पेंटागन ने जारी किया काबुल हवाई हमले का पहला वीडियो, आतंकी समझकर गलती से किया था नागरिकों पर हमला

अमेरिकी रक्षा विभाग (United States Department of Defense) पेंटागन ने काबुल में अमेरिकी ड्रोन के हमले के वीडियो को गुप्त जानकारी की सूची से निकालकर सार्वजनिक कर दिया है। पिछले दिनों हुए इस हमले में दस नागरिक मारे गए थे।

Krishna Bihari SinghPublish: Thu, 20 Jan 2022 07:25 PM (IST)Updated: Thu, 20 Jan 2022 07:32 PM (IST)
पेंटागन ने जारी किया काबुल हवाई हमले का पहला वीडियो, आतंकी समझकर गलती से किया था नागरिकों पर हमला

वाशिंगटन [द न्यूयार्क टाइम्स]। अमेरिकी रक्षा विभाग पेंटागन ने काबुल में अमेरिकी ड्रोन के हमले के वीडियो को गुप्त जानकारी की सूची से निकालकर सार्वजनिक कर दिया है। पिछले दिनों हुए इस हमले में दस नागरिक मारे गए थे। नए वीडियो से साफ है कि अमेरिका ने यह हमला बिना किसी तैयारी के बेहद जल्दबाजी में किया था। इसलिए अफगानिस्तान में बीस साल के युद्ध के दौरान यह उसकी सबसे नाकामयाब कार्रवाई मानी जा रही है।

सेंट्रल कमांड ने अपनी वेबसाइट पर किया जारी

न्यूयार्क टाइम्स ने यह फुटेज स्वतंत्र सूचना कानून के तहत हासिल किया है और अमेरिकी सेंट्रल कमांड ने इस वीडियो को अपनी वेबसाइट पर जारी किया है। 29 अगस्त को हमले की कार्रवाई का यह वीडियो सबसे पहले पेंटागन ने अपनी भूल स्वीकार करते हुए जारी किया है। 25 मिनट के इस वीडियो में दो एमक्यू-9 रीपर ड्रोन हवाई हमला करते नजर आ रहे हैं।

अमेरिकी सेना ने मानी अपनी गलती

इससे हुए मिसाइल हमले में एक रिहाइशी सड़क पर एक नागरिक की कार चपेट में आ गई थी। अमेरिकी सेना ने स्वीकार किया है कि उन्होंने आम लोगों को आइएस आतंकी समझने की भूल कर ली थी। उन्हें लगा था कि वह लोग काबुल एयरपोर्ट पर हमला करने जा रहे हैं। आपाधापी में एयरपोर्ट खाली कराया जा रहा था। उससे तीन दिन पहले काबुल एयरपोर्ट पर एक आत्मघाती हमला हुआ था। इस हमले में 13 अमेरिकी सैनिक और 160 से अधिक अफगान नागरिक मारे गए थे।

तालिबान कमांडर समेत छह की मौत

समाचार एजेंसी एएनआइ के मुताबिक पूर्वी कुनार प्रांत में गोलीबारी के दौरान तालिबान कमांडर, उसके बेटे समेत छह लोगों की मौत हो गई है। आइएस के अधिकारियों ने हेरत के एक चेकप्वाइंट पर गोलीबारी की थी।

आठ अरब डालर का दान मांगा

समाचार एजेंसी आइएएनएस के मुताबिक संयुक्त राष्ट्र में अफगानिस्तान के दूत डेब्रा लियोन ने दानकर्ताओं से अफगानिस्तान के लिए आठ अरब डालर का दान करने को कहा है। अफगानिस्तान में बैंकिंग प्रणाली बहाल होने तक उसे नकद राशि की जरूरत है।

आर्थिक सम्मेलन में 60 देश : तालिबान

समाचार एजेंसी एएनआइ के मुताबिक तालिबान के प्रवक्ता जबीबुल्लाह मुजाहिद ने कहा कि अफगानिस्तान के पहले आर्थिक सम्मेलन में 60 देशों के प्रतिनिधियों ने हिस्सा लिया। निजी क्षेत्र व बैंकिंग के मुद्दे पर चर्चा हुई। 

Edited By Krishna Bihari Singh

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept