जानें- कौन है वो युवा चेहरा, जिसपर कांग्रेस ने रुद्रप्रयाग सीट से खेला है दाव; भाजपा के सिटिंग विधायक मैदान में

Uttarakhand Election 2022 प्रदीप थपलियाल को रुद्रप्रयाग विधानसभा सीट से अपना प्रत्याशी बनाकर युवा चेहरे पर दांव खेला है। साथ ही रुद्रप्रयाग विधानसभा क्षेत्र की सबसे बडे़ क्षेत्र जखोली से उम्मीदवार बनाकर क्षेत्रीय संतुलन को साधने का प्रयास किया है।

Raksha PanthriPublish: Sun, 23 Jan 2022 10:34 AM (IST)Updated: Sun, 23 Jan 2022 10:34 AM (IST)
जानें- कौन है वो युवा चेहरा, जिसपर कांग्रेस ने रुद्रप्रयाग सीट से खेला है दाव; भाजपा के सिटिंग विधायक मैदान में

जागरण संवाददाता, रुद्रप्रयाग। Uttarakhand Election 2022 कांग्रेस पार्टी ने ब्लाक प्रमुख प्रदीप थपलियाल को रुद्रप्रयाग विधानसभा सीट से अपना प्रत्याशी बनाकर युवा चेहरे पर दांव खेला है। साथ ही रुद्रप्रयाग विधानसभा क्षेत्र की सबसे बडे़ क्षेत्र जखोली से उम्मीदवार बनाकर क्षेत्रीय संतुलन को साधने का प्रयास किया है। कांग्रेस में पूर्व मंत्री मातबर सिंह कंडारी समेत आधा दर्जन दावेदारी थे, लेकिन सभी को पछाड़ते हुए प्रदीप थपलियाल टिकट लाने में सफल रहे। थपलियाल भाजपा के सिटिंग विधायक भरत चौधरी के खिलाफ मैदान में हैं।

रुद्रप्रयाग विधानसभा सीट (Rudraprayag Vidhan Sabha Seat) पर कांग्रेस ने लंबी कवायद के बाद वर्तमान ब्लाक प्रमुख प्रदीप थपलियाल को टिकट दिया। टिकट के पीछे उनका 108 ग्राम पंचायतों वाले रुद्रप्रयाग विधानसभा क्षेत्र के जखोली विकास खंड का ब्लाक प्रमुख होना सबसे मुख्य रहा। जखोली विकास खंड रुद्रप्रयाग विधानसभा का सत्तर फीसदी क्षेत्र है। साथ ही उनकी क्षेत्र में लगातार सक्रिय रहने व जनता के बीच अच्छी छवि, पार्टी हाईकमान पर अच्छी पकड़ को देखते हुए पार्टी संगठन ने उन पर भरोसा जताया। पिछले 2017 के विधानसभा चुनाव में निर्दलीय प्रत्याशी के रूप में चुनाव लड़े थे और छह हजार मत लाने में सफल रहे।

इस सीट पर पूर्व मंत्री मातबर सिंह कंडारी, कांग्रेस के पिछले चुनाव की प्रत्याशी व पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष लक्ष्मी राणा, कांग्रेस के प्रदेश महामंत्री वीरेन्द्र बुटोला, युवा नेता अंकुर रौथाण समेत आधा दर्जन दावेदार थे, लेकिन पार्टी ने युवा चेहरे प्रदीप थपलियाल पर ही अपना दांव खेला।

ऐसे शुरू हुआ राजनीतिक सफर

प्रदीप ने गढ़वाल विश्व विद्यालय श्रीनगर से अपना राजनीतिक सफर शुरू किया, छात्र संघ उपाध्यक्ष चुने जाने के बाद वह वर्ष 2003 में जिला पंचायत सदस्य चुने गए और जिला पंचायत उपाध्यक्ष बने। कांग्रेस संगठन में जिलाध्यक्ष पद पर भी रह चुके हैं। वर्तमान में रुद्रप्रयाग विधानसभा क्षेत्र की सबसे बड़ी क्षेत्र जखोली के ब्लाक प्रमुख हैं।

नेता प्रतिपक्ष प्रीतम सिंह के करीबी होने के साथ ही हरीश रावत से भी उनके संबंध मधुर है, जिसका फायदा उन्हें मिला। जखोली क्षेत्र पर मजबूत पकड़, युवा चेहरे व क्षेत्र में अच्छी छवि के चलते ही पार्टी ने उन पर विश्वास जताया है। वहीं प्रदीप को टिकट देकर पार्टी ने जखोली विकास खंड से प्रत्याशी बनाकर क्षेत्रीय संतुलन को भी साधने का काम किया है।

यह भी पढ़ें- Uttarakhand Election 2022: कांग्रेस ने उत्‍तराखंड में जारी की प्रत्याशियों की पहली सूची, जानिए किसे कहां से मिला टिकट

Edited By Raksha Panthri

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept
ट्रेंडिंग न्यूज़

मौसम