चम्पावत के 11 जल स्रोतों में आई 17 प्रतिशत पानी की कमी

गर्मी बढ़ने के साथ ही जिला मुख्यालय में पेयजल किल्लत भी बढ़ने लगी है।

JagranPublish: Wed, 13 Apr 2022 10:31 PM (IST)Updated: Wed, 13 Apr 2022 10:31 PM (IST)
चम्पावत के 11 जल स्रोतों में आई 17 प्रतिशत पानी की कमी

संवाद सहयोगी, चम्पावत : गर्मी बढ़ने के साथ ही जिला मुख्यालय में पेयजल किल्लत भी बढ़ने लगी है। पेयजल स्त्रोतों में पानी की कमी होने के कारण रोजना नलों में पानी की आपूर्ति करना संभव नहीं हो पा रहा है। जल संस्थान ने अब एक दिन छोड़कर नलों में पानी सप्लाई करने का निर्णय लिया है। बुधवार को रोस्टर के अनुसार पानी बंटना भी शुरू हो गया है। इधर लोहाघाट नगर के लिए बनी पेयजल योजनाओं में तेजी से पानी की कमी हो रही है। यहां तीसरे या फिर चौथे दिन पानी मिल रहा है।

जल संस्थान के अपर सहायक अभियंता परमानंद पुनेठा ने बताया कि चम्पावत शहर को वर्तमान में विभिन्न स्त्रोतों से एक चौथाई पानी मिल पा रहा है। नगर को रोजाना 23.60 लाख लीटर पानी की जरूरत है, लेकिन उपलब्धता सिर्फ साढ़े छह लाख लीटर है। उन्होंने बताया कि 11 जल स्त्रोतों में करीब 17 प्रतिशत तक पानी की कमी आ गई है। इस स्थिति में रोजना पानी सप्लाई करना संभव नहीं रह गया है। विभाग ने एक दिन छोड़कर नलों से पानी सप्लाई करने का निर्णय लिया है। इसके लिए सम और विषम तिथि का रोस्टर तैयार कर उसके अनुरूप पानी वितरण का कार्य शुरू कर दिया गया है। बताया कि पानी की बर्बादी रोकने के लिए पेयजल लाइनों का मुआयना कर लीकेज को तुरंत ठीक करने के लिए टीम बनाई है। पेयजल की ज्यादा किल्लत होने पर वाहनों से पानी बांटा जाएगा। इधर लोहाघाट नगर में चल रही पेयजल समस्या भी गर्मी बढ़ने के साथ तेजी से बढ़ रही है। यहां निजी कनेक्शनों की संख्या 1450 है। इतनी आबादी के लिए प्रतिदिन 17.50 केएल पानी की जरूरत है जबकि नगर के लिए बनी विभिन्न योजनाओं से महज 6.50 केएल पानी ही मिल पा रहा है। पाटी एवं बाराकोट विकास खंड के दूरस्थ ग्रामीण इलाकों में भी गर्मी के सीजन में पेयजल संकट तेजी से बढ़ रहा है। जल संस्थान के अपर सहायक अभियंता पवन बिष्ट ने बताया कि नगर और ग्रामीण इलाकों के लिए बनी पेयजल योजनाओं में पानी लगातार कम हो रहा है। शीघ्र बारिश नहीं हुई तो ग्रामीण इलाकों में भी रोस्टर के अनुसार पानी सप्लाई करने की नौबत आ सकती है। वर्तमान में नगर और कई गांवों में रोस्टर के अनुसार पानी दिया जा रहा है। ========= चम्पावत में पानी बांटने का रोस्टर

सम तिथि में मेलाकोट, माजबुंगा, मल्लीहाट, एसबीआइ वाली गली, गिरि चक्की की तरफ, टीआरसी के पास, राय गली, तहसील क्षेत्र, त्यारकूड़ा और कनलगांव क्षेत्र।

विषम तिथि में तल्लीहाट, बालेश्वर, भैरवां, ललुवापानी, जीजीआइसी क्षेत्र, शांत बाजार, भेट्टी, मादली, मांजगांव और लघु सिचाई कार्यालय की तरफ। ====== गर्मी के कारण स्त्रोतों में पानी की कमी होने लगी है। चम्पावत नगर और ग्रामीण इलाकों के लिए जरूरत के अनुसार स्त्रोतों से पानी नहीं मिल रहा है। नगर के में एक दिन छोड़कर पानी दिया जा रहा है। समस्या बढ़ी तो वाहनों से पेयजल वितरण किया जाएगा।

-परमानंद पुनेठा, अपर सहायक अभियंता, जल संस्थान

Edited By Jagran

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept