राज्य में 29 शहरों के 178 केंद्रों में होगी यूटीईटी

26 नवंबर को होने वाली उत्तराखंड अध्यापक पात्रता परीक्षा (यूटीईटी) राज्य के 178 केंद्रो पर होगी।

JagranPublish: Thu, 18 Nov 2021 10:01 PM (IST)Updated: Thu, 18 Nov 2021 10:01 PM (IST)
राज्य में 29 शहरों के 178 केंद्रों में होगी यूटीईटी

संस, रामनगर : 26 नवंबर को होने वाली उत्तराखंड अध्यापक पात्रता परीक्षा (यूटीईटी) को लेकर नोडल परीक्षा केंद्र प्रभारियों की बैठक रामनगर में हुई। यूटीईटी उत्तराखंड में 29 शहरों के 178 केंद्रों में आयोजित की जाएगी। टीईटी प्रथम में 44973 व द्वितीय में 39874 परीक्षार्थी बैठेगे।

प्राथमिक व जूनियर शिक्षक बनने के लिए यूटीईटी प्रथम व द्वितीय उत्तीर्ण का प्रमाणपत्र अनिवार्य है। यूटीईटी का आयोजन कराने की जिम्मेदारी हर साल उत्तराखंड विद्यालयी शिक्षा परिषद पर रहती है। परिषद द्वारा यूटीईटी के आवेदन ऑनलाइन भरने की तिथि एक सितंबर से 30 सितंबर तक निर्धारित की गई थी। गुरुवार को परिषद के सभागार में 29 नोडल परीक्षा केंद्र प्रभारियों के साथ बोर्ड सचिव नीता तिवारी ने बैठक की। सचिव ने बताया कि परीक्षा में प्रश्नपत्र खोलने व कापी जमा करने में सावधानी बरती जाए। कोई शका होने पर अधिकारियों से जानकारी ले लें। बताया गया कि परीक्षा पहली पाली में प्रात: दस बजे से साढ़े 12 बजे व दूसरी पाली में दो बजे से शाम साढ़े चार बजे तक होगी। परीक्षा सामग्री भी केंद्र प्रभारियों को उपलब्ध कराई गई। उन्होंने बताया कि परीक्षार्थियों के प्रवेश पत्र विभागीय वेबसाइट डब्ल्यूडब्ल्यूडब्ल्यू.यूकेयूटेट.कॉम से डाउनलोड किए जा सकेंगे। इस दौरान अपर सचिव एनसी पाठक, संयुक्त सचिव केके वाष्र्णेय, उपसचिव सीपी रतूड़ी, बीएस बंगारी, सुनील रावत, विजय मासीवाल, पंकज जोशी, डीएस रौतेला, आरसी पाडेय मौजूद रहे।

वहीं दूसरी ओर उत्तराखंड बोर्ड ने रिजल्ट से असंतुष्ट छात्रों द्वारा दी गई परीक्षा का गुरुवार को रिजल्ट घोषित कर दिया। नौ परीक्षार्थियों में से ऊधमसिंहनगर जिले का एक छात्र फेल हो गया। हाईस्कूल का सौ व इटर का 80 प्रतिशत रिजल्ट रहा।

कोविड की वजह से हाईस्कूल व इटर की परीक्षा शासन द्वारा स्थगित कर दी थी। छात्रों के पूर्व प्राप्ताकों के आधार पर उन्हे 31 जुलाई को उत्तीर्ण किया गया था। लेकिन संस्थागत नौ छात्र ऐसे थे, जो परिषद द्वारा दिए गए प्राप्ताकों से संतुष्ट नहीं थे। उन्होंने परीक्षा देने के लिए अगस्त में उत्तराखंड विद्यालयी शिक्षा परिषद में आवेदन किया था। इटर में अल्मोड़ा जिले व उधमसिंहनगर जिले से 12 वीं के चार छात्र व नैनीताल से एक छात्र ने आवेदन किया था। इसके अलावा दसवीं के लिए हरिद्वार व नैनीताल जिले से चार छात्रों ने आवेदन किया था। 22 सितंबर से 28 सितंबर तक परीक्षा आयोजित की गई थी। गुरुवार को उत्तराखंड बोर्ड की सभापति सीमा जौनसारी की संस्तुति पर सचिव नीता तिवारी ने रिजल्ट घोषित किया। सचिव तिवारी ने बताया कि हाईस्कूल में चार में छात्र उत्तीर्ण हुए है। जबकि इटर में पाच में से चार ही छात्र उत्तीर्ण हुए। उधमसिंहनगर का एक छात्र फेल हो गया। रिजल्ट को परिषद की वेबसाइट डब्ल्यूडब्लयूडब्ल्यू.यूबीएसई.जीओवी.इन पर देख सकते है। परीक्षार्थियों के प्रमाण पत्र-सह अंक पत्र विद्यालयों को भेजे जा रहे है।

Edited By Jagran

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept