This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.
OK

कारगिल विजय दिवस पर वीर शहीदों को दी गई श्रद्धांजलि

कारगिल विजय दिवस की 22वीं वर्षगांठ पर जनपद के विभिन्न स्थानों पर वीर शहीदो को श्रद्धांजलि दी गई।

JagranMon, 26 Jul 2021 10:33 PM (IST)
कारगिल विजय दिवस पर वीर शहीदों को दी गई श्रद्धांजलि

जेएनएन, पिथौरागढ़: कारगिल विजय दिवस की 22वीं वर्षगांठ पर जनपद के विभिन्न स्थानों पर वीर शहीदों को याद कर उन्हें श्रद्धांजलि दी गई। जिला मुख्यालय स्थित शहीद स्मारक में वीरांगनाओं, शहीदों के स्वजनों को सम्मानित किया गया। कार्यक्रम के दौरान शहीदों की वीरगाथा सुनकर शहीदों के स्वजनों की आंखें नम हो गईं।

जिला मुख्यालय में चंडाक रोड में स्थित शहीद स्मारक में पुलिस जवानों ने शहीदों को गार्ड ऑफ ऑनर दिया। इस दौरान जिला पंचायत अध्यक्ष दीपिका बोहरा, नगर पालिका अध्यक्ष राजेंद्र सिंह रावत, जिलाधिकारी आनंद स्वरू प, पुलिस अधीक्षक सुखबीर सिंह, मुख्य विकास अधिकारी अनुराधा पाल समेत विभिन्न अधिकारियों, पूर्व सैनिकों, जनप्रतिनिधियों ने बारी-बारी से शहीदों के चित्र पर पुष्प अर्पित कर उन्हें श्रद्धांजलि दी। अपने संबोधन में जिपं अध्यक्ष दीपिका ने कहा कि उत्तराखंड राज्य सैन्य भूमि है। यहां हर घर से जवान देश की सेवा कर रहा है, जो हमारे लिए गर्व की बात है। नपा अध्यक्ष रावत ने कहा कि वीर शहीदों के नाम पर जो भी सड़क, भवन आदि कार्य होने हैं, वह शीघ्रता से किए जाने चाहिए, यही शहीदों के प्रति सच्ची श्रद्धांजलि होगी। जिलाधिकारी आनंद स्वरू प ने कहा कि जिले में देश के वीर शहीदों के नाम विभिन्न विद्यालय, सड़क आदि रखे गए हैं और विभिन्न घोषणाएं भी मुख्यमंत्री द्वारा की गई हैं, उन्हें शीघ्र ही पूर्ण किए जाने हेतु कार्यवाही गतिमान है। पुलिस अधीक्षक सुखबीर सिंह ने कहा कि हम सभी को वीर शहीदों के स्वजनों का सम्मान करते हुए उनकी हर संभव मदद करनी चाहिए। कार्यक्रम में एनसीसी छात्र-छात्राओं ने भी प्रतिभाग किया। शहीदों के स्वजनों का हुआ सम्मान

कार्यक्रम के दौरान कारगिल शहीद जोहार सिंह की पत्नी लीला देवी, शहीद किशन सिंह (सेना मेडल) की पत्नी तनुजा देवी, शहीद गिरीश सिंह की पत्नी शांति सामंत, शहीद कुंडल सिंह बेलाल की माता कूना देवी को सम्मानित किया गया। चित्रकला प्रतियोगिता के विजेता प्रतिभागी पुरस्कृत हुए

कारगिल विजय दिवस के अवसर पर बीते दिनों नेहरू युवा केंद्र व शिक्षा विभाग के संयुक्त तत्वाधान में आयोजित की गई चित्रकला प्रतियोगिता के विजेता प्रतिभागियों को भी प्रतीक चिन्ह व प्रशस्ति पत्र देकर पुरस्कृत किया गया। पुरस्कार पाने वाले अव्वल प्रतिभागियों में प्रज्ञा जोशी, दीक्षा जोशी, उज्ज्वल साही, रवि प्रसाद, रिया जोशी, सचिन जोशी, सागर नाथ, ज्योति धामी शामिल थे। ये रहे मौजूद

अपर जिलाधिकारी फिंचा राम चौहान, जिला सैनिक कल्याण अधिकारी अवकाश प्राप्त ले. कर्नल बीपी भट्ट, मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ. एचसी पंत, मुख्य शिक्षाधिकारी अशोक कुमार जुकरिया, सेवानिवृत्त कर्नल एसएस गुलेरिया, नेहरू युवा केंद्र समन्वयक ध्रुव डोगरा, पूर्व सैनिक संगठन से मेजर ललित सामंत, सूबेदार दान सिंह वल्दिया आदि मौजूद रहे। कार्यक्रम का संचालन पूर्व सैनिक नरेंद्र चंद ने किया। पूर्व सैनिक संगठन ने वड्डा क्षेत्र में शहीदों के स्वजनों को सम्मानित किया

कारगिल विजय दिवस पर वड्डा क्षेत्र में पूर्व सैनिक संगठन द्वारा शहीदों के स्वजनों का सम्मानित किया गया। संगठन की ओर से शहीद जवाहर सिंह की धर्मपत्नी, शहीद कुंडल सिंह की माता को शॉल ओढ़ाकर व स्मृति चिन्ह भेंट कर सम्मानित किया। कार्यक्रम के दौरान स्थानीय एसबीआइ के शाखा प्रबंधक द्वारा पूर्व सैनिकों को मिलने वाली सुविधाओं के बारे में अवगत कराया। इस मौके पर कर्नल तेज सिंह को संगठन की ओर से स्मृति चिन्ह भेंटकर सम्मानित किया गया। एलएसएम पीजी कॉलेज में प्राचार्य डॉ. अशोक नेगी के नेतृत्व में महाविद्यालय स्टाफ व छात्र-छात्राओं ने पौधरोपण कर शहीदों को श्रद्धांजलि अर्पित की। कार्यक्रम में डॉ. सरोज वर्मा, हरीश, तनुजा, पल्लवी, चित्रा, अशोक, मुकेश, हीरा, कपिल, आस्था आदि ने सहयोग प्रदान किया। घनश्याम ओली चाइल्ड वेलफेयर सोसाइटी द्वारा जाखनी तिराहे पर शहीद हेमंत सिंह महर बिष्ट स्मारक में दीप प्रज्ज्वलित कर शहीदों को श्रद्धांजलि दी। युवाओं को सेना भर्ती के लिए प्रशिक्षण दे रहे पूर्व सैनिक राजेंद्र देवलाल ने शहीदों की वीरगाथा सुनाकर देशभक्ति का संदेश दिया। एसडीएस राइंका में प्रधानाचार्य मोहन चंद्र पाठक के नेतृत्व में पौधरोपण कर शहीदों को श्रद्धांजलि दी गई। इस दौरान बीते दिनों कारगिल दिवस पर आयोजित की गई ऑनलाइन निबंध, चित्रकला प्रतियोगिताओं के परिणामों की घोषणा की गई। एसएसबी ने पौधरोपण अभियान चलाकर शहीदों को किया नमन

कारगिल विजय दिवस पर 55वीं वाहिनी एसएसबी के कार्यवाहक कमांडेंट माधव चंद्र घोष के नेतृत्व में वाहिनी के अधिकारियों व जवानों ने वाहिनी परिसर में बनाई गई पुलवामा शहीद वाटिका, संदीक्षा वाटिका व सभी सीमा चौकियों में 1330 फलदार व छायादार पौधे रोपे गए। घोष ने बताया कि प्रत्येक जवान दस पौधों की देखरेख की जिम्मेदारी लेगा। कार्यक्रम में सहायक कमांडेंट समीर राणा, अभ्युदय निंबा सालुंखे, निरीक्षक जसवंत सिंह, विकास बम्बेल, सहायक उपनिरीक्षक भरत चंद आदि मौजूद रहे। केंद्रीय विद्यालय में कार्यवाहक प्राचार्य अरविंद खरवार ने शहीदों के चित्र पर माल्यार्पण कर उन्हें श्रद्धांजलि दी। कार्यक्रम में शिक्षक अशोक कुमार ओझा, मुख्य अध्यापक एनपी सिंह गंगवार आदि मौजूद रहे। यूथ अपलिफ्ट मेंट और वेलफेयर एसोसिएशन (युवा) द्वारा जिला पंचायत सभागार में क्विज प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। कार्यक्रम में बतौर मुख्य अतिथि सेवानिवृत्त कर्नल वीरेंद्र भट्ट, महाविद्यालय की एनएसएस प्रमुख प्रो. सरोज वर्मा, अपर मुख्य अधिकारी जिला पंचायत भागवत पाटनी रहे। प्रतियोगिता में लवी मेहता, समीर कुमार, अभिनव कार्की की टीम विजय रही। राजकीय महाविद्यालय बलुवाकोट में सैन्य विज्ञान विभाग की ओर से आयोजित कार्यक्रम का शुभारंभ करते हुए प्राचार्य डॉ. डीसी पंत ने वीर शहीदों के बलिदान को याद करते हुए उन्हें श्रद्धासुमन अर्पित किए। इस मौके पर संयोजक डॉ. अतल चंद, डॉ. जगत सिंह कठायत, डॉ. नवीन कुमार, गीतांजलि मिश्रा, डॉ. डीएन भट्ट, चंद्रा नबियाल, राहुल तिवारी, विकेश कुमार आदि ने विचार रखे।

विजय उप्रेती

Edited By Jagran

पिथौरागढ़ में कोरोना वायरस से जुडी सभी खबरे

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
Jagran Play

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

  • game banner
  • game banner
  • game banner
  • game banner