उत्तराखंड में बारिश-बर्फबारी का दौर जारी, दो दर्जन से अधिक मार्ग अवरुद्ध; जानें- क्या है मौसम विभाग का पूर्वानुमान

Today Uttarakhand Weather News Update पहाड़ों में भारी हिमपात के कारण राष्ट्रीय राजमार्ग समेत दो दर्जन से अधिक संपर्क मार्ग अवरुद्ध हो गए हैं। बर्फबारी से बंद मार्गों को जेसीबी से सुचारु करने का प्रयास किया जा रहा है।

Raksha PanthriPublish: Mon, 24 Jan 2022 07:56 AM (IST)Updated: Mon, 24 Jan 2022 07:56 AM (IST)
उत्तराखंड में बारिश-बर्फबारी का दौर जारी, दो दर्जन से अधिक मार्ग अवरुद्ध; जानें- क्या है मौसम विभाग का पूर्वानुमान

जागरण संवाददाता, देहरादून। Today Uttarakhand Weather News Update उत्तराखंड में मौसम ने दुश्वारियां बढ़ा दी हैं। समूचे प्रदेश में लगातार दूसरे दिन बारिश-बर्फबारी का क्रम जारी रहा। पहाड़ों में भारी हिमपात के कारण राष्ट्रीय राजमार्ग समेत दो दर्जन से अधिक संपर्क मार्ग अवरुद्ध हो गए हैं। बर्फबारी से बंद मार्गों को जेसीबी से सुचारु करने का प्रयास किया जा रहा है। मैदानों में लगातार हो रही बारिश से शीत दिवस की स्थिति रही, जबकि पहाड़ों में सर्द हवा ने आमजन की परेशानी बढ़ा दी। राज्य मौसम विज्ञान केंद्र के अनुसार, आज भी ज्यादातर इलाकों में बारिश और बर्फबारी की आशंका है।

प्रदेश में पिछले चार दिन से मौसम का मिजाज बदला हुआ है। शुक्रवार को कुछ इलाकों में धूप खिलने के बाद प्रदेशभर में घने बादलों ने डेरा डाल लिया था। इसके बाद देर रात शुरू हुआ बारिश का क्रम शनिवार और रविवार को भी जारी रहा। इस बीच ऊंचाई वाले इलाकों में हिमपात के कई दौर हुए। देहरादून, हरिद्वार समेत मैदानी इलाकों में दिनभर रिमझिम बारिश हुई। बदरीनाथ, केदारनाथ, गंगोत्री, यमुनोत्री, औली, हर्षिल, चौखंभा, धनोल्टी, नागटिब्बा, मसूरी, नैनीताल, मुनस्यारी समेत तमाम ऊंचाई वाले इलाकों में हिमपात हुआ। चकराता के पास लोखंडी की पहाडिय़ां भी बर्फ से लकदक हो गई हैं।

उधर, कुमाऊं में रात से ही बारिश और हिमपात का क्रम बना हुआ है। नैनीताल के ऊंचाई वाले हिमालय व्यू और किलबरी क्षेत्र में सुबह बर्फबारी के बाद शीतलहर चल रही है। बागेश्वर जिले में कपकोट, ग्वालदम व पिनाथ की पहाडिय़ों समेत आसपास के गांवों में लगातार हिमपात हो रहा है। पिथौरागढ़ के मुनस्यारी में रात से ही हिमपात जारी है। इससे थल-मुनस्यारी, दारमा और कैलास मानसरोवर यात्रा मार्ग बंद हो गए हैं।

कालामुनि, बिटलीधार, बलाती में दो से तीन फीट तक हिमपात हो चुका है। मुनस्यारी में न्यूनतम तापमान माइनस चार डिग्री सेल्सियस पहुंच चुका है। रानीखेत के चौबटिया, शीतलाखेत व स्याहीदेवी की चोटियों पर सुबह बर्फबारी हुई। इधर, गांगोत्री राष्ट्रीय राजमार्ग हर्षिल के पास बंद है। धनोल्टी के पास चंबा मार्ग भी बर्फबारी से बंद हो गया है। इसके अलावा पहाड़ों में दो दर्जन से अधिक संपर्क मार्ग हिमपात से पूरी तरह अवरुद्ध हो गए हैं। ज्यादातर इलाकों में अधिकतम तापमान में सामान्य से पांच से 10 डिग्री सेल्सियस की गिरावट दर्ज की गई है।

राज्य मौसम विज्ञान केंद्र के निदेशक बिक्रम सिंह के अनुसार प्रदेश में सोमवार को भी मौसम के मिजाज में बदलाव के आसार नहीं हैं। ज्यादातर इलाकों में हल्की से मध्यम बारिश हो सकती है। 2000 मीटर से अधिक ऊंचाई वाले इलाकों में हिमपात के आसार हैं। हरिद्वार और ऊधमसिंह नगर के कुछ इलाकों में शीत दिवस की स्थिति रह सकती है।

यह भी पढ़ें- बर्फ की सफेद चादर ओढ़ और भी खूबसूरत नजर आई मसूरी-धनोल्टी, पर्यटकों ने की अठखेली; तस्वीरें

Edited By Raksha Panthri

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept
ट्रेंडिंग न्यूज़

मौसम