑनलाइन पत्रकार व ब्‍लॉगर बने यांग हेंगजुन (Yang Hengjun) को गुआंगझू के दक्षिणी शहर में गिरफ्तार कर लिया गया।

कौन हैं यांग
यांग पूर्व चीनी राजनयिक व लेखक हैं। यांग अपने देश से एक दशक से भी अधिक समय से बाहर हैं। लेकिन चीन के करंट अफेयर्स व अंतरराष्‍ट्रीय संबंधों को लेकर एक पॉपुलर ब्‍लॉग को लिखते रहे हैं। वे चीनी सोशल मीडिया व ट्वीटर पर भी सक्रिय थे जहां उनके 130,000 से अधिक फॉलोअर हैं। जनवरी में न्‍यूयार्क से अपनी पत्‍नी व बच्‍चे के साथ चीन जाने के दौरान गुआंगझू में एयरपोर्ट पर हिरासत में लिए गए।

‘ऑस्ट्रेलियन ब्रॉडकास्टिंग कॉर्पोरेशन’ (एबीसी) की खबर के अनुसार, 54 वर्षीय यांग के खिलाफ चीन की राष्ट्रीय सुरक्षा को खतरा पहुंचाने के मामले में जांच की जा रही थी और उन्हें 23 अगस्त को जासूसी के संदेह में गिरफ्तार किया गया। ऑस्ट्रेलिया की विदेश मंत्री मारिसे पेन ने कहा, ‘ऑस्ट्रेलियाई नागरिक यांग हेंगजुन को चीन में जासूसी के आरोप में औपचारिक तौर पर गिरफ्तार किया गया है और उन्हें आपराधिक हिरासत में रखा जाएगा। बगैर आरोप के यांग को सात महीने से अधिक समय से बीजिंग में हिरासत में रखा गया है।’ उन्‍होंने आगे बताया, ‘चीन ने डॉ. यांग को हिरासत में लेने के कारणों का न खुलासा किया और न उनके परिवार या वकील को उनसे मिलने की अनुमति दी है। चीन में जासूसी की सजा मौत होती है।’ उन्होंने कहा, ‘ इस मुश्किल घड़ी में हमारी संवेदनाएं डॉ. यांग और उनके परिवार के साथ है।’

यह खबर उस वक्‍त आई है जब बीजिंग हांग कांग में सरकार विरोधी प्रदर्शनों के संघर्ष भरे दौर से गुजर रहा है। इस बाबत चीन के विदेश मंत्रालय से कोई खबर नहीं आई है। यांग की पत्‍नी के चीन छोड़ने पर प्रतिबंध लगा दिया गया है जो ऑस्‍ट्रेलिया की स्‍थायी निवासी हैं। चीन में जासूसी संबंधी कानून के तहत दोषी पाए जाने पर तीन साल कैद से लेकर मौत की सजा तक का प्रावधान है। यांग अपने परिवार के साथ न्यूयॉर्क में रहते थे। इस साल जनवरी में वह अपनी पत्नी और बच्चों के साथ चीन के ग्वांगझोउ शहर गए थे।

हालांकि जनवरी से अब तक ऑस्‍ट्रेलियाई दूतावास के अधिकारी यांग से सात बार मिल चुके हैं। यांग के ऑस्‍ट्रेलियाई वकील रॉबर्ट स्‍टेरी ने कहा कि यांग पर जासूसी का एक मामला है जिससे वे इंकार करते हैं और इस आरोप का आधार अज्ञात है।

यह भी पढ़ें: पुलिस ने हांगकांग के हालात को बताया खतरनाक, देर रात तक जारी हिंसा में चली गोली

 

Edited By: Monika Minal