This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.
OK

Ramzan Eid Moon Sighting Update: दूर से कहें ईद मुबारक, घर पर अदा करें नमाज; 13 को चांद दिखने की उम्मीद

रमजान का पाक माह अंतिम पड़ाव की ओर है। 29वें दिन यानी बुधवार को यदि चांद निकलता है तो उसके अगले दिन 13 मई को ईद-उल-फितर का त्योहार मनाया जाएगा। यदि चांद 13 मई को निकलता है तो पूरे देश में यह त्योहार 14 मई यानी शुक्रवार को मनाया जाएगा।

Sunil NegiWed, 12 May 2021 10:44 PM (IST)
Ramzan Eid Moon Sighting Update: दूर से कहें ईद मुबारक, घर पर अदा करें नमाज; 13 को चांद दिखने की उम्मीद

जागरण संवाददाता, देहरादून। देश के मौजूदा हालत को देखते हुए नायब सुन्नी शहर काजी पीर सैयद अशरफ हुसैन कादरी ने समुदाय के लोगों से ईद का त्योहार सादगी से मनाने की अपील की है। उन्होंने रोजेदारों से शारीरिक दूरी का पूरा पालन करने और दूर से ही ईद की मुबारक देने की अपील की। नायब सुन्नी शहर काजी ने कहा कि कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए ईदुल फितर की नमाज मस्जिद में केवल पांच लोग ही जमाअ़त के साथ अदा करें। ईद की नमाज मस्जिद में अदा न करने का मलाल न करें, घर पर सुरक्षित रहकर अपनों के बीच नमाज अदा कर अल्लाह की इबादत करें। रोजेदार अपने घर पर ही चार रकअत नमाज चाश्त की पढ़ लें और बाद में तकबीर पढ़ लें। कहा कि संकट के इस समय में लोगों की मदद के लिए आगे आए। जिससे जल्द कोरोना से निपटा जा सके।

ईद का चांद गुरुवार को दिखने की उम्मीद

रमजान का पाक माह पूरा होने को है। बुधवार को चांद नहीं निकला, अब आज गुरुवार को ईद का चांद दिखने की उम्मीद है। यदि चांद निकलता है तो ईद-उल-फितर का त्योहार 14 मई दिन शुक्रवार को मनाया जाएगा। दरअसल इस्लामिक कैलेंडर चांद पर आधारित है। चांद के दिखाई देने पर ही ईद या प्रमुख त्योहार मनाए जाते हैं। रमजान के पवित्र माह का प्रारंभ चांद के देखने से होता है और इसका समापन भी चांद के निकलने से होता है। रमजान के 29 या 30 दिनों के बाद ईद का चांद दिखता है।

ईद पर गले न मिलने का रहेगा मलाल

यह लगातार दूसरे साल ईद का त्योहार कोरोना के साए में मनाया जा रहा है। ऐसे में समुदाय के लोग का कहना है कि सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए ईद पर गले और हाथ नहीं मिलाएंगे, लेकिन इस बात का मलाल भी रहेगा, लेकिन संकट के समय से निपटने के लिए यह बेहत जरूरी है। नेताजी संघर्ष समिति के प्रमुख महासचिव आरिफ वारसी ने कहा कि इस बार सुरक्षा को ध्यान में रखते मोमिनों से ईद सादगी से घर पर मामने की अपील की जा रही है।

रोजा इफ्तार

  • बुधवार 12 मई 
  • सुन्नी 07:12बजे शाम
  • शिया 07: 21बजे शाम

30वां रोजा सहरी

गुरुवार 13 मई 

  • सुन्नी 4:01बजे सुबह
  • शिया 4:49बजे सुबह 

यह भी पढ़ें-पुलिस महानिदेशक अशोक कुमार ने कहा- मस्जिद में पांच व्यक्ति ही अदा करेंगे नमाज

Uttarakhand Flood Disaster: चमोली हादसे से संबंधित सभी सामग्री पढ़ने के लिए क्लिक करें

Edited By: Sunil Negi

देहरादून में कोरोना वायरस से जुडी सभी खबरे

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!