केहका अबकी बार चुनौना लड़ावत अहा

चाय चौपाल समय-10.30 बजे दिन-शुक्रवार स्थान-चाय की दुकान वलीपुर संवादसूत्र बल्दीराय (सुलतानपु

JagranPublish: Fri, 21 Jan 2022 11:32 PM (IST)Updated: Fri, 21 Jan 2022 11:32 PM (IST)
केहका अबकी बार चुनौना लड़ावत अहा

चाय चौपाल

समय-10.30 बजे, दिन-शुक्रवार

स्थान-चाय की दुकान वलीपुर

संवादसूत्र, बल्दीराय (सुलतानपुर) : मतदान की तिथि जैसे-जैसे करीब आ रही है, चाय की दुकान से लेकर गांव की चौपाल तक बस एक ही चर्चा है कि इस बार कौन होगा प्रत्याशी और कौन बनेगा विजेता। कड़ाके की ठंड के बीच घर का कामकाज निपटा वलीपुर कस्बे में बद्री प्रसाद गुप्ता की चाय की दुकान पर लोग धीरे-धीरे जमा होने लगे। महमूदपुर गांव के राम सुरेश तिवारी और राजकुमार पांडे दुकान पर पहुंचते हैं। आपस में रामजोहार कर घर परिवार का हालचाल ले ही रहे थे कि संतोष जायसवाल भी पहुंच जाते हैं। वह दोनों लोगों से एक ही सवाल करते हैं कि का हो, केहका अबकी बार चुनौना लड़ावत अहा। जवाब में राजकुमार कहते हैं कि भाय अबहीं कुछ समझ मा नाय आवत बाय, सभी लगा बाटे देखा केकय नसीब जागत है। इसी बीच महादेव गुप्ता भी दुकान पर पहुंचते हैं और बोल पड़ते हैं कि बतिया तव ठीक कहत अहा, लेकिन यहू ध्यान रहै कि यहि बार वही का विधायक चुनै का बा जवन हेरय से आसानी मा मिल जाए। पहले से मौजूद दीपू मिश्र और ओम प्रकाश तिवारी कहते हैं कि हां भाय आपन क्षेत्रवा काफी पिछड़ा बाय, यहू कय विकास होय का चाही। इसी बीच शिवपाल अग्रहरि व सोनू गुप्ता भी पहुंच जाते हैं। चाय पीते हुए बोल पड़ते है कि सबै आपन अहा अबकी बार अइसा जनप्रतिनिधि चुनै का बा जवन पढ़ा-लिखा और सज्जन होय। बतकही चल ही रही थी कि राम लाल वर्मा व देवी प्रसाद यादव पहुंच गए। कहने लगे कि विधायक अइसन चुने का चाही जवन सबकै बतिया सुनय और काम करवावै। अंत में राजकुमार कहते हैं कि अब चली-चला कै बेला आय गय, सबै चला कामकाज देखा, लेकिन एतना जरूर बाय कि सबै ओटवा जरूर देत जाया..।

Edited By Jagran

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept