This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.
OK

उधार से मिली निजात, सोनभद्र ट्रैक्शन सब स्टेशन चालू

उत्तर मध्य रेलवे प्रयागराज चुनार-चोपन रेलवे मार्ग पर अब इलेक्ट्रिक ट्रेनों को लो-वोल्टेज की समस्या से निजात मिलेगी। सोनभद्र ट्रैक्शन सब स्टेशन को चार्ज करके चालू कर दिया गया है। इसके चालू होने से लो-वोल्टेज के चलते जहां-तहां खड़ी वाली ट्रेनों से निजात मिलेगी और वह सही समय पर गंतव्य तक रवाना हो सकेंगी।

JagranSat, 03 Apr 2021 10:26 PM (IST)
उधार से मिली निजात, सोनभद्र ट्रैक्शन सब स्टेशन चालू

जागरण संवाददाता, सोनभद्र : उत्तर मध्य रेलवे प्रयागराज चुनार-चोपन रेलवे मार्ग पर अब इलेक्ट्रिक ट्रेनों को लो-वोल्टेज की समस्या से निजात मिलेगी। सोनभद्र ट्रैक्शन सब स्टेशन को चार्ज करके चालू कर दिया गया है। इसके चालू होने से लो-वोल्टेज के चलते जहां-तहां खड़ी वाली ट्रेनों से निजात मिलेगी और वह सही समय पर गंतव्य तक रवाना हो सकेंगी। इसके पूर्व इस रेल मार्ग पर धनबाद मंडल ओबरा व चुनार ट्रैक्शन सब स्टेशन से बिजली मिलती थी। काफी लोड होने के चलते लो-वोल्टेज की समस्या झेलनी पड़ती थी। यानी अब उधार के बिजली से निजात मिल सकेगी।

ट्रैक्शन सब स्टेशन 132/25 केवी का निर्माण वर्ष 2019 में शुरू हुआ था। मार्च 2021 में इसको पूर्ण कर दिया गया। 18 मार्च से स्टेशन को चार्ज किया जा रहा था। शुक्रवार की रात पूर्ण रुप से चार्ज होने के बाद इसको चालू कर दिया गया। इससे अब चुनार-चोपन पर चलने वाली ट्रेनों को इसी स्टेशन से बिजली मिलेगी। इस रेल मार्ग पर दो एक्सप्रेस त्रिवेणी व मूरी एक्सप्रेस व पैसेंजर का संचालन होता है। वर्तमान में मात्र एक मूरी एक्सप्रेस ही चल रही है। 60 किमी प्रति घंटे की स्पीड से ट्रेन का संचालन किया जा रहा है। यह चुनार-चोपन सेक्शन में अधिक से अधिक इलेक्ट्रिक लोकोमोटिव से चलने वाली रेलगाड़ियों के संचालन के लिए कुशल, किफायती और पर्यावरण के अनुकूल रेल परिवहन का मार्ग प्रशस्त करेगा, जिससे उर्जांचल के सिगरौली व शक्तिनगर से सोनभद्र होते हुए नई दिल्ली तक आवागमन सुगम होगा। अभी तक चोपन-चुनार सेक्शन में इलेक्ट्रिक इंजनों को विद्युत सप्लाई पूर्व मध्य रेलवे धनबाद के ओबरा स्थित ट्रैक्शन सब-स्टेशन व चुनार से विद्युत सप्लाई हो रही थी। लो-वोल्टेज की दूर होगी समस्या

स्टेशन अधीक्षक बीपी सिंह ने बताया कि इसके पहले दूसरे जगहों से बिजली मिलने के चलते लोड अधिक हो जाने से वोल्टेज लो हो जाता था। इसके चलते ट्रेन जहां-तहां खड़ी हो जाती थी और काफी लेटलतीफी का सामना करना पड़ता था। अब इसस निजात मिल सकेगी। कोयले की ढुलाई में 200 किमी होगी दूर

उत्तर मध्य रेलवे चुनार-चोपन पर अपना ट्रैक्शन सब स्टेशन नहीं होने के चलते लोड मालगाड़ियों को सिगरौली या शक्तिनगर से चलकर वाया ओबरा डैम, बिल्ली बाइपास, रेणुकूट, नगरउटारी, गढ़वा रोड, डेहरी आन सोन, पंडित दीनदयाल उपाध्याय नगर होते हुए चुनार जाती थी। लेकिन अब सोनभद्र ट्रैक्शन सब स्टेशन के शुरू एवं चार्ज होने के पश्चात सिगरौली/शक्तिनगर से वाया ओबरा डैम, चोपन, चुर्क, सोनभद्र, सक्तेशगढ़ होते हुए चुनार तक आ सकेंगी। इससे करीब 200 किमी दूरी कम होगी। वर्जन--

सोनभद्र ट्रैक्शन सब स्टेशन चार्ज करके चालू कर दिया गया है। अब ओबरा व चुनार से मिलने वाली उधार की बिजली से निजात मिल सकेगी। इसके चलते लो-वोल्टेज की समस्या से निजात मिलेगी।

- बीपी सिंह, स्टेशन अधीक्षक सोनभद्र। रेल सलाहकार समिति के सदस्य ने दी बधाई

क्षेत्रीय रेल सलाहकार समिति के सदस्य एसके गौतम ने उत्तर मध्य रेलवे महाप्रबंधक विनय कुमार त्रिपाठी को बधाई देते हुए कहा कि इस रेल खण्ड पर 100 किमी गति सीमा बढ़ाए जाने के लिए चल रहे कार्य निर्धारित समय सीमा में पूरा कराया जाए। ट्रैक्शन सब स्टेशन के शुरू होने से चोपन से चुनार के मध्य विद्युतीकृत मल्टीपल यूनिट (मेमू) ट्रेन संचालन के लिए मार्ग प्रशस्त होगा।

Edited By Jagran

सोनभद्र में कोरोना वायरस से जुडी सभी खबरे

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
Jagran Play

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

  • game banner
  • game banner
  • game banner
  • game banner