This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.
OK

Bengal Rain Effect: कोलकाता में बारिश ने 13 साल का रिकार्ड तोड़ा, एक दिन में बरसा 142 मिमी पानी, जनजीवन पर भारी असर

रविवार रातभर हुई भारी बारिश से कोलकाता समेत दक्षिण बंगाल के कई जिलों के विस्तृत इलाके जलमग्न हो गए हैं और वहां सामान्य जनजीवन पर भारी असर पड़ा है। मौसम विभाग ने सोमवार को भी बारिश जारी रहने की बात कही है।

Vijay KumarMon, 20 Sep 2021 05:52 PM (IST)
Bengal Rain Effect: कोलकाता में बारिश ने 13 साल का रिकार्ड तोड़ा, एक दिन में बरसा 142 मिमी पानी, जनजीवन पर भारी असर

राज्य ब्यूरो, कोलकाता : कोलकाता में बारिश ने 13 साल का रिकार्ड तोड़ दिया है। एक दिन में 142 मिलीमीटर (मिमी) बारिश दर्ज हुई है। इससे पहले सितंबर, 2008 में एक दिन में 140 मिमी बारिश दर्ज हुई थी। रविवार रातभर हुई बारिश से कोलकाता समेत दक्षिण बंगाल के कई जिलों के विस्तृत इलाके जलमग्न हो गए हैं और वहां सामान्य जनजीवन पर भारी असर पड़ा है। मौसम विभाग ने मंगलवार तक बारिश जारी रहने का पूर्वानुमान जताया है। अलीपुर मौसम कार्यालय से मिली जानकारी के अनुसार कोलकाता, हावड़ा, हुगली, उत्तर व दक्षिण 24 परगना जिलों में सबसे ज्यादा बारिश हुई है।

सोमवार सुबह 8.30 बजे तक कोलकाता में सबसे ज्यादा 142 मिमी बारिश दर्ज हुई है। कोलकाता के उल्टाडांगा, धापा, सियालदह, बालीगंज, मोमिनपुर, कालीघाट व तपसिया इलाकों में रविवार रात एक बजे से सोमवार प्रातः पांच बजे तक 100 मिलीमीटर से ज्यादा बारिश हुई। भारी बारिश के कारण कोलकाता में हुगली नदी पर पानी का दबाव बढ़ने की वजह से लाक गेट को खोल देना पडा़। बेहला, अलीपुर, सेंट्रल एवेन्यू, जादवपुर, कसबा समेत कई इलाके पानी में डूब गए हैं। कुछ जगहों पर तो घुटने से भी ऊपर तक पानी है। भारी बारिश की वजह से सबसे ज्यादा परेशानी आफिस जाने वालों को हुई।

इसलिए हो रही इतनी बारिश

अलीपुर मौसम कार्यालय के एक अधिकारी ने बताया कि दो 'साइक्लोनिक सर्कुलेशन के एक साथ उत्पन्न होने की वजह से बंगाल में इतनी बारिश हो रही है। बंगाल की खाड़ी में पैदा हुआ साइक्लोनिक सर्कुलेशन ओड़िशा के तटवर्ती इलाकों की तरफ बढ़ रहा है जबकि दूसरा दक्षिण बांग्लादेश के ऊपर विद्यमान है। इनकी वजह से ही बंगाल के तटवर्ती इलाकों में बारिश हो रही है जो मंगलवार तक जारी रहेगी।

ट्रेन की पटरियों और एयरपोर्ट के रनवे पर भी जमा पानी

भारी बारिश से ट्रेन की पटरियों और एयरपोर्ट के रनवे पर भी पानी जमा हो गया है, जिससे फ्लाइट और ट्रेन सेवाओं पर असर पड़ा है। नेताजी सुभाष चंद्र बोस अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डा जलमग्न हो गया है। भारी बारिश के मद्देनजर इंडिगो ने एडवाइजरी जारी कर कहा है कि जिन्हें हवाई सफर करना है, वे एयरपोर्ट के लिए पर्याप्त समय से निकलें। वहीं विस्तारा ने ट्वीट कर कहा है कि कोलकाता में भारी बारिश के चलते जलजमाव की वजह से ट्रैफिक की आशंका है, लिहाजा यात्री एयरपोर्ट पहुंचने के लिए समय से पहले निकलें। स्पाइसजेट ने ट्वीट कर कहा है कि खराब मौसम के चलते फ्लाइट्स के आवागमन पर असर पड़ सकता है। यात्रियों से अपील की गई है कि वो अपनी फ्लाइट का स्टेटस चेक कर लें।

 

Edited By: Vijay Kumar

कोलकाता में कोरोना वायरस से जुडी सभी खबरे

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!