अस्पताल में सफाई व्यवस्था पर दें विशेष ध्यान: डीएम

संवाद सूत्र कर्णप्रयाग जिलाधिकारी चमोली हिमांशु खुराना ने गुरुवार को कर्णप्रयाग उप जिला चिकि

JagranPublish: Thu, 14 Oct 2021 07:47 PM (IST)Updated: Thu, 14 Oct 2021 07:47 PM (IST)
अस्पताल में सफाई व्यवस्था पर दें विशेष ध्यान: डीएम

संवाद सूत्र, कर्णप्रयाग: जिलाधिकारी चमोली हिमांशु खुराना ने गुरुवार को कर्णप्रयाग उप जिला चिकित्सालय पहुंचकर व्यवस्थाओं का जायजा लिया। इस दौरान अस्पताल में सफाई व्यवस्था पर विशेष जोर देते हुए उन्होंने कहा कि परिसर की स्वच्छता जरूरी है। इस दौरान जिलाधिकारी ने ओपीडी, जन औषधि केंद्र, आपातकालीन वार्ड, एक्सरे, लेबर रूम, सर्जिकल वार्ड, महिला वार्ड, सामान्य वार्ड, आपरेशन थियेटर, आइसोलेशन वार्ड, महिला प्रसूति कक्ष के निरीक्षण के साथ अस्पताल में भर्ती मरीजों और उनके तीमारदारों से दवाओं व उपचार संबंधी जानकारी ली।

जिलाधिकारी ने उप जिला चिकित्सालय के अधीक्षक डा. राजीव शर्मा से उन्होंने व्यवस्थाएं बनाए रखने को कहा। साथ ही अस्पताल में टूटे फर्नीचर तत्काल बदलने के निर्देश दिए। कहा कि रात्रि ड्यूटी करने वाले चिकित्सक, स्टाफ नर्स के लिए भी बेहतर व्यवस्था जरूरी है। ओपीडी में सभी चिकित्सक टेबल पर नेम प्लेट अवश्य रखें। उन्होंने अस्पताल से ही दवाएं उपलब्ध कराने के निर्देश चिकित्साधिकारी को दिए। इस दौरान जिलाधिकारी ने चिकित्सा अधीक्षक से अस्पताल में उपलब्ध स्वास्थ्य उपकरणों और अन्य आवश्यकताओं के बारे में भी जानकारी ली। चिकित्साधीक्षक डा. राजीव शर्मा ने जिलाधिकारी को फिजिशियन और बाल रोग विशेषज्ञ की तैनाती नहीं होने संबंधित जानकारी दी। साथ ही अस्पताल गेट से लेबर वार्ड तक लिफ्ट सुविधा को कहा। इसके अतिरिक्त चिकित्सालय में विभिन्न वार्डो के मरम्मत की बात भी कही। इस पर जिलाधिकारी ने अस्पताल के जीर्णाेद्धार के लिए विस्तृत प्लान तैयार करते हुए शीघ्र प्रस्ताव उपलब्ध कराने के निर्देश दिए।

-----------

शत-प्रतिशत वैक्सीनेशन को किया प्रोत्साहित: जिलाधिकारी चमोली ने कर्णप्रयाग में संचालित कोविड टीकाकरण केंद्र का निरीक्षण भी किया। यहां उन्होंने टीम को शत-प्रतिशत वैक्सीनेशन लक्ष्य हासिल करने को प्रोत्साहित किया। कहा कि कोविड वैक्सीनेशन मे चमोली जिला अभी दूसरे स्थान पर है। दूसरी डोज के लिए निर्धारित लक्ष्य जल्द से जल्द हासिल करना होगा ताकि जिले को प्रथम स्थान पर लाया जा सके।

---------

आक्सीजन प्लांट सुचारू करने के निर्देश: जिलाधिकारी ने सिमली में नवनिर्मित महिला बेस चिकित्सालय में भी व्यवस्थाओं का जायजा लिया। यहां हाल ही में 500 एलपीएम क्षमता का आक्सीजन प्लांट लगाया गया है। जिलाधिकारी ने अस्पताल में आक्सीजन प्लांट को जल्द सुचारू करने और आक्सीजन पाइप लाइन बिछाने से वार्डो में हुई टूट की मरम्मत के साथ लाइन को कवर करने के निर्देश दिए। अस्पताल के विभिन्न वार्डो का निरीक्षण करते हुए जिलाधिकारी ने विद्युत सप्लाई, पावर बैकअप एवं अन्य व्यवस्थाओं की जानकारी भी ली। निरीक्षण के दौरान उप जिला चिकित्सालय के अधीक्षक डा. राजीव शर्मा, एसीएमओ डा. उमा रावत, स्त्री रोग विशेषज्ञ डा. उमारानी शर्मा आदि मौजूद थे।

Edited By Jagran

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept