नमो एप पर कार्यकताओं से पीएम मोदी का संवाद- हम तथा सीएम योगी जनता के वोट से हो रहे मजबूत

UP Vidhansabha Chunav 2022 नमो एप के जरिए यह संवाद सुबह 11 बजे शुरू हो गया। इस दौरान प्रधानमंत्री ने मुख्य रूप से बूथ अध्यक्षों के साथ चर्चा की और उन्हें जीत का मंत्र दिया। प्रदेश में विधानसभा चुनाव की घोषणा के बाद प्रधानमंत्री का यह पहला राजनीतिक कार्यक्रम है।

Dharmendra PandeyPublish: Tue, 18 Jan 2022 10:55 AM (IST)Updated: Tue, 18 Jan 2022 04:48 PM (IST)
नमो एप पर कार्यकताओं से पीएम मोदी का संवाद- हम तथा सीएम योगी जनता के वोट से हो रहे मजबूत

वाराणसी, जेएनएन। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव की तारीख घोषित होने के बाद मंगलवार को पहली बार किसी राजनीतिक कार्यक्रम में अपनी वर्चुअल मौजूदगी दर्ज कराई। पीएम नरेन्द्र मोदी काशी क्षेत्र के करीब दस हजार भाजपा कार्यकर्ताओं के साथ जुड़े। करीब 45 मिनट के इस कार्यक्रम में उन्होंने आठ लोगों से संवाद भी किया।

नमो एप ने पीएम मोदी व कार्यकर्ताओं के बीच संवाद सूत्र का काम किया। एप के माध्यम से कई कार्यकर्ताओं ने पीएम मोदी से अपने सुझाव व सवाल को भी साझा किया। नमो एप के जरिए यह संवाद सुबह 11 बजे शुरू हो गया। प्रधानमंत्री ने मुख्य रूप से बूथ अध्यक्षों के साथ चर्चा की और उन्हें जीत का मंत्र दिया।

पीएम-कार्यकर्ता संवाद

का श्रवण जी... का हाल बा...

वाराणसी के भाजपा कार्यकर्ताओं से प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने सुबह नमो एप के माध्यम से संवाद शुरू किया। वाराणसी में शहर दक्षिणी विधानसभा क्षेत्र के पंडित दीनदयाल उपाध्याय मंडल के बूथ अध्यक्ष श्रवण कुमार रावत से भोजपुरी में हालचाल पूछा। पीएम ने पूछा कि बाबा विश्वनाथ धाम के दर्शन किए। श्रवण ने कहा- जी कुछ दिन पहले ही सपरिवार गया था। उन्होंने पीएम मोदी की तारीफ करते हुए श्रीकाशी विश्वनाथ धाम के नव्य-भव्य स्वरूप के बारे में बताया। धाम के पहले और अब के अंतर के बारे में उन्होंने कहा कि काशी में जो कुछ भी हो रहा है, सब बाबा की कृपा है। हम सब लोग तो बस माध्यम हैं। प्रधानमंत्री मोदी ने श्रवण से आग्रह किया कि अपनी टीम के साथ काशी में और स्वच्छता बढ़ाएं। उनको जिम्मेदारी सौंपी कि काशी आने वाले पर्यटकों को कबीरचौरा और संत रविदास मंदिर के दर्शन भी कराएं। इनके विकास के लिए भी सरकार ने बहुत काम किए हैं। पीएम मोदी ने ऐसे ही एक कार्यकर्ता आशुतोष से गोदौलिया-बेनियाबाग पार्किंग तथा वाराणसी में ट्रैफिक सिस्टम पर चर्चा की।

कोरोना संक्रमण में जनसंपर्क पर चिंचित

महामना मंडल की बूथ अध्यक्ष सीमा कुमारी कॉल पर जुड़ीं तो पीएम ने पूछा कि इधर कोरोना संक्रमण बढ़ गया है। ऐसे में जनसंपर्क कैसे हो पा रहा है। सीमा ने कहा कि सर, दो गज दूरी, मास्क जरूरी मंत्र का पालन करते हुए हम सबसे मिलजुल रहे हैं। तभी पीछे से किसी के खांसने की आवाज सुनकर पीएम ने बड़े आत्मीय भाव से पूछा कि किसी के खांसने की आवाज आ रही। कोई घर में बीमार है क्या..? सीमा ने कहा- जी नहीं। सब ठीक है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने सीमा से भोजपुरी में कहा कि आप जइसन बहिनन क ताकत ही हमार ताकत ह। देश के ताकत ह। मातृशक्ति ने इस देश के सामाजिक-सांस्कृतिक विकास के लिए महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है। सीमा ने विभिन्न सरकारी योजनाओं के जरिए महिलाओं के जीवन स्तर में आए बदलावों की चर्चा करते हुए पीएम से कहा- पहिले तो महिलाओं को लोग यूं ही मालकिन कहकर संबोधित करते थे, लेकिन आपने पीएम आवास योजना के तहत घर की चाभी थमाकर उन्हें सच में मालकिन बना दिया।

नारायण से जाना स्वास्थ्य सेवाओं का हाल

पीएम मोदी ने कार्यकर्ता नारायण से स्वास्थ्य सेवाओं का हाल पूछा। नारायण ने उन्हें बताया कि स्थिति काफी ठीक है। आयुष्मान कार्ड से गरीब अपना इलाज करा रहे हैं। दवाएं उपलब्ध हैं। इस दौरान पीएम ने नए बने अस्पतालों का हाल भी जाना। पिंडरा विधानसभा के मंगलगांव के मंडल अध्यक्ष अखिलेश दुबे से पूछा कि आप क्या काम करते हैं। अखिलेश न ने बताया कि बच्चों को ट्यूशन पढ़ाते हैं और एमकाम किया हुआ है। पीएम ने कहा कि मैं कुछ दिन पहले डेयरी के उद्घाटन के लिए पिंडरा आया था आप सबके बीच में। एक विषय है बिजली का जिसके बारे में मैं आपसे जानना चाहता हूं। वहां बिजली की क्या स्थिति है। अखिलेश ने बताया कि पिछले चार साल से काफी बिजली मिल रही है और स्थिति में काफी सुधार आया है। नहीं तो पहले तो बिजली के लिए धरना देना पड़ता था। पीएम ने पूछा -बीते कुछ समय से काशी में जो सुंदरीकरण हुआ है, जो बदलाव आए हैं, उनके बारे में बताइये। जो लोग आपके घर बाहर से आते हैं वो क्या कहते हैं। अखिलेश ने बताया कि जो कुछ भी पिछले कुछ वर्ष में जो हुआ उसकी कभी कल्पना नहीं की थी। सभी घाट सुंदर हुए हैं, सड़कें गड्ढामुक्त हुईं, सारनाथ में लेजर लाइट शो चल रहा है। मान मंदिर, पंचकोशी मार्ग का जो विकास हुआ वह कल्पनातीत है। सीवर लाइनें ठीक हुईं, सड़कों पर रोशनी है, बिजली के तार अंडरग्राउंड हुए हैं।

शिवपुर चिरईगांव के बूथ अध्यक्ष मिथुन से बातचीत में पीएम ने पूछा कि बनारस में आ रहे बदलाव को लेकर आप क्या सुनते हैं। जवाब मिला- सड़कें अच्छी हुई हैं। बिजली के लटकते तारों से छुटकारा मिला है। हाल में कबड्डी आदि खेलकूद के कार्यक्रम हुए उनमें जो व्यवस्था थी, उससे सब खुश थे। पीएम ने कहा कि बनारस में खेलकूद की व्यवस्था पहले से अच्छी थी, हालांकि पहलवानी का ज्यादा जोर रहता था। अब नए-नए खेल आ रहे हैं। सांसद खेल कूद प्रतियोगिता के माध्यम से गांव-गांव से प्रतिभाएं खोज पाएंगे।

वैक्सीनेशन को लेकर गंभीर

हरहुआ मंडल अध्यक्ष, पिंडरा विस सीट के शिवजतन से पूछा कि किशोरों के लिए वैक्सीनेशन चल रहा है, बच्चों में उत्साह दिख रहा है क्या, क्या माहौल है जरा बताइये। शिवजतन ने कहा, बहुत उत्साह है। काशी में शतप्रतिशत वैक्सीनेशन की तरफ हम बढ़ रहा है। किशोरों में भी वैक्सीन को लेकर काफी उत्साह है। सभी स्कूलों में भी बच्चे बढ़चढ़ कर इसमें हिस्सा ले रहे हैं। पीएम ने कहा कि ज्यादा से ज्याद वैक्सीनेशन हो, आपके जरिए काशी के लोगों का खूब भला हो, यह होना चाहिए। यदि कोई टीका लगवाने से कहीं छूट गया हो, किसी घर में कोई टीकाकरण से रह गया हो तो उनका भी ध्यान रखना है।

इसके बाद पीएम ने कहा कि काशी के ज्यादा से ज्यादा लोगों से बातचीत का मौका मिलता तो अच्छा रहता। लेकिन समय की सीमा रहती है। आप सभी के मैसेज मैं पढ़ता हूंं और अच्छा लगता है। उन्होंने कहा कि माइक्रो डोनेशन-सूक्ष्म दान अभियान चल रहा है। आप पांच रुपया भी पार्टी को दान दे सकते हैं। क्या हम बूथों के बीच स्पर्धा करा सकते हैं कि कौन सा पोलिंग बूथ कितना दान इकठ्ठा करा सकता है। हमें पैसा नहीं जुटाना, पांच रुपया-दस रुपया काफी है। ज्यादा से ज्यादा लोगों को जोडऩा है।

पीएम ने कहा, चुनाव अपने आप में एक ट्रेनिंग कैंप होता है। अधिकतम लोगों को कार्यकर्ता के रूप में हम तैयार कर सकते हैं। संगठन का विस्तार व कार्यकर्ता का विकास होना चाहिए। हमें लोगों को एक-एक वोट की कीमत समझानी है। हम और योगी जी इसलिए ही कुछ कर पा रहे हैं क्योंकि जनता ने हमें वोट दिया है। फिर मिलने का वादा और हर हर महादेव के उद्घोष के साथ पीएम ने संबोधन का समापन किया।

Edited By Dharmendra Pandey

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept