This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.
OK

किसानों के बंद को भाजपा ने बनाया और असरदार

-किसानों के समर्थन व भाजपा के आहूत बंद का कर रहे है लोग समर्थन -यातायात व्यवस्था ठप र

JagranTue, 08 Dec 2020 07:17 PM (IST)
किसानों के बंद को भाजपा ने बनाया और असरदार

-शहर में जन जीवन बुरी तरह प्रभावित

-कहीं मोदी को फूंका पुतला तो कहीं ममता के पोस्टर में आग जागरण संवाददाता, सिलीगुड़ी : केंद्र सरकार द्वारा संसद में पारित तीन कृषि कानून के खिलाफ किसानों द्वारा आहूत भारत बंद और भाजपा ने सिलीगुड़ी शहर में और असरदार बना दिया। 12 घंटे बंद के कारण सिलीगुड़ी तथा आसपास के इलाके में जन जीवन बुरी तरह प्रभावित हुआ। भाजपा ने उत्तरकन्या अभियान के दौरान हिसक झड़प के दौरान अपने एक कार्यकर्ता की मौत के विरोध में 12 घंटा उत्तर बंगाल बंद का आह्वान किया था। बंद के दौरान सिलीगुड़ी शहर में अधिकांश बाजार और दुकान बंद रहे। वाहनों की आवाजाही भी काफी कम रही। इस दौरान जहां किसान आंदोलन के समर्थकों ने देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का पुतला फूंका तो तो भाजपा समर्थकों ने राज्य की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के पोस्टर को आग के हवाले कर दिया। मंगलवार को बंद के दौरान विभिन्न ट्रेड यूनियनों के साथ ही कांग्रेस और अन्य विरोधी पार्टियों की ओर से दोपहिया गाड़ी और टोटो को भी रोकने की कोशिश की गयी। एसयूसीआई की ओर से हाशमी चौक पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का पुतला फूंका गया। दूसरी ओर बंद को देखते हुए पुलिस ने सुरक्षा के तगड़े इंतजाम किए थे। हर जगह पुलिस बल की तैनाती की गई थी। पुलिस पेट्रोलिंग वैन भी लगातार चक्कर काट रही थी। इसी दौराना वामपंथी संगठन की ओर से सेवक रोड, हिलकार्ट रोड पर पिकेटिंग की गई। जो इक्का-दुक्का गाड़ियां चल रही थी,उसको रोका गया। सिलीगुड़ी महकमा के खोरीबाड़ी, नक्सलबाड़ी, विधाननगर, फांसीदेवा,माटीगाड़ा, एनजेपी, फूलबाड़ी समेत शहर के प्रमुख बाजार और मॉल बंद रहे। सब्जी बाजार और छोटी चाय पान तक की दुकानों पर ताले लगे हुए थे।

दूसरी और भाजपा समर्थकों ने शहर के महात्मा गांधी चौक पर लगे मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के लगे पोस्टर को फाड़ कर जला दिया। कई भाजपा समर्थक पार्टी का झंडा लेकर आए और पुलिस के सामने ही मुख्यमंत्री के पोस्टर पर धावा बोल दिया। पोस्टर को फाड़कर बीच सड़क पर ही आग के हवाले कर दिया। इस मामले में पुलिस ने बाद में 15 भाजपा समर्थकों को गिरफ्तार किया है।

दार्जिलिंग में कोरोना वायरस से जुडी सभी खबरे

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!