बीएसएफ ने अवैध तरीके से सीमा पार करते चार बांग्लादेशी महिलाओं को पकड़ा, दो को मानवीय आधार पर बीजीबी को सौंपा

दक्षिण बंगाल फ्रंटियर अंतर्गत सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) के जवानों ने उत्तर 24 परगना जिले के सीमावर्ती इलाके से अवैध तरीके से सीमा पार करते चार बंगलादेशी महिलाओं को गिरफ्तार किया है। बीएसएफ ने शनिवार को एक बयान जारी कर यह जानकारी दी।

Vijay KumarPublish: Sat, 27 Nov 2021 09:46 PM (IST)Updated: Sat, 27 Nov 2021 09:46 PM (IST)
बीएसएफ ने अवैध तरीके से सीमा पार करते चार बांग्लादेशी महिलाओं को पकड़ा, दो को मानवीय आधार पर बीजीबी को सौंपा

राज्य ब्यूरो, कोलकाता : दक्षिण बंगाल फ्रंटियर अंतर्गत सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) के जवानों ने उत्तर 24 परगना जिले के सीमावर्ती इलाके से अवैध तरीके से सीमा पार करते चार बंगलादेशी महिलाओं को गिरफ्तार किया है। सीमावर्ती इलाके में तैनात एडहाक-7 बटालियन की सीमा चौकी जीतपुर के इलाके से चारों महिलाओं को गैरकानूनी तरीके से बांग्लादेश जाने की कोशिश में जवानों ने पकड़ा।‌

बीएसएफ ने शनिवार को एक बयान जारी कर यह जानकारी दी। महिलाओं की पहचान अकलेमा मुल्ला (26), लीलू बेपारी (46), सहाना खातून (काल्पनिक नाम, उम्र 19), अशमा बेगम (35) के रूप में हुई है। ये चारों बांग्लादेश के अलग-अलग जिलों क्रमशः खुलना, जेसोर, सतखीरा व गोपालगंज जिले की रहने वाली हैं।

अधिकारियों ने बताया कि पूछताछ करने पर इनमें से सहाना खातून (काल्पनिक नाम) ने बताया कि वह बचपन में ही अपनी मां के साथ भारत आई थी। कुछ समय बाद उसकी मां ने दूसरी शादी कर ली। आगे उसने बताया कि वह मुंबई के महेश बार में डांसर का काम करती थी और अपनी मर्जी से देह व्यापार के काम में भी लिप्त थी।

अभी वह अपनी शादी के लिए वापस बांग्लादेश जा रही थी। इसके अलावा अन्य तीनों महिलाएं चार से छह साल पहले भारत आई थी और मुंबई और बंगलौर में बाई/ नौकरानी का काम करती थीं। आज वे सभी महिलाएं अनजान भारतीय दलाल की मदद से वापस बांग्लादेश जा रही थी। पूछताछ के बाद बीएसएफ ने इनमें से दो महिलाओं को सद्भावना के रूप में मानवीय आधार पर बार्डर गार्ड बांग्लादेश (बीजीबी) को सौंप दिया है जबकि अन्य दो महिलाओं को अग्रिम कानूनी कार्यवाही हेतु बगदाह पुलिस थाने को सौंप दिया गया।

गैर कानूनी आवागमन को रोकने के लिए कड़े कदम उठा रही बीएसएफ

इधर, दक्षिण बंगाल फ्रंटियर के जनसंपर्क अधिकारी ने बताया कि सीमा सुरक्षा बल भारत- बांग्लादेश सीमा पर गैर कानूनी आवागमन को रोकने के लिए कड़े कदम उठा रही है। जिसके चलते दलालों और उनके सहयोगियों को काफी मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है और उनमें से कुछ गिरफ्तार भी किए जा रहे है जिन्हें कानून के मुताबिक सजाएं भी हो रही हैं। साथ ही पकड़े गए बांग्लादेशी नागरिकों के अपराध की गंभीरता को देखते हुए कुछ को दोनों देशों के सुरक्षा बलो के आपसी सहयोग और सद्भवाना के चलते बांग्लादेश को सौंप दिया जाता है।

Edited By Vijay Kumar

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept