This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.
OK

मंदुरी एयरपोर्ट आजमगढ़ से 2020 में उड़ान का तोहफा देंगे मुख्यमंत्री, एयरपोर्ट अथार्टी इसी माह अवमुक्त करेगा अवशेष धन

रीजनल कनेक्टिविटी स्कीम उड़ान का सपना सच होने में धन की कमी बनी बाधा जल्द ही दूर होने वाली है। धन अवमुक्त होते ही अवशेष मिट्टी का कार्य पूरा हो जाएगा।

Saurabh ChakravartyWed, 02 Oct 2019 07:35 AM (IST)
मंदुरी एयरपोर्ट आजमगढ़ से 2020 में  उड़ान का तोहफा देंगे मुख्यमंत्री, एयरपोर्ट अथार्टी इसी माह अवमुक्त करेगा अवशेष धन

आजमगढ़, जेएनएन। रीजनल कनेक्टिविटी स्कीम 'उड़ान' का सपना सच होने में धन की कमी बनी बाधा जल्द ही दूर होने वाली है। धन अवमुक्त होते ही अवशेष मिट्टी का कार्य पूरा हो जाएगा। उसके बाद टीम द्वारा तकनीकी परीक्षण किया जाएगा। इस बात की पूरी संभावना है कि नए वित्तीय वर्ष 2020 में मुख्यमंत्री 'उड़ान' के साथ ही अगस्त तक पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे का तोहफा जिले तो देंगे।

रनवे व टर्मिनल के निर्माण पर कुल 18 करोड़ 21 लाख 49 हजार खर्च होने हैं। तीन करोड़ से अधिक की धनराशि अब भी अवमुक्त होने बाकी है। जिलाधिकारी नागेंद्र प्रसाद सिंह ने बताया कि अक्टूबर में शेष धनराशि अवमुक्त हो जाएगी। उसके बाद एयर अथार्टी की तकनीकी टीम मंदुरी एयरपोर्ट का परीक्षण करेगी। संभावना जताई जा रही है कि अगले वित्तीय वर्ष में 100 सीटर विमान की उड़ान शुरू हो जाएगी। साथ ही पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे के पूरा हो जाने के बाद रेशमी साड़ी के लिए मशहूर मुबारकपुर जुड़ जाएगा। ओडीओपी में शामिल होने के बाद उड़ान व एक्सप्रेस-वे के चालू हो जाने के बाद मुबारकपुर उत्पाद को अपना ब्रांड मिलेगा। उन्होंने बताया कि अक्टूबर में ही बुनकरों को विपणन केंद्र का आंवटन सुनिश्चित किया जाएगा। इसके अलावा पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे और गोरखपुर लिंक एक्सप्रेस-वे के बन जाने के बाद उद्योग का एक हब बनेगा।

 

Edited By: Saurabh Chakravarty

वाराणसी में कोरोना वायरस से जुडी सभी खबरे

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!