अमेरिकी नर्सिंग होम में कोविड के मामले बढ़े, मौतों का आंकड़ा पहुंचा नए रिकार्ड स्तर पर

अमेरिका के दैनिक कोविड-19 मामलों में लगातार हो रही वृद्धि से देश की स्वास्थ्य प्रणाली पर गहरा असर पड़ रहा है। रोग नियंत्रण और रोकथाम केंद्र (सीडीसी) के नवीनतम आंकड़ों के अनुसार देश भर में ओमिक्रोन वैरिएंट के मामलों में भारी उछाल आया है।

Ashisha RajputPublish: Tue, 18 Jan 2022 10:29 AM (IST)Updated: Tue, 18 Jan 2022 10:29 AM (IST)
अमेरिकी नर्सिंग होम में कोविड के मामले बढ़े, मौतों का आंकड़ा पहुंचा नए रिकार्ड स्तर पर

वाशिंगटन, आइएएनएस। अमेरिका में लगातार बढ़ रहे कोरोना वायरस के मामलों ने देश को हिलाकर रख दिया है। दैनिक कोविड-19 मामलों में लगातार हो रही वृद्धि से देश की स्वास्थ्य प्रणाली पर गहरा असर पड़ रहा है। रोग नियंत्रण और रोकथाम केंद्र (सीडीसी) के नवीनतम आंकड़ों के अनुसार, देश भर में ओमिक्रोन वैरिएंट के मामलों में भारी उछाल आया है। वहीं इस बीच अमेरिकी नर्सिंग होम में कोविड -19 मामले और मौतें एक नए रिकार्ड पर पहुंच गईं हैं।

नर्सिंग होम पर बढ़ा दबाव

समाचार एजेंसी सिन्हुआ ने सोमवार को रोग नियंत्रण और रोकथाम केंद्र (सीडीसी) द्वारा जारी किए गए ताजा आंकड़ों के हवाले से बताया कि अमेरिकी नर्सिंग होम ने 9 जनवरी को सप्ताहांत में निवासियों के बीच लगभग 32 हजार से अधिक मामलों की सूचना दी थी, जो एक महीने पहले की तुलना में लगभग सात गुना से भी अधिक है।

आपको बता दें कि नर्सिंग होम के मामलों की नई साप्ताहिक वृद्धि 20 दिसंबर, 2020 को सप्ताहांत के बाद से सबसे अधिक बढ़ी है, जब 32 हजार से अधिक मामले दर्ज किए गए थे।

एक ही सप्ताह के दौरान नर्सिंग होम के रोगियों के बीच कुल 645 कोविड-19 की मौत हो चुकी हैं, जो एक सप्ताह पहले की तुलना में 30 फीसद से अधिक है।

तेजी से बढ़ रहा है ओमिक्रोन वैरिएंट

देश के स्वास्थ्य विशेषज्ञ गहरी चिंता में हैं। क्योंकि लगातार बढ़ रहे ओमिक्रोन वैरीएंट के मामले नई मौतों का कारण बन रहे हैं।

नर्सिंग होम के अधिकारी विजिटर्स को सीमित कर रहे हैं, सामाजिक दूरी बनाने पर ध्यान दे रहे हैं और अधिक से अधिक निवासियों और कर्मचारियों को टीकाकरण लेने के लिए प्रेरित कर रहे हैं।

देश में कोविड 19 की महामारी की शुरुआत के बाद से नर्सिंग होम के निवासी सबसे ज्यादा प्रभावित हुए हैं। बता दें कि दिसंबर 2020 में, प्रति सप्ताह नर्सिंग होम में होने वाली मौतें लगभग 6,200 थीं।

विशेषज्ञों ने बताया कि नर्सिंग होम के निवासियों के बीच उच्च टीकाकरण दर ने इस आयु वर्ग को मजबूत सुरक्षा प्रदान की है। इसलिए टीकाकरण पर अधिक से अधिक जोर दिया जा रहा है।

क्या कहते हैं सीडीसी के आंकड़े

सीडीसी के आंकड़ों के अनुसार, अब तक, देश में 65 वर्ष या उससे अधिक आयु के 95 फीसद लोगों को कोविड-19 वैक्सीन की कम से कम एक खुराक प्राप्त हो चुकी है और 87.9 फीसद लोगों को पूरी तरह से टीका लगाया जा चुका है।

 

Edited By Ashisha Rajput

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept