सड़क बना जलाशय, जान जोखिम में रखकर चालक गुजरते है रेक प्वाइंट से

संवाद सूत्र,दालखोला: राष्ट्रीय राजमार्ग 34 से दालखोला रेक प्वाइंट की ओर जाने वाली रेल सड़क की बदहाल द

JagranPublish: Sat, 11 Jun 2022 09:04 PM (IST)Updated: Sat, 11 Jun 2022 09:04 PM (IST)
सड़क बना जलाशय, जान जोखिम में रखकर चालक गुजरते है रेक प्वाइंट से

संवाद सूत्र,दालखोला: राष्ट्रीय राजमार्ग 34 से दालखोला रेक प्वाइंट की ओर जाने वाली रेल सड़क की बदहाल दशा से ट्रक चालक, रेल से यात्रा करने वाले यात्री लंबे समय से परेशान है। गौरतलब है कि इस रेंक पोंएन्ट के माध्यम से भारतीय रेल को हर महीने लाखो की कमाई होती है। बताते चलें की दालखोला रेंक प्वाइंट से भारत के विभिन्न प्रांतों में भुट्टा का निर्यात होता है। वहीं प्रचुर पात्रा में सिनेन्ट एवं रासायनिक खाद की आयात भी इस रेंक प्वाइंअ के मार्ग से ही होता है। उल्लेखनिय है कि दालखोला राष्ट्रीय राजमार्ग 34 से दालखोला रेक प्वाइंट की ओर जाने वाली सड़क की दशा पिछले दो वर्षो से इतनी बेहाल है कि सड़क टुट कर बड़े-बड़े जलाशय में तबदील हो गए है। इसके कारण ट्रक चालक से लेकर इस ओर रेल से सफर करने वाले यात्रियों को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ता है। यहां अक्सर दुर्घटनाएं होती है।

ट्रक चालक असरफ के मुताबिक रेक प्वाइंट से सामाग्री लादी वाहन इस सड़क से पार करते समय हर वक्त वाहन पलट जाने की आशंका बनी रहती है। हमलोग अपनी जान जोखिम मे डाल कर इस ओर वाहन चलाना परता है।

रेक लोडर एवं दालखोला मार्चेन्ट (वेलफेयर ) एसोसिएशन के अध्यक्ष मनोज (पप्पु )लढ्ढा के मुताबिक इस मामले को ले कर कई बार रेल प्रशासन को अवगत करा चुका हैं,लेकिन हर बार आश्वासन के सिवा कुछ हासिल नहीं हुआ। शहर युवा तृणमूल काग्रेस के अध्यक्ष राकेश सरकार ने कहा पिछले गुरूवार को इस मामले को ले कर स्टेसन प्रबंधक को ज्ञापन सौंपा गया है। जल्द इस मामले का समाधान नहीं हुअ तो हम आंदोलन पर उतरने के लिए मजबूर हो जाएंगे। स्टेशन प्रबंधक अफरोज आलम के मुताबिक इस मामले की जानकारी अपने आला अधिकारी को बता दिया हूं,जल्द ही इस मामले का समाधान हो जाएगा।

कैप्शन : बड़े गड्ढे से गुजरती माल लदी ट्रक

Edited By Jagran

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept