शादियों के सीजन में कोरोना ने डाला खलल, 40 फीसद बुकिंग कैंसिल

कोरोना संक्रमण तेजी से बढ़ रहा है। इसका असर शादियों और अन्‍य समारोह में पड़ने लगा है। इन समारोह में 50 प्रतिशत क्षमता के अनुसार ही व्यक्तियों को शामिल होने की अनुमति है। ऐसे में दून में लोग 40 फीसद बुकिंग कैंसिल कर तिथि आगे बढ़ा रहे हैं।

Sunil NegiPublish: Wed, 19 Jan 2022 11:06 AM (IST)Updated: Wed, 19 Jan 2022 11:06 AM (IST)
शादियों के सीजन में कोरोना ने डाला खलल, 40 फीसद बुकिंग कैंसिल

जागरण संवाददाता, देहरादून। शादियों के इस सीजन में कोरोना के बढ़ते संक्रमण ने खलल डाल दिया है। वर्तमान स्थिति को देखते हुए शासन ने विवाह या अन्य समारोह में 50 प्रतिशत क्षमता के अनुसार ही व्यक्तियों को शामिल होने की अनुमति दी है। ऐसे में अधिकांश लोग बुकिंग कैंसिल कर तिथि आगे बढ़ा रहे हैं। जनवरी और फरवरी के लिए पूर्व में बुकिंग कर चुके लोग अब कैंसिल या तिथि बढ़ाने के लिए वेडिंग प्वाइंट संचालकों के पास पहुंच रहे हैं। ऐसे में इस सीजन में कारोबार की अच्छी उम्मीद लगाए बैठे कारोबारियों के चेहरे मुरझा गए हैं। शहर के वेडिंग प्वाइंट में करीब 40 फीसद बुकिंग कैंसिल हो चुकी हैं।

देहरादून शहर की बात करें तो इस समय करीब 150 छोटे, जबकि 75 बड़े होटल, वेडिंग प्वाइंट हैं। छोटे होटल, वेडिंग प्वाइंट में व्यक्तियों की क्षमता 100 से 200, जबकि बड़े में 500 से अधिक रहती है। जिनमें शादी, सगाई, मुंडन आदि समारोह होते हैं।

कोरोना की सामान्य स्थिति को देखते हुए जो लोग पूर्व में शादियों व अन्य आयोजन के लिए वेडिंग प्वाइंट, डेकोरेशन, ज्वेलरी, पार्लर की बुकिंग करा चुके थे अब कुछ दिनों से कोरोना संक्रमण बढ़ने से उसे कैंसिल करवा रहे हैं।

इनका कारोबार हुआ प्रभावित

  • अमित शर्मा (उपाध्यक्ष दून ब्रास बैंड एसोसिएशन) ने बताया कि धार्मिक आयोजन से लेकर शादियों के लिए शुरूआती दो महीने का सीजन अच्छा रहता है। 14, 18, 26 और 30 जनवरी के लिए 10 बुकिंग आई थी, जिसमें से चार अबतक कैंसिल करवा चुके हैं। क्योंकि समारोह में 50 प्रतिशत ही लोग शामिल करने की अनुमति है। ऐसे में कम संख्या वाली बैंड पार्टी को ही लोग बुक कर रहे हैं। यही हाल रहा तो शादियों के सीजन में बुकिंग न के बराबर मिलेगी।
  • पंकज गुप्ता (सचिव दून वैली होटल एसोसिएशन) का कहना है कि बीते नवंबर में त्योहारी सीजन निबटने और कोविड के बाद आयोजन में मिली छूट पर लोग शादी, सगाई को लेकर काफी संख्या में बुकिंग करने आ रहे थे। लेकिन अब संक्रमण की दर काफी बढऩे से प्रशासन ने गाइडलाइन जारी की है। जरूरी आयोजन करने वाले लोग ही बुकिंग रख रहे हैं। जबकि अधिकांश ने अप्रैल के लिए तिथि बढ़ा दी है। जनवरी-फरवरी की 20 बुकिंग में से आठ कैंसिल हो चुकी हैं। बुकिंग करा चुके लोग इस बात को लेकर भी असमंजस में हैं कि सरकार कुछ दिन बाद गाइडलाइन में परिवर्तन न करे।
  • आनंद सागर (अध्यक्ष देहरादून मंडप कीर्तन एसोसिएशन) का कहना है कि कोरोना की रफ्तार के बाद आमजन आयोजन करने से भी हिचक रहे हैं। जिन लोग ने सीमित संख्या में आयोजन करने थे वही बुकिंग को यथावथ रख रहे हैं। 15 में से चार बुकिंग कैंसिल हो चुकी हैं। जबकि अन्य वर्षों में इस सीजन में वेडिंग प्वाइंट फुल रहते थे।
  • पूजा अग्रवाल (स्वामी गीतांजलि सैलून) का कहना है कि प्रशासन द्वारा गाइडलाइन के बाद सभी सेंटरों में 50 प्रतिशत वैक्सीन लगा चुके स्टाफ रखा गया है। सजने-संवरने में तकरीबन 20 प्रतिशत कमी आई है। पहले सप्ताह में 50 बुकिंग आती थी, इन दिनों 12 से 13 तक आ रही है। जरूरी होने पर ब्राइडल करवा रहे हैं, जबकि सामान्य सौंदर्य से लोग अभी बच रहे हैं।

विवाह के लिए इस वर्ष 57 दिन रहेगा मुहूर्त

विवाह के लिए इस वर्ष 57 दिन शुभ मुहूर्त रहेंगे। शुक्रवार को मकर संक्रांति से मांगलिक कार्य शुरू हो चुके हैं। इस बार जनवरी में छह, फरवरी में आठ, अप्रैल में सात, मई और जून में 12-12, जुलाई में पांच, नवंबर में एक, जबकि दिसंबर में छह दिन मांगलिक कार्य के लिए शुभ माने जा रहे हैं। मार्च में पंचक होने के कारण विवाह के मुहूर्त नहीं होंगे। वहीं, अगस्त से नवंबर तक चातुर्मास के चलते मांगलिक कार्र्यों पर विराम रहेगा।

बीते दिसंबर से शुरू खरमास मकर संक्रांति पर खत्म हो चुका है। जोकि मांगलिक कार्यों के लिए शुभ माना जाता है। उत्तराखंड विद्वत सभा के प्रवक्ता आचार्य बिजेंद्र प्रसाद ममगाईं के अनुसार उत्तरायण देवताओं का दिन होता है। मकर संक्रांति से शादी, मुंडन, नामकरण, जनेऊ जैसे धार्मिक कार्य शुरू हो जाते हैं। इस बार विवाह के 57 मुहूर्त हैं।

ये है मांगलिक कार्य के दिन

  • जनवरी- 20, 22, 23, 27, 29, 30
  • फरवरी-4, 5, 6, 7, 10, 18, 19, 20
  • अप्रैल- 19, 20, 21, 22, 23, 24, 27
  • मई-2, 3, 4, 9, 10, 12, 18, 20, 21, 24, 26, 27
  • जून- 1, 5, 6, 8,10, 11, 14, 17, 20, 21, 22, 23
  • जुलाई- 3, 6, 7, 8, 9
  • नवंबर-28
  • दिसंबर- 2, 3, 4, 7, 8, 9

यह भी पढ़ें:- मसूरी स्थित एलबीएस अकादमी में 84 प्रशिक्षु अधिकारी कोरोना संक्रमित, प्रशिक्षण के तहत गए थे गुजरात के ग्रामीण क्षेत्रों के भ्रमण पर

Edited By Sunil Negi

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept