कभी भी पूरी तरह से खत्म नहीं होगा कोरोना, डब्ल्यूएचओ ने किया आगाह- नहीं चेते तो आते रहेंगे हैरान करने वाले वैरिएंट

डब्ल्यूएचओ ने रविवार को कहा कि कोरोना महामारी जिस तरह से विकसित हो रही है उससे पता चलता है कि यह वायरस कभी भी पूरी तरह से खत्म नहीं होगा। हमें यह सीखना होगा कि इसका इलाज कैसे किया जाए...

Krishna Bihari SinghPublish: Mon, 17 Jan 2022 02:39 AM (IST)Updated: Mon, 17 Jan 2022 06:57 AM (IST)
कभी भी पूरी तरह से खत्म नहीं होगा कोरोना, डब्ल्यूएचओ ने किया आगाह- नहीं चेते तो आते रहेंगे हैरान करने वाले वैरिएंट

मास्को, आइएएनएस। विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) ने रविवार को कहा कि कोरोना महामारी जिस तरह से विकसित हो रही है उससे पता चलता है कि यह वायरस कभी भी पूरी तरह से खत्म नहीं होगा। समाचार एजेंसी तास ने सोलोविएव लाइव यूट्यूब चैनल पर रूस में डब्ल्यूएचओ की प्रतिनिधि मेलिता वुजनोविक के हवाले से बताया कि यह वायरस एक स्थानिक बीमारी के रूप में आबादी में संचारित होता रहेगा।

कभी खत्म नहीं होगा कोरोना

उन्होंने कहा कोरोना वायरस एक स्थानिक बीमारी बनने की राह पर है। इसका अर्थ है कि यह कभी खत्म नहीं होगा। हमें यह सीखना होगा कि इसका इलाज कैसे किया जाए और इससे खुद की रक्षा कैसे की जाए।

...नहीं तो हैरान करने वाले वैरिएंट आएंगे

मेलिता वुजनोविक ने कहा कि अभी सबसे अहम संक्रमण को रोकने और इसकी चपेट में आने वालों की संख्या को कम करने की आवश्यकता है। अगर ऐसा नहीं किया जाता है तो नए रूप में वैरिएंट अप्रत्याशित तरीके से सामने आएंगे।

ओमिक्रोन को कम ना आंके

मेलिता वुजनोविक ने यह भी कहा कि अभी तक जो साक्ष्य मिले हैं उससे स्पष्ट होता है कि ओमिक्रोन वैरिएंट अन्य की तुलना में कम गंभीर है लेकिन इसके खतरे को कम करके नहीं आंका जाना चाहिए। कोरोना वायरस को लेकर किसी भी तरह की कोताही भारी पड़ सकती है।

बचाव के उपायों का पालन करना महत्वपूर्ण

मेलिता ने कहा टीकाकरण के अलावा, अब अन्य सुरक्षा उपायों का भी पालन करना अत्यंत महत्वपूर्ण है जिनमें मास्क पहनना और नियमित अंतराल पर इसे बदलना, कमरों को हवादार करना और सीमित स्थानों में लोगों की भीड़ से बचना शामिल है।

रूस में 27 हजार से अधिक नए केस मिले

रूस में इस समय हजारों की संख्या में रोज नए मामले मिल रहे हैं। रविवार को पिछले 24 घंटों में कोरोनो वायरस संक्रमण के 27,179 नए मामले दर्ज किए गए जिससे कुल मामलों की संख्या बढ़कर 1.07 करोड़ हो गई है। इस दौरान 723 लोगों की मौत भी हुई है जिनको मिलाकर मृतकों की संख्या बढ़कर 3,20,634 हो गई है। 

Edited By Krishna Bihari Singh

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept
ट्रेंडिंग न्यूज़

मौसम