West Bengal : लोकल ट्रेन चलाने की मांग पर पांडुआ के बाद अब यात्रियों ने चुंचुड़ा व लिलुआ में रेल रोका

हावड़ा से सटे लिलुआ स्टेशन पर तो प्रदर्शनकारियों ने स्टेशन मास्टर कार्यालय के बाहर तोड़फोड़ भी मचाया। बंगाल के पांडुआ स्टेशन पर ट्रेन का चक्का जाम किए जाने के बाद इसी मांग पर चुंचुड़ा व लिलुआ स्टेशन पर यात्रियों ने रेल अवरोध किया।

Preeti jhaPublish: Tue, 13 Oct 2020 09:06 AM (IST)Updated: Tue, 13 Oct 2020 09:06 AM (IST)
West Bengal : लोकल ट्रेन चलाने की मांग पर पांडुआ के बाद अब यात्रियों ने चुंचुड़ा व लिलुआ में रेल रोका

कोलकता, राज्य ब्यूरो। लोकल ट्रेन चलाए जाने की मांग पर रविवार को बंगाल के पांडुआ स्टेशन पर यात्रियों द्वारा ट्रेन का चक्का जाम किए जाने के बाद सोमवार फिर इसी मांग पर चुंचुड़ा व लिलुआ स्टेशन पर यात्रियों ने रेल अवरोध किया। हावड़ा से सटे लिलुआ स्टेशन पर तो प्रदर्शनकारियों ने स्टेशन मास्टर कार्यालय के बाहर तोड़फोड़ भी मचाया। वहां रखे फूल के गमले आदि को तोड़ दिया।

वहीं, सुबह के वक्त रेल अवरोध होने से रेलवे स्टाफ़ को ड्यूटी पर जाने में काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ा। हालांकि रेल पुलिस की तत्परता से जल्द ही दोनों जगहों पर अवरोध हटा लिया गया।

जानकारी के मुताबिक, सोमवार सुबह सर्वप्रथम बेंडल-हावड़ा मैन लाइन में स्थित चुंचुड़ा स्टेशन के पास लोकल ट्रेन चलाए जाने की मांग पर लोगों ने रेल की पटरी जाम करके अवरोध करना शुरू कर दिया। जिसके कारण डाउन रेलवे लाइन पर ट्रेनों की आवाजाही बंद हो गई। खबर पाकर बेंडल आरपीएफ एवं जीआरपी के जवान मौके पर पहुंचकर अवरोध हटाया। इसी तरह लिलुआ में भी रेल अवरोध कर दिया।

यात्रियों का कहना है कि सरकार धीरे- धीरे करके सभी यात्रायात वाले साधनों को चालू कर दिया है जबकि लोकल ट्रेनें अभी भी बंद है। इसके कारण रोजमर्रा की जिंदगी जीने वाले साधारण लोगों को काफी परेशानी हो रही है। मालूम हो कि रविवार की सुबह छह बजे इसी मांग को लेकर बर्दवान-हावड़ा मैन लाइन के पांडुआ रेलवे स्टेशन पर यात्रियों ने रेल रोका था। गौरतलब है कि कोविड-19 के कारण 22 मार्च से ही लोकल ट्रेन सेवा बंद है। 

Edited By Preeti jha

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept