गांव-गांव तक चलाया जाए सदस्यता अभियान: उक्रांद के केंद्रीय अध्‍यक्ष ऐरी ने ली समीक्षा बैठक, पदाधिकारियों संग क‍िया मंथन

ऐरी ने कहा कि केंद्र व जिला से लेकर वार्ड स्तर तक के पदाधिकारी दल की रीति-नीतियों से आमजन को अवगत कराएं। छात्रों के बीच जाकर आगामी छात्र संघ चुनावों पर चर्चा करें। आगामी निकाय चुनावों के लिए सभी को अभी से कमर कस लेनी चाहिए।

Sumit KumarPublish: Thu, 30 Jun 2022 09:01 PM (IST)Updated: Thu, 30 Jun 2022 09:01 PM (IST)
गांव-गांव तक चलाया जाए सदस्यता अभियान: उक्रांद के केंद्रीय अध्‍यक्ष ऐरी ने ली समीक्षा बैठक, पदाधिकारियों संग क‍िया मंथन

जागरण संवाददाता, देहरादून: उत्तराखंड क्रांति दल के केंद्रीय अध्यक्ष काशी सिंह ऐरी ने कहा कि दल के संगठनात्मक ढांचे को मजबूत बनाने के लिए सदस्यता अभियान में तेजी लानी होगी। दल के पदाधिकारियों व कार्यकत्र्ताओं को गांव-गांव व मोहल्लों में पहुंचकर अधिक से अधिक व्यक्तियों को उक्रांद से जोडऩा होगा। यह बातें उन्होंने गुरुवार को केंद्रीय कार्यालय में आयोजित समीक्षा बैठक के दौरान कहीं।

ऐरी ने कहा कि केंद्र व जिला से लेकर वार्ड स्तर तक के पदाधिकारी दल की रीति-नीतियों से आमजन को अवगत कराएं। छात्रों के बीच जाकर आगामी छात्र संघ चुनावों पर चर्चा करें। आगामी निकाय चुनावों के लिए सभी को अभी से कमर कस लेनी चाहिए। जन समस्याओं को लेकर संघर्ष जारी रखने का आह्वान भी उन्होंने किया।

कहा कि पदाधिकारी भावी कार्यक्रमों की रूपरेखा तैयार कर केंद्रीय पदाधिकारियों को अवगत कराएं। बैठक में दल के पूर्व अध्यक्ष बीडी रतूड़ी, एपी जुयाल, सुरेंद्र कुकरेती, डा. शक्तिशैल कपरवाण, लताफत हुसैन, सुनील ध्यानी, जय प्रकाश, बहादुर ङ्क्षसह रावत, शिव प्रसाद सेमवाल, राजेंद्र बिष्ट, प्रमिला रावत, शकुंतला रावत, सुलोचना ईष्टवाल आदि भी मौजूद रहे।

कानून व्यवस्था पर उठाए सवाल

उत्तराखंड क्रांति दल महिला मोर्चा ने प्रदेश की कानून व्यवस्था पर सवाल खड़े किए। पदाधिकारियों ने जिलाधिकारी डा. आर राजेश कुमार के माध्यम से राज्यपाल लेफ्टिनेंट जनरल गुरमीत सिंह (सेनि) को ज्ञापन भेजा।

गुरुवार को कलेक्ट्रेट में उक्रांद महिला मोर्चा की निवर्तमान केंद्रीय अध्यक्ष प्रमिला रावत के नेतृत्व में महिला कार्यकत्र्ता बड़ी संख्या में एकत्रित हुई।

यहां उन्होंने लचर कानून व्यवस्था को लेकर नारेबाजी और प्रदर्शन किया। उनका कहना था कि प्रदेश में आए दिन नाबालिग और महिलाओं के साथ आपराधिक घटनाएं सामने आ रही हैं। मातृशक्ति खुद को असुरक्षित महसूस कर रही है। इस मौके पर कार्यकारी जिला अध्यक्ष किरण रावत, शकुंतला रावत, रेखा शर्मा, मिथिलेश चौहान, सरोज कश्यप, सरोज मेहर, उत्तरा पंत बहुगुणा, कमला तोमर, मीनाक्षी सिंह, नीलम रावत आदि मौजूद रहीं।

यह भी पढ़ें- Uttarakhand Politics: सीएम धामी ने कहा- अपने हर संकल्प को धरातल पर उतारने को सरकार प्रतिबद्ध

Edited By Sumit Kumar

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept