सरकार व उद्योग जगत के बीच विश्वास सर्वोपरि

जागरण संवाददाता सिलीगुड़ी वेस्ट बंगाल इंडस्ट्रियल डेवेलपमेंट कॉर्पोरेशन (डब्ल्यूबीआईडीसी) के च

JagranPublish: Fri, 06 Aug 2021 11:45 PM (IST)Updated: Fri, 06 Aug 2021 11:45 PM (IST)
सरकार व उद्योग जगत के बीच विश्वास सर्वोपरि

जागरण संवाददाता, सिलीगुड़ी : वेस्ट बंगाल इंडस्ट्रियल डेवेलपमेंट कॉर्पोरेशन (डब्ल्यूबीआईडीसी) के चेयरमैन राजीव सिन्हा ने कहा है कि सरकार और उद्योग जगत के बीच सर्वोपरि चीज विश्वास है। इस दिशा में पश्चिम बंगाल सरकार पूरी गंभीरता व पूरी तत्परता के साथ सक्रिय है। वह शुक्रवार को कंफेडेरेशन ऑफ इंडियन इंडस्ट्रीज (सीआईआई) के प्रतिनिधियों संग विशेष सत्र को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि पश्चिम बंगाल सरकार का डब्ल्यूबीआईडीसी वर्ष 2011-2012 से ही उद्योग जगत को सिंगल विंडो सिस्टम की सेवा देता आ रहा है। <स्हृद्द-क्तञ्जस्>शिल्प साथी<स्हृद्द-क्तञ्जस्> प्रकल्प को भी अत्याधुनिक डिजिटल तकनीक से समृद्ध किया जा रहा है। इसमें जो भी थोड़ी-मोड़ी तकनीकी कमी है उसे भी यथाशीघ्र दूर करने को हम तत्पर हैं। उन्होंने लाभाíथयों से भी आग्रह किया कि वे तकनीकी प्रगति के साथ अधिक परिचित होने की दिशा में प्रयास करें। सेवा की गुणवत्ता में वृद्धि के लिए सरकार को प्रतिक्रिया प्रदान करें। उन्होंने आगे सिलीगुड़ी-जलपाईगुड़ी, आसनसोल-दुर्गापुर और हल्दिया के आसपास विकासात्मक क्षेत्र परियोजनाओं को शुरू करने का भी उल्लेख किया, जिनके संबंध में योजनाएं अभी प्रारंभिक चरण में हैं।उन्होंने सरकार के साथ आईआईएफटी के सहयोग पर विस्तार से चर्चा की। पहला, निर्यात प्रोत्साहन के लिए <स्हृद्द-क्तञ्जस्>शिल्प साथी<स्हृद्द-क्तञ्जस्> के बैनर तले निर्यात सुविधा केंद्र की स्थापना, और दूसरा, पश्चिम बंगाल में निíमत सभी उत्पादों के प्रमाणन मैट्रिक्स की स्थापना पर। दैनिक श्रमिकों से लेकर उद्योगपतियों तक सबका कल्याण ही सरकार का ध्येय है। अंत में उन्होंने ग्रामीण शिल्प केंद्रों की योजना का भी उल्लेख किया, जिसका उद्देश्य देशी हस्तशिल्प को विदेशी बाजार में प्रदर्शीत करके सास्कृतिक पर्यटन को बढ़ावा देना है। जिसमें घरेलू प्रशिक्षुओं को संरक्षण दिया जा रहा है। इस अवसर पर सीआईआई की एमएसएमई उप समिति के पूर्वी क्षेत्र के चेयरमैन रवि तोदी व्यवसाय सुगमता की पहल के तहत शासन की चार श्रेणियों में पश्चिम बंगाल सरकार को स्कॉच अवार्ड्स 2021 (एक प्लेटिनम, स्वर्ण और तीन रजत पुरस्कार) की प्राप्ति हेतु बधाई दी। उन्होंने राज्य में औद्योगिक विकास की दिशा में डब्ल्यूबीआईडीसी के कार्यो की सराहना की। उन्होंने यह भी कहा कि औद्योगिक विकास को बढ़ावा देने की पहल सीआईआई के विकास एजेंडे के मूल में है।सीआईआई की एमएसएमई उप समिति के पूर्वी क्षेत्र के को-चेयरमैन हेमंत बहेती ने राज्य की अर्थव्यवस्था के लिए संभावित परिदृश्य को रेखाकित किया। यह सत्र वर्तमान औद्योगिक परिदृश्य को समझने और चर्चा करने और भविष्य के लिए रोडमैप की कल्पना करने के लिए समíपत था।

Edited By Jagran

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept