आईजी ने लिया प्रशिक्षण गतिविधियों का जायजा

जागरण संवाददाता सिलीगुड़ी बीएसएफ सहायक प्रशिक्षण केंद्र बैकुंठपुर उत्तर बंगाल अंतर्गत वर्तमा

JagranPublish: Wed, 24 Nov 2021 09:39 PM (IST)Updated: Wed, 24 Nov 2021 09:39 PM (IST)
आईजी ने लिया प्रशिक्षण गतिविधियों का जायजा

जागरण संवाददाता, सिलीगुड़ी : बीएसएफ सहायक प्रशिक्षण केंद्र, बैकुंठपुर उत्तर बंगाल अंतर्गत वर्तमान में 1300 प्रशिक्षु सात कंपनियों में अपना बुनियादी प्रशिक्षण प्राप्त कर रहे हैं । इनमें 900 से अधिक महिला प्रशिक्षु भी शामिल हैं, जिनका प्रदर्शन अपने समकक्ष पुरूष प्रशिक्षणार्थियों से किसी भी मामले में कम नहीं हैं ।

पिछले दिनों बीएसएफ उत्तर बंगाल फ्रंटियर के आईजी रवि गाधी ने चल रही प्रशिक्षण गतिविधियों की गहन समीक्षा की । इस अवसर पर हथियारों की हैंडलिंग की उत्कृष्ठता के प्रदर्शन के तौर पर महिला नवआरक्षियों ने आंखों पर पट्टी बांधकर एक हाथ से हथियारों को खोलने-जोड़ने का शानदार डेमो प्रदर्शित किया। इस दौरान महानिरीक्षक महोदय के साथ सहायक प्रशिक्षण केंद्र, बावा की अध्यक्ष डॉ प्रेमा गाधी भी मौजूद थीं ।

डेमो के दौरान उत्कृष्ठ प्रदर्शन करने वाली महिला प्रशिक्षुओं को आईजी ने प्रशस्ति पत्र से सम्मानित किया व आगे भी प्रशिक्षण के इन्हीं मानकों को बनाए रखने के लिए प्रेरित किया। उन्होंने उपस्थित अधिकारियों बातचीत प्रशिक्षण के संबंध में जानकारी हासिल की। आइजी ने बीएसएफ अधिकारियों से नव-आरक्षियों के प्रशिक्षण को उच्चस्तरीय बनाये रखने के लिए निर्देशित किया।

डेमो के शानदार प्रदर्शन के उपरान्त सहायक प्रशिक्षण केंद्र, बैकुंठपुर कैंपस की बावा सदस्याओं द्वारा सहायक प्रशिक्षण केंद्र, बावा की अध्यक्षा डॉ प्रेमा गाधी की सम्मान में सास्कृतिक कार्यक्रम 'धनक' प्रस्तुत कर उपस्थित लोगों का मन मोह लिया।

------------

जागरण संवाददाता, सिलीगुड़ी : बीएसएफ सहायक प्रशिक्षण केंद्र, बैकुंठपुर उत्तर बंगाल अंतर्गत वर्तमान में 1300 प्रशिक्षु सात कंपनियों में अपना बुनियादी प्रशिक्षण प्राप्त कर रहे हैं । इनमें 900 से अधिक महिला प्रशिक्षु भी शामिल हैं, जिनका प्रदर्शन अपने समकक्ष पुरूष प्रशिक्षणार्थियों से किसी भी मामले में कम नहीं हैं ।

पिछले दिनों बीएसएफ उत्तर बंगाल फ्रंटियर के आईजी रवि गाधी ने चल रही प्रशिक्षण गतिविधियों की गहन समीक्षा की । इस अवसर पर हथियारों की हैंडलिंग की उत्कृष्ठता के प्रदर्शन के तौर पर महिला नवआरक्षियों ने आंखों पर पट्टी बांधकर एक हाथ से हथियारों को खोलने-जोड़ने का शानदार डेमो प्रदर्शित किया। इस दौरान महानिरीक्षक महोदय के साथ सहायक प्रशिक्षण केंद्र, बावा की अध्यक्ष डॉ प्रेमा गाधी भी मौजूद थीं ।

डेमो के दौरान उत्कृष्ठ प्रदर्शन करने वाली महिला प्रशिक्षुओं को आईजी ने प्रशस्ति पत्र से सम्मानित किया व आगे भी प्रशिक्षण के इन्हीं मानकों को बनाए रखने के लिए प्रेरित किया। उन्होंने उपस्थित अधिकारियों बातचीत प्रशिक्षण के संबंध में जानकारी हासिल की। आइजी ने बीएसएफ अधिकारियों से नव-आरक्षियों के प्रशिक्षण को उच्चस्तरीय बनाये रखने के लिए निर्देशित किया।

डेमो के शानदार प्रदर्शन के उपरान्त सहायक प्रशिक्षण केंद्र, बैकुंठपुर कैंपस की बावा सदस्याओं द्वारा सहायक प्रशिक्षण केंद्र, बावा की अध्यक्षा डॉ प्रेमा गाधी की सम्मान में सास्कृतिक कार्यक्रम 'धनक' प्रस्तुत कर उपस्थित लोगों का मन मोह लिया।

Edited By Jagran

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept