गणतंत्र दिवस 2022 : 50 हजार लोगों को टीका लगा चुकी एएनएम रानी कुंवर ने कमिश्नरी में फहराया तिरंगा

कमिश्नरी में 26 जनवरी को एएनएम रानी कुंवर ने फहराया तिरंगा। कमिश्नर दीपक अग्रवाल की ओर से एएनएम को सम्मानित भी किया गया। प्रधानमंत्री ने भी पिछले दिनों इनसे बात की थी। वाराणसी में प्रथम टीकाकरण करने के साथ ही अब तक पचास हजार लोगों को इन्होंने टीका लगाया है।

Saurabh ChakravartyPublish: Wed, 26 Jan 2022 10:50 AM (IST)Updated: Wed, 26 Jan 2022 01:00 PM (IST)
गणतंत्र दिवस 2022 : 50 हजार लोगों को टीका लगा चुकी एएनएम रानी कुंवर ने कमिश्नरी में फहराया तिरंगा

जागरण संवाददाता, वाराणसी : कोरोना काल में जनजीवन की सरक्षा व संरक्षा में चिकित्सकों व चिकित्सा कर्मियों का योगदान भुलाया नहीं जा सकता। संकट के ऐसे समय में डाक्टरों ने खुद की परवाह किए बगैर कोरोना को औकात बताई तो आधारभूत इकाई मानी जाने वाली एएनएम पहले मोर्चे पर नजर आई। कुछ ऐसा ही कर दिखाया पांडेयपुर शहरी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में तैनात एएनएम रानी कुंवर ने। उन्होंने चिकित्सा क्षेत्र में आने के समय दिलाई गई सेवा परमो धर्मः की शपथ को याद रखा और टीकाकरण का रिकार्ड बनाया। गणतंत्र दिवस के मौके पर उनकी इस भावना का प्रशासन ने सम्मान किया। कमिश्नरी में रानी कुंवर ने ध्वजारोहण किया। इस दौरान मंडलायुक्त दीपक अग्रवाल ने उन्हें प्रशस्ति पत्र भेंट कर सम्मानित किया।

रानी कुंवर हेल्थ केयर एवं फ्रंट लाइन वर्कर टीकाकरण के दौरान कबीरचौरा स्थित जिला महिला चिकित्सालय, पुलिस लाइन, सीआरपीएफ कैंप, बनारस क्लब, ईएसआइसी अस्पताल, केंद्रीय कारागार शिवपुर व चौकाघाट जिला कारागार के साथ ही रमरेपुर वार्ड में एक दिन में 200 से 250 टीके लगाए। इस तरह उन्होंने टीकाकरण का रिकार्ड बनाया। अब तक वह 50 हजार से अधिक टीके लगा चुकी हैं। उनकी सेवा भावना को देखते हुए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पिछले दिनों उनसे आनलाइन संवाद के दौरान बात की थी।

वास्तव में कमिश्नरी में कई वर्षों से अधिकारियों के बजाय सेवा भाव को समर्पित कर्मचारियों से ध्वजारोहण कराया जाता है। इसमें कमिश्नरी दफ्तर के चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी, सफाईकर्मी, आंगनबाड़ी आदि शामिल रही हैं। मंडलायुक्त दीपक अग्रवाल बताते हैं कि सेवा के क्षेत्र में कोई भी अपनी सेवा भावना से छोटा बड़ा होता है। इसमें पद मायने नहीं रखता। गौर करने की बात यह है कि कौन अपना दायित्व कितने समर्पण, निष्ठा और मनोयोग से निभा रहा। यही भाव उसे बड़ा या छोटा बनाता है। इसके लिए प्रेरित करने के लिए ही तिरंगा फहराने का मानदंड बनाते हुए एक प्रयास शुरू किया गया है।

कोरोना महामारी को देखते हुए इस बार शैक्षणिक संस्थानों में सादगी के साथ गणतंत्र दिवस मनाया जा रहा है। जिलाधिकारी कौशल राज शर्मा ने सभी संस्थाओं को सादगी व उत्साहपूर्वक गणतंत्र दिवस समारोह मनाने का निर्देश दिया है। उन्होंनें कक्षा आठ तक के बच्चों को विद्यालय न बुलाने का भी निर्देश है। कक्षा आठ तक के विद्यालयों में ध्वजारोहण के लिए शिक्षकों व बच्चों के अभिभावकों को बुलाने का सुझाव दिया गया है।जनपद के सभी सरकारी कार्यालयों में सुबह 8.30 बजे ध्वजारोहण किया गया। वहीं पुलिस लाइन में सुबह 9.30 बजे तथा समस्त शैक्षणिक संस्थानों में सुबह दस बजे ध्वजारोहण हुआ। इससे पहले सुबह छह बजे सिगरा स्थित स्टेडियम में पांच किलोमीटर की दौड़ प्रतियोगिता आयोजित किया गया है। कोरोना महामारी को देखते हुए डीएम ने सभी उप जिलाधिकारियों, अपर नगर मजिस्ट्रेट, तहसीलदार, नायब तहसीलदारों को स्वतंत्रता सेनानियों को उनके आवास पर जाकर सम्मानित करने का निर्देश दिया है।

Edited By Saurabh Chakravarty

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept
ट्रेंडिंग न्यूज़

मौसम