बांग्लादेश से पं. बंगाल के रास्ते उत्तराखंड में खपाई जा रही थी ड्रग्स, ऊधमसिंह नगर में नशे की खेप संग तीन दबोचे

एसओजी और एंटी ड्रग्स टास्क फोर्स ने एक किलो एमडीएमए (मिथाइल एनेडियोक्सी मेथामफेटामाइन) और 31.17 ग्राम स्मैक बरामद किया है। इसकी अंतरराष्ट्रीय कीमत करीब 1.30 करोड़ रुपये आंकी जा रही है। पुलिस ने तीनों तस्करों के खिलाफ एनडीपीएस एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज कर जेल भेज दिया है।

Prashant MishraPublish: Tue, 25 Jan 2022 10:47 PM (IST)Updated: Tue, 25 Jan 2022 10:47 PM (IST)
बांग्लादेश से पं. बंगाल के रास्ते उत्तराखंड में खपाई जा रही थी ड्रग्स, ऊधमसिंह नगर में नशे की खेप संग तीन दबोचे

जागरण संवाददाता, रुद्रपुर (ऊधमसिंह नगर) : बांग्लादेश से पश्चिम बंगाल के रास्ते ऊधम सिंह नगर में ड्रग्स की सप्लाई करने वाले तीन तस्करों से एसओजी और एंटी ड्रग्स टास्क फोर्स ने एक किलो एमडीएमए (मिथाइल एनेडियोक्सी मेथामफेटामाइन) और 31.17 ग्राम स्मैक बरामद किया है। इसकी अंतरराष्ट्रीय कीमत करीब 1.30 करोड़ रुपये आंकी जा रही है। पुलिस ने गिरफ्तार गदरपुर समेत पश्चिम बंगाल के तीनों तस्करों के खिलाफ एनडीपीएस एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज कर जेल भेज दिया है।

एसएसपी बरिंदरजीत सिंह ने बताया कि सोमवार रात एंटी ड्रग्स टास्क फोर्स और एसओजी काशीपुर रोड पर सीओ सिटी अभय कुमार के नेतृत्व में फ्लाई ओवर के पास चेकिंग कर रहे थे। इस दौरान बाइक यूके-06-एएस-6011 में सवार तीन युवकों को रोक लिया। इस पर पुलिस ने बाइक सवार तीनों युवकों से पूछताछ कर उनकी तलाशी शुरू कर दी। 

पूछताछ में उन्होंने अपना नाम पिपलिया नंबर एक, गदरपुर निवासी शुभांकर विश्वास पुत्र सुभाष विश्वास, पश्चिम बंगाल, जिला उत्तर 24 परगना कोलकाता, थाना गाईगाटा, शीमलपुर निवासी विश्वजीत मजूमदार पुत्र जितेन मजूमदार तथा पश्चिम बंगाल, जिला उत्तर 24 परगना कोलकाता के थाना हावड़ा, फुलतला निवासी खोकन गोलदार पुत्र धोलु गोलदार बताया। तीनों की तलाशी में शुभांकर विश्वास के पास से पुलिस को 10.50 ग्राम स्मैक बरामद हुई। विश्वजीत मजूमदार के पास से 502 ग्राम एमडीएमए ड्रग्स (हेरोइन) व 10.40 ग्राम स्मैक बरामद हुई। जबकि खोकन गोलदार के पास से 501 ग्राम एमडीएमए ड्रग्स (हेरोइन) और 10.27 ग्राम स्मैक बरामद हुई। 

बताया कि बरामद एक किलो एमडीएमए और 31.17 ग्राम स्मैक की कीमत अंतरराष्ट्रीय बाजार में करीब 1.30 करोड़ रुपये हैं। तीनों ने पूछताछ में बताया कि वह ड्रग्स बांग्लादेश से खरीदकर ऊधम सिंह नगर, बरेली, रामपुर, हल्द्वानी में सप्लाई करते हैं। पुलिस ने तीनों के खिलाफ एनडीपीएस एक्ट में मुकदमा दर्ज कर जेल भेज दिया है।

26 जनवरी को टीम होगी पुरस्कृत

एसओजी और एंटी ड्रग्स टास्क फोर्स को डीआइजी नीलेश आनंद भरणे ने 50 हजार रुपये देने की घोषणा की है। जबकि एसएसपी बरिंदरजीत सिंह ने टीम को 25 हजार रुपये के इनाम देने की घोषणा की है। जिसे बुधवार को 26 जनवरी को पुलिस लाइन में दिया जाएगा। पुलिस टीम में सीओ सिटी अभय सिंह, एसओजी प्रभारी कमलेश भट्ट, एंटी ड्रग्स टास्क फोर्स प्रभारी कमाल हसन, एसआइ विकास चौधरी, एसआइ सुरेंद्र प्रताप, कांस्टेबल भूपेंद्र रावत, भूपेंद्र आर्या, गणेश पांडे, प्रमोद कुमार, राजकुमार, रवींद्र सिंह, राजेंद्र कुमार, नीरज शुक्ला, विनोद कन्याल, महिला कांस्टेबल कंचन शामिल हैं।

Edited By Prashant Mishra

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept