श्रीलंका का वन विभाग एफआरआइ से सीख रहा नर्सरी के गुर, विदेश मंत्रालय के माध्यम से शुरू किया गया प्रशिक्षण

श्रीलंका के वन विभाग के अधिकारियों को देहरादून का वन अनुसंधान संस्थान (एफआरआइ) हाई-टेक नर्सरी के गुर सिखा रहा है। इसके लिए भारत के विदेश मंत्रालय व पर्यावरण वन एवं जलवायु मंत्रालय के माध्यम से चार दिवसीय वर्चुअल प्रशिक्षण शुरू किया गया है।

Sumit KumarPublish: Wed, 19 Jan 2022 08:01 PM (IST)Updated: Wed, 19 Jan 2022 08:01 PM (IST)
श्रीलंका का वन विभाग एफआरआइ से सीख रहा नर्सरी के गुर, विदेश मंत्रालय के माध्यम से शुरू किया गया प्रशिक्षण

जागरण संवाददाता, देहरादून : श्रीलंका के वन विभाग के अधिकारियों को देहरादून का वन अनुसंधान संस्थान (एफआरआइ) हाई-टेक नर्सरी के गुर सिखा रहा है। इसके लिए भारत के विदेश मंत्रालय व पर्यावरण वन एवं जलवायु मंत्रालय के माध्यम से चार दिवसीय वर्चुअल प्रशिक्षण शुरू किया गया है।

प्रशिक्षण का उद्घाटन करते हुए वानिकी अनुसंधान एवं शिक्षा परिषद (आइसीएफआरई) के महानिदेशक एएस रावत ने कहा कि भारत हमेशा पड़ोसी देशों के साथ क्षमता विकास संबंधी कार्यों को लेकर आग्रणी भूमिका निभाता है। वहीं, कोलंबो के उच्चायोग में भारत के उप उच्चायुक्त विनोद के जैकब ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के पर्यावरण संरक्षण के दीर्घकालिक मिशन पर प्रकाश डाला। श्रीलंका के फारेस्ट कंजर्वेटर जनरल डा. केएम बंडारा ने श्रीलंका के वन विभाग के लिए प्रशिक्षण आयोजित करने पर आभार व्यक्त किया।

प्रशिक्षण पर प्रकाश डालते हुए एफआरआइ के सिल्वीकल्चर डिविजन के प्रमुख आरपी सिंह ने बताया कि श्रीलंका के वन विभाग के अधिकारियों को साइट चयन, स्थापना, डिजाइन, ले-आउट, आधुनिक बुनियादी ढांचा, रोपण स्टाक, बीज प्रौद्योगिकी आदि की जानकारी दी जा रही है।

यह भी पढ़ें- चुनाव ड्यूटी से नाम कटवाने को बहाने भी ऐसे, जो नहीं उतर रहे अधिकारियों के गले; आप भी जानिए

मतदाता कंट्रोल रूम में पेंशन की शिकायत

समाज कल्याण विभाग के मतदाता कंट्रोल रूम में दिव्यांग एवं वरिष्ठ नागरिक पेंशन से संबंधित शिकायत दर्ज कर रहे हैं। ऐसे में विभागीय अधिकारी पेंशनधारकों को आश्वासन ही दे पा रहे हैं।

जिला समाज कल्याण अधिकारी गोरधन सिंह ने बताया कि दिसंबर की पेंशन अभी तक दिव्यांग एवं वरिष्ठ नागरिकों को नहीं मिली है। उन्होंने पेंशनधारकों से अपील की है वह केवल मतदान की समस्या को लेकर ही शिकायत दर्ज करें। जिससे विभाग मतदाता की समस्या का समाधान कर सके। कहा कि एक सप्ताह के भीतर पेंशनधारकों के खाते में पेंशन आ जाएगी। निदेशालय से बजट जारी हो गया है।

यह भी पढ़ें- औली के लिए आठ दिन बाद फिर रोपवे का संचालन शुरू, अब पर्यटकों की मुश्किलें होंगी कम

Edited By Sumit Kumar

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept