Mamata Banerjee audio clip को लेकर आयोग पहुंची भाजपा, कहा- मुख्‍यमंत्री ने शव को लेकर रैली निकालने की बात कही थी

शीतलकूची में चौथे दौर के मतदान के दौरान फायरिंग में चार लोगों की मौत हो गई थी। आरोप है कि उसी दिन मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कूचबिहार के अपने पार्टी नेता से फोन पर बात की थी जिसमें उन्होंने शव को लेकर रैली निकालने की बात कही थी।

Vijay KumarPublish: Sat, 17 Apr 2021 05:18 PM (IST)Updated: Sat, 17 Apr 2021 05:18 PM (IST)
Mamata Banerjee audio clip को लेकर आयोग पहुंची भाजपा, कहा- मुख्‍यमंत्री ने शव को लेकर रैली निकालने की बात कही थी

राज्य ब्यूरो, कोलकाता: शीतलकूची में चौथे दौर के मतदान के दौरान फायरिंग में चार लोगों की मौत हो गई थी। आरोप है कि उसी दिन मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कूचबिहार के अपने पार्टी नेता से फोन पर बात की थी जिसमें उन्होंने शव को लेकर रैली निकालने की बात कही थी। भाजपा के एक प्रतिनिधिमंडल ने शनिवार को बंगाल के मुख्य निर्वाचन अधिकारी (सीईओ) आरिज आफताब से अनुरोध किया कि वह उस कथित ऑडियो क्लिप पर संज्ञान लें जिसमें मुख्यमंत्री ममता बनर्जी कूचबिहार गोलीबारी के पीडि़तों के शवों के साथ रैली का प्रस्ताव देते सुनी जा रही हैं। क्योंकि राज्य में जारी चुनावों के बीच ऐसे किसी कदम से तनाव और बढ़ सकता था।

भाजपा के वरिष्ठ नेता स्वपन दासगुप्ता ने यहां सीईओ कार्यालय पहुंचे पार्टी प्रतिनिधिमंडल का नेतृत्व किया। दासगुप्ता ने संवाददाताओं को बताया कि उन्होंने आफताब को उस बातचीत से अवगत कराया जो संभवत: बनर्जी और शीतलकूची से तृणमूल कांग्रेस के उम्मीदवार के बीच हुई, और बताया कि इसकी वजह से विधानसभा चुनाव के अगले तीन चरणों में अप्रिय स्थिति बन सकती है। तृणमूल यह क्लिप सामने के बाद आरोप लगाया है कि ममता के फोन टैप की जा रही है। यहां तक कि शनिवार को खुद ममता ने एक जनसभा में कहा कि मेरा फोन टैप किया जा रहा है और इसकी वह सीआइडी जांच कराएंगी।

ताराकेश्वर विधानसभा सीट से भाजपा उम्मीदवार दासगुप्ता ने कहा कि सीईओ से इस मामले को निर्वाचन आयोग के शीर्ष अधिकारियों के समक्ष उठाने का भी अनुरोध किया गया है। उन्होंने दावा किया कि यह ऑडियो क्लिप किसी उद्देश्य से लीक किया गया था। दासगुप्ता ने कहा कि हमें नहीं लगता कि यह फोन टैपिंग का मामला है।

उन्होंने इस बात का भी उल्लेख किया कि भाजपा निर्वाचन आयोग द्वारा लगाई गई सभी कोविड-19 संबंधी पाबंदियों का खुशी से पालन करेगी जिनमें अगले तीन चरणों के चुनावों के दौरान मतदान से 72 घंटे पहले चुनाव प्रचार बंद करना भी शामिल है। पूर्व राज्य सभा सदस्य ने कहा कि एक जिम्मेदार दल के तौर पर हम निर्वाचन आयोग का हर तरह से सहयोग करने के लिए तैयार हैं। सुश्री बनर्जी और शीतलकूची सीट से तृणमूल उम्मीदवार व कूचबिहार जिले के अध्यक्ष पार्थ प्रतिम राय के बीच टेलीफोन पर हुई कथित बातचीत के अंश जारी करते हुए भाजपा के आइटी प्रकोष्ठ के प्रमुख अमित मालवीय ने शुक्रवार को दावा किया था, पार्टी नेताओं को शवों के साथ रैलियां निकालने को कहकर मुख्यमंत्री दंगा भड़काने की कोशिश कर रही हैं।

उन्होंने कहा कि उन्हेंं अपनी पार्टी उम्मीदवार से यह कहते सुना जा रहा है कि मामला इस तरह बनाना कि पुलिस अधीक्षक (कूच बिहार के) और अन्य केंद्रीय बल कॢमयों को फंसाया जा सके। क्या एक मुख्यमंत्री से यह उम्मीद की जाती है? वह सिर्फ अल्पसंख्यक मतों के लिए लोगों में भय पैदा करने की कोशिश कर रही हैं।

Edited By Vijay Kumar

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept