This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.
OK

ड्राॅप आउट बालिकाओं को शिक्षा की मुख्य धारा से जोड़ें

बेटी पढ़ाओ-बेटी बचाओ टास्क फोर्स की बैठक लेते हुए डीएम विनोद कुमार सुमन ने विशेष अभियान चलाकर ड्राप आउट बालिकाओं को शिक्षा की मुख्य धारा से जोडऩे के निर्देश दिए हैं।

Skand ShuklaSat, 15 Jun 2019 12:42 PM (IST)
ड्राॅप आउट बालिकाओं को शिक्षा की मुख्य धारा से जोड़ें

नैनीताल, जेएनएन : बेटी पढ़ाओ-बेटी बचाओ टास्क फोर्स की बैठक लेते हुए डीएम विनोद कुमार सुमन ने विशेष अभियान चलाकर ड्राॅप आउट बालिकाओं को शिक्षा की मुख्य धारा से जोडऩे के निर्देश दिए हैं। उन्होंने समाज में बालिकाओं का लिंगानुपात बढ़ाने व सामाजिक व मानसिक उत्थान के लिए तालमेल से काम करने के निर्देश अधिकारियों को दिए। डीएम ने महिलाओं के प्रति समाज में फैली कुरीतियों को नुक्कड़ नाटक समेत अन्य माध्यमों से मिटाने का आह्वïान किया। कलेक्ट्रेट में बैठक लेते हुए डीएम ने चिकित्सा विभाग को कन्या भ्रूण हत्या रोकने, लिंग परीक्षण पर प्रभावी नियंत्रण करने के निर्देश दिए।

उत्कृष्ट बालिकाओं व महिलाओं को मंच पर सम्मानित करने, बालिकाओं को प्रतिभा प्रदर्शन के लिए मंच मुहैया कराने को कहा। साथ ही चिकित्सा, शिक्षा व बाल विकास विभाग के बालिकाओं के मध्य पेटिंग प्रतियोगिता में प्रचार मद का दस फीसद खर्च करने के निर्देश दिए। डीएम ने ब्लॉक स्तर पर हाईस्कूल और इंटर पास तीन-तीन बालिकाओं और जिलास्तर पर पांच बालिकाओं को सम्मानित करने के निर्देश भी दिए। उधर, डीएम ने राष्टï्रीय स्वास्थ्य कार्यक्रम की समीक्षा बैठक में डीएम ने किशोर-किशोरियों को युवावस्था में होने वाले मानसिक व शारीरिक बदलाव के विषय में जागरूक करने के निर्देश दिए। डीएम ने विद्यार्थियों के पोषण में सुधार, चोट रहित ङ्क्षहसा से बचाव, नशे से होने वाली हानियों,  संचारी व गैर संचारी रोगों के रोकथाम को निश्शुल्क परामर्श देने को कहा है। सीएमओ डॉ. भारती राणा ने बताया कि जिले में राष्टï्रीय किशोर स्वास्थ्य कार्यक्रम के अंतर्गत एक जिला कार्यक्रम अधिकारी, दस किशोर परामर्शदाता कार्य कर रहे हैं। बेस चिकित्सालय हल्द्वानी, एसटीएच व समस्त विकासखंडों के सीएचसी व पीएचसी में निश्शुल्क परामर्श केंद्र बनाया गए हैं। डीएम ने महत्वपूर्ण जीजीआइसी का चयन कर नैपकिन यूनिट लगाने के निर्देश भी दिए। बैइक में सीडीओ विनीत कुमार, ए सीएमओ रश्मि पंत, डीपीओ अनुलेखा बिष्टï, सीईओ केके गुप्ता, जिला प्रोबेशन अधिकारी अंजना गुप्ता आदि मौजूद थे।

लिंग परीक्षण की सूचना पर मिलेगा 10 हजार इनाम

नैनीताल : डीएम विनोद कुमार सुमन की अध्यक्षता में पीसीपीएनडीटी समिति की बैठक हुई, जिसमें कहा गया कि लिंग परीक्षण की सूचना देने वाले को 10 हजार रुपये इनाम दिया जाएगा। डीएम ने बिना पंजीकृत अल्ट्रासाउंड सेंटर को सील करने के निर्देश भी दिए। उन्होंने भ्रूण परीक्षण की निगरानी के लिए समस्त मशीनों में साइलेंट ऑब्जर्वर व ट्रेकिंग डिवाइस लगाना सुनिश्चित करने को कहा है। शुक्रवार को समिति की बैठक में डीएम ने लिंग परीक्षण पर प्रभावी रोक के लिए स्वास्थ्य व बाल विकास विभाग से समन्वय से काम करने व गर्भवती महिलाओं के आवागमन व क्रियाविधि पर पैनी नजर रखने को कहा है। सीएमओ डॉ भारती राणा ने बताया कि जिले में निजी चिकित्सालयों की क्रीयाशील 49 अल्ट्रासाउंड मशीनों पर साइलेंट आब्जर्वर स्थापित किए जा चुके हैं। जिले में 51 पंजीकृत अस्पताल हैं। कहा कि 2017-18 में प्रति हजार बालकों पर 903 बालिका, पिछले साल एक हजार में 940 बालिकाएं हैं। सर्वाधिक लिंगानुपात वाला ब्लॉक भीमताल है, जहां लिंगानुपात 1221 है जबकि सबसे कम वाला धारी है, जहां एक हजार में 799 बालिकाएं हैं।

यह भी पढ़ें : शिक्षक की नौकरी छोड़कर पेड़ों काे बचाने में जुटे चंदन, जानिए इनके प्रयास को : nainital news

यह भी पढ़ें : हल्द्वानी के जय बिष्ट ने जेईई एडवांस में दिखाई प्रतिभा

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

नैनीताल में कोरोना वायरस से जुडी सभी खबरे

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!