This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.
OK

अल्मोड़ा में पंद्रह दिन में शुरू करें ऑक्सीजन प्लांट : सीएम तीरथ

रावत ने कोविड-19 हॉस्पिटल (बेस चिकित्सालय) स्थित मेडिकल कॉलेज ब्लॉक में निर्माणाधीन ऑक्सीजन जनरेशन प्लांट का निर्माण हर हाल में 25 मई तक पूरा करने के निर्देश दिए। उन्होंने कार्यदायी संस्था हिंदुस्तान लेटैक्स लिमिटेड (एचएलएल) के उच्चाधिकारियों से भी गहन मंत्रणा की।

Prashant MishraTue, 11 May 2021 02:18 PM (IST)
अल्मोड़ा में पंद्रह दिन में शुरू करें ऑक्सीजन प्लांट : सीएम तीरथ

जागरण संवाददाता, अल्मोड़ा : मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने कोविड-19 हॉस्पिटल (बेस चिकित्सालय) स्थित मेडिकल कॉलेज ब्लॉक में निर्माणाधीन ऑक्सीजन जनरेशन प्लांट का निर्माण हर हाल में 25 मई तक पूरा करने के निर्देश दिए। उन्होंने कार्यदायी संस्था हिंदुस्तान लेटैक्स लिमिटेड (एचएलएल) के उच्चाधिकारियों से भी गहन मंत्रणा की। साथ ही महासंकट के मद्देनजर प्लांट को मूर्तरूप देने के लिए तेजी लाने को कहा। साथ ही मेडिकल कॉलेज के अधूरे निर्माण कार्यों को भी शीघ्र पूरा करने की हिदायत दी। ताकि महाकारी की दूसरी लहर में पेश आ रही चुनौतियों से निपटने में मदद मिल सके। सीएम ने कहा कि अल्मोड़ा के लिए 35 आॅक्सीजन कंसंट्रेटर मशीनों का आवंटन किया गया है जो एकाध दिन में मिल जाएंगे। भरोसा दिलाया कि संक्रमण की रोकथाम को जरूरी संसाधनों की कमी आड़े नहीं आने दी जाएगी। 

कोरोना संक्रमण की बढ़ती रफ्तार और कोविड-19 हॉस्पिटल (बेस चिकित्सालय) व मेडिकल कॉलेज के ब्लॉक में महामारी से निपटने को किए जा रहे कार्यों का निरीक्षण करने सोमवार को सीएम तीरथ यहां पहुंचे। उन्होंने कोरोना संक्रमण की चपेट में आए मरीजों की ताजा स्थिति जानने को स्थापित हैल्प डेस्क का मुआयना किया। सीएम ने रोजाना हो रही आरटीपीसीआर की सैंपलिंग का ब्योरा सुरक्षित रखने को तैयार डिजिटल डिस्प्ले सिस्टम तथा कोविड कंट्रोल रूम का भी निरीक्षण किया। उन्होंने सीएनडीएस के निर्माणाधीन 12 बेड वाले आइसीयू कक्षों का बारीकी से जायजा लिया। साथ ही इसे जल्द संचालित करने के निर्देश दिए। सीएम ने बेहतर इलाज पर जोर देते हुए कहा कि कोरोना मरीजों के इलाज में कोई कमी न छोड़ें। सीएम ने यह भी कहा कि मेडिकल कॉलेजों में अंतिम वर्ष के छात्रों व पूर्व सैनिकों की सेवाएं लेकर मैनपॉवर की कमी को दूर कर कोरोना से जंग लड़ी जाएगी। 

महासंकट में सरकार आमजन के साथ 

सीएम तीरथ राजकीय होटल मैनेजमेंट में चल रहे वैक्सीनेशन सेंटर के निरीक्षण को भी पहुंचे। टीकाकरण करा रहे लोगों से बात की। वैक्सीन के लिए प्रेरित कर कोरोना को हराने पर जोर दिया। सीएम ने कहा कि प्रदेश में 18 से 44 आयु वर्ग वालों का निश्शुल्क टीकाकरण शुरू हो चुका है। इसमें 400 करोड़ रुपये से ज्यादा खर्च होगा। इसका वहन राज्य सरकार कर रही है। भरोसा दिलाया कि महासंकट की इस घड़ी में राज्य सरकार आमजन के साथ खड़ी है। सभी को बेहतर स्वास्थ्य सुविधाएं उपलब्ध कराने को हरसंभव कोशिश की जा रही है। 

मीडियाकर्मी फ्रंट लाइन वर्कर घोषित 

सीएम ने कहा कि महासंकट के इस दौर मेें मीडिया कर्मियों की भूमिका अहम रही है। पत्रकारिता के रूप में चौथे स्तंभ की महत्ता को देखते हुए उन्हें फ्रंट लाइन वर्कर घोषित कर प्राथमिकता के आधार पर टीकाकरण कराया जा रहा है। कहा कि आमजन तक हरेक गतिविधि व सूचनाएं पहुंचाने में मीडिया कर्मियों का रोल अहम है। 

कालाबाजारी पर हो सख्त कार्रवाई 

होटल प्रबंध संस्थान में संक्षित बैठक कर सीएम ने अधिकारियों को कोरोना संक्रमण की रोकथाम को बेहतर प्रबंधन, जीवनरक्षक दवाओं व उपकरणों की कालाबाजारी करने वालों पर कड़ी कार्रवाई के निर्देश दिए। जिले की सीमाओं पर कड़ी निगरानी व हरेक व्यक्ति की गहन जांच को कहा। डीएम नितिन सिंह भदौरिया ने जिले में करोना संक्रमण की रोकथाम को जरूरी तैयारी व व्यवस्थाओं के बारे में पॉवर प्वाइंट के जरिये बताया। 

प्राचार्य ने सीएम को गिनाई समस्याएं 

प्राचार्य मेडिकल कॉलेज डा. रामगोपाल नौटियाल ने कार्यों की प्रगति तथा पेश आ रही समस्याओं के बारे में सीएम को रूबरू कराया। इस पर मुख्यमंत्री ने शीघ्र समाधान का भरोसा दिलाया। विधानसभा उपाध्यक्ष रघुनाथ सिंह चौहान, सांसद अजय टम्टा, विधायक सल्ट महेश सिंह जीना व महेश नेगी द्वाराहाट ने क्षेत्रीय समस्याएं गिनाईं। 

ये रहे मौजूद 

कैबिनेट मंत्री सुबोध उनियाल, बाल विकास राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) रेखा आर्या, सांसद नैनीताल अजय भट्ट, एसएसपी पंकज भट्ट, सीडीओ नवनीत पांडे, एडीएम बीएल फिरमाल, सीएमओ डा. सविता ह्यांकी, एसीएमओ डा. योगेश पुरोहित, डा. दीपांकर डेनियल, एसडीएम सीमा विश्वकर्मा व मोनिका, तहसीलदार संजय कुमार, पीएमएस बेस डा. एचसी गढ़कोटी, आपदा प्रबंधन अधिकारी राकेश जोशी, अनिल आर्या के साथ ही वरिष्ठ भाजपा नेता गोविंद सिंह पिलख्वाल, जिलाध्यक्ष रवि रौतेला, रमेश बहुगुणा, कैलाश गुरुरानी आदि मौजूद रहे।

 

Uttarakhand Flood Disaster: चमोली हादसे से संबंधित सभी सामग्री पढ़ने के लिए क्लिक करें

Edited By: Prashant Mishra

नैनीताल में कोरोना वायरस से जुडी सभी खबरे

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!