This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.
OK

2020 में शुरू हो जाएगा अल्मोड़ा मेडिकल कॉलेज, रेफरल अस्पतालों को अपग्रेड करना है प्राथमिकता : अपर सचिव स्वास्थ्य

अपर सचिव स्वास्थ्य ने कह कि मरीज पहले रेफर होने पहुंचते हैं वहां उन्हें हरसंभव इलाज मिल सके। सभी तरह की सुविधाएं उपलब्ध हों इसके लिए प्रस्ताव तैयार किया जा रहा है।

Skand ShuklaTue, 31 Dec 2019 05:17 PM (IST)
2020 में शुरू हो जाएगा अल्मोड़ा मेडिकल कॉलेज, रेफरल अस्पतालों को अपग्रेड करना है प्राथमिकता : अपर सचिव स्वास्थ्य

हल्द्वानी, जेएनएन : अपर सचिव स्वास्थ्य व एनएचएम के निदेशक युगल किशोर पंत ने कहा कि पहले रेफरल अस्पतालों को अपग्रेड करना हमारी प्राथमिकता है। मरीज पहले रेफर होने पहुंचते हैं, वहां उन्हें हरसंभव इलाज मिल सके। सभी तरह की सुविधाएं उपलब्ध हों, इसके लिए प्रस्ताव तैयार किया जा रहा है। इसके अलावा 2020 में अल्मोड़ा मेडिकल कॉलेज को शुरू कर दिया जाएगा।

पत्रकारों से मुखातिब अपर सचिव ने कहा कि महिला अस्पताल में डॉक्टरों की कमी है। पद सृजित करने के साथ ही नियुक्ति के लिए अध्याचन भेजा गया है। रुद्रपुर में मेडिकल कॉलेज के लिए अस्पताल बन चुका है। टीचिंग व एकेडमिक ब्लॉक समेत अन्य निर्माण कार्य भी किए जाएंगे। पंत ने कहा कि 2020 में अल्मोड़ा मेडिकल कॉलेज को शुरू करा दिया जाएगा। इसके लिए हरसंभव प्रयास किए जा रहे हैं। साथ ही उन्होंने निरीक्षण के दौरान नए भवन के निर्माण की संभावना टटोली और अभियंताओं को प्रस्ताव तैयार करने के निर्देश दिए।

ईएमओ, एलएमओ नहीं होने से दिक्कत

मेयर डॉ. जोगेंद्र रौतेला ने अपर सचिव को अवगत कराया कि अस्पताल में डॉक्टरों की कमी है। सभी विशेषज्ञ डॉक्टर उपलब्ध कराए जाने का अनुरोध किया। बेस अस्पताल में डॉ. डीएस पंचपाल ने बताया कि इमरजेंसी मेडिकल ऑफिसर नहीं है। स्पेशलिस्ट डॉक्टरों को ही ओपीडी, ऑपरेशन से लेकर इमरजेंसी में सेवा देनी पड़ती है। इससे भी कार्य प्रभावित होता है।

गौलापार में एंबुलेंस व मोटाहल्दू में भवन निर्माण का उठाया मुद्दा

गौलापार निवासी रविशंकर जोशी ने गौलापार खेडा अस्पताल में पिछले तीन साल से खड़ी एंबुलेंस को चलवाने की मांग की। साथ ही लंबे समय तक एंबुलेंस को कबाड़ा करने के लिए जिम्मेदार अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई की भी गुहार लगाई। साथ ही हल्दूचौड़ में निर्माणाधीन अस्पताल में हुई लापरवाही की भी जांच की मांग उठाई। पार्षद मनोज जोशी ने अस्पतालों में स्वास्थ्य सुविधाएं दुरुस्त करने की मांग की।

यह भी पढ़ें : ऐपण के लिए बाजार उपलब्ध कराएगा प्रशासन, जिलों में बनेंगे आउटलेट

Edited By: Skand Shukla

नैनीताल में कोरोना वायरस से जुडी सभी खबरे

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!