मांगे पूरी नहीं तो उग्र आंदोलन

बाजपुर में उत्तरांचल आंगनबाड़ी कर्मचारी संघ के तत्वावधान में कर्मचारियों ने प्रदर्शन कर आक्रोश जताया।

JagranPublish: Thu, 28 Oct 2021 06:06 PM (IST)Updated: Thu, 28 Oct 2021 06:06 PM (IST)
मांगे पूरी नहीं तो उग्र आंदोलन

संवाद सहयोगी, बाजपुर : उत्तरांचल आंगनबाड़ी कर्मचारी संघ के तत्वावधान में कर्मचारियों ने प्रदर्शन कर आक्रोश जताया। साथ ही चेताया कि यदि मांगों पर जल्द गौर नहीं किया गया तो आंदोलन किया जाएगा।

संघ की जिलाध्यक्ष वृंदा की अगुवाई में कार्यकर्ताओं ने बुधवार को रुद्रपुर कलक्ट्रेट पर प्रदर्शन किया। उन्होंने कहा कि हमें ग्रामीण शिक्षा के लिए रखा गया था। आज हालात यह है कि सरकार हर विभाग का कार्य हम से ले रही है, लेकिन सरकारी कार्य में हमारा कोई स्थान नहीं है। ऐसे में उनकी मांग है कि इन्हें केंद्र सरकार द्वारा जारी आदेशों के क्रम में न्यूनतम 18 हजार का वेतनमान दिया जाए। आज प्रत्येक रिपोर्ट ऑनलाइन अथवा वाट्सएप पर मांगी जाती है लेकिन उपरोक्त कार्य के लिए उन्हें लैपटाप आदि नहीं दिया किया जाता है। इसी के साथ पदोन्नति का कोई भी आदेश नहीं होने पर रोष प्रकट किया। उन्होंने कलक्ट्रेट प्रभारी को ज्ञापन देकर आंगनबाड़ी को सरकारी कर्मचारी घोषित कर श्रेणी का निर्धारण किए जाने, जनश्री बीमा योजना का लाभ देने आदि मांग की। जिलाध्यक्ष वृंदा ने कहा कि 14 अगस्त को मुख्यमंत्री द्वारा मांगों को पूरा करने का भरोसा दिलाया था लेकिन कार्यवाही नहीं की गई। 24 नवंबर तक मांगे पूरी नहीं होने पर 25 नवंबर से प्रदेशव्यापी आंदोलन करने की चेतावनी दी है। प्रदर्शन करने वालों में हेमंती दुवरिया, दमयंती चुफाल, उषा बेरिया, जसवीर कौर, मेघा आहूजा, बीर कौर, आरती शर्मा, अनीता गुप्ता, सुमन, सीमा सैनी, भारती साहू, सुनीता, संदीप कौर, संतोष दूबे, प्रमीला, ज्योति, स्नेहलता, लक्ष्मी राजपूत, रेखा, रीना, सज्जू, सविता आदि शामिल थीं।

Edited By Jagran

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept
ट्रेंडिंग न्यूज़

मौसम