लगन शुरू, बजने लगी शहनाई

-खरमास महीना खत्म होने का था सबको इंतजार -कोरोना के खतरे के बाद भी बाजारों में उमड़ रही भीड़ जागरण स

JagranPublish: Wed, 19 Jan 2022 08:23 PM (IST)Updated: Wed, 19 Jan 2022 08:26 PM (IST)
लगन शुरू, बजने लगी शहनाई

-खरमास महीना खत्म होने का था सबको इंतजार

-कोरोना के खतरे के बाद भी बाजारों में उमड़ रही भीड़ जागरण संवाददाता, सिलीगुड़ी : खरमास महीने की समाप्ति के पश्चात लगन का दौर शुरू हो गया है। शहनाई बजनी शुरू हो गई है। गाजे-बाजे की आवाज सुनाई पड़ने लगी है। विवाह के अवसर पर गाए जाने वाले गीत सुनाई पड़ने लगे हैं। खरमास का महीना खत्म हो गया है। शहनाई की गूंज सुनाई पड़ने लगी है। ऐसे में चारों ओर रौनक नजर आ रही है। लगभग एक महीने तक शहनाई की गूंज बंद होने की वजह से बाजार में भी रौनक कम थी। अब खरीदार पहुंचने लगे हैं। ऐसे में दुकानदारों का कहना है कि इस समय लगन को लेकर खरीदारी शुरू हो गई है। गहने, कपड़े सहित अन्य प्रकार की सामग्रियों की मांग है। कन्या पक्ष के साथ वर पक्ष भी तैयारी में लगा हुआ है। इस समय कहीं पर संगीत का कार्यक्रम किया जा रहा है। बड़ा और छोटा नेग की विधि पूरी की जा रही है। परिवारवालों के द्वारा मिलजुल कर कार्यक्रम प्रस्तुत किया जा रहा है। रिश्ते में एक-दूसरे को संबोधित करने के लिए फिल्मी गीतों का सहारा लिया जा रहा है। वही लगन को लेकर वर और वधु पक्ष व्यस्त नजर आ रहा है। खरमास में एक महीने तक किसी प्रकार के शुभ कार्य नहीं होते हैं। यहां तक की विवाह इत्यादि करने के लिए कुंडली इत्यादि भी नहीं मिलाई जाती है ना ही एक-दूसरे के यहां जाकर देखादेखी की जाती है। इस महीने की समाप्ति के बाद सारे शुभ कार्य शुरू हो गए है। एक महीने से लगन बंद था। ऐसी मान्यता है कि खरमास के महीने में शुभ कार्य नहीं होते हैं। एक महीने के पश्चात अब शुभ कार्य शुरू हो गए है।

Edited By Jagran

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept
ट्रेंडिंग न्यूज़

मौसम