उत्तराखंड में निचले स्थानों पर लाए जाएंगे 24 मतदान केंद्र, जानिए राज्य में कब होना है मतदान

Uttarakhand Election 2022 14 फरवरी को विधानसभा चुनाव के लिए मतदान होना है। फरवरी में प्रदेश के पर्वतीय इलाकों में काफी बर्फबारी होती है। इसे देखते हुए निर्वाचन आयोग अधिक ऊंचाई वाले क्षेत्रों से मतदान केंद्रों को कम ऊंचाई वाले क्षेत्रों में लाने की तैयारी कर रहा है।

Raksha PanthriPublish: Tue, 18 Jan 2022 11:20 AM (IST)Updated: Tue, 18 Jan 2022 12:07 PM (IST)
उत्तराखंड में निचले स्थानों पर लाए जाएंगे 24 मतदान केंद्र, जानिए राज्य में कब होना है मतदान

राज्य ब्यूरो, देहरादून। Uttarakhand Election 2022 उत्तराखंड में 14 फरवरी को विधानसभा चुनाव के लिए मतदान होना है। फरवरी में प्रदेश के पर्वतीय इलाकों में काफी बर्फबारी होती है। इसे देखते हुए निर्वाचन आयोग अधिक ऊंचाई वाले क्षेत्रों से मतदान केंद्रों को कम ऊंचाई वाले क्षेत्रों में लाने की तैयारी कर रहा है। निर्वाचन आयोग ने ऐेसे 24 मतदान केंद्र चिह्नित किए हैं, जिन्हें मतदान के लिए ऊंचाई वाले स्थानों से निचले स्थानों पर लाया जाएगा।

उत्तराखंड में विधानसभा चुनाव को लेकर राज्य का मुख्य निर्वाचन अधिकारी कार्यालय पूरी तैयारियों में जुट गया है। चुनाव के लिए प्रदेश में 11647 मतदान केंद्र बनाए गए हैं। इनमें सबसे अधिक 1706 मतदान केंद्र देहरादून और सबसे कम 320 मतदान केंद्र चम्पावत में हैं। इन सभी मतदान केंद्रों में रैंप, पेयजल, पर्याप्त फर्नीचर, प्रकाश, हेल्प डेस्क, उचित संकेतांक, शौचालय तथा वर्षा व धूप से बचाने के लिए शेड की व्यवस्था की गई है।

अब आयोग की नजरें मौसम पर भी टिकी हुई हैं। दरअसल, उत्तराखंड में फरवरी में पहाड़ों का मौसम बदला हुआ रहता है। इस दौरान काफी बारिश और बर्फबारी होती है। प्रदेश में कई गांव ऐसे हैं, जो इस दौरान खाली हो जाते हैं। यहां रहने वाले लोग कुछ महीनों के लिए निचले इलाकों में आ जाते हैं। बर्फबारी समाप्त होने और गर्मियों की शुरुआत में ये लोग फिर से वापस ऊंचाई वाले इलाकों में चले जाते हैं। ये लोग साल के अधिकांश समय ऊंचाई वाले इलाकों में ही रहते हैं। इनके लिए उन स्थानों पर मतदान केंद्र बनाए गए हैं, जहां वे गर्मियों के दौरान होने वाले पंचायत व अन्य चुनावों में मतदान करते हैं।

अब इस बार फरवरी में मतदान होना है और इन इलाकों में रहने वाले लोग नीचे आ रहे हैं। इस कारण निर्वाचन आयोग ने इन मतदान केंद्रों को भी इनके साथ ही नीचे लाने का निर्णय लिया है। आयोग ने 24 ऐसे मतदान केंद्र चिह्नित किए हैं, जिन्हें नीचे लाया जाएगा। इनमें पिथौरागढ़ के 14, चमोली के 13 और उत्तरकाशी का एक मतदान केंद्र शामिल है। सहायक निर्वाचन आयुक्त मस्तूदास ने बताया कि इन मतदान केंद्रों को नीचे लाने की तैयारी हो चुकी है। जल्द ही इनकी जगह चिह्नित कर दी जाएगी।

यह भी पढ़ें- हरक ने लांघी थी अनुशासन की सीमा, नड्डा के निर्देश पर हुई कार्रवाई; ऐसा करने वालों के साथ यही होगा; जानें किसने कहा

Edited By Raksha Panthri

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept