कोई शुक्रगुजार तो किसी पर शुक्र का 'वार'

बिसवां से निर्मल वर्मा भाजपा तो सिधौली से हरगोविद भार्गव सपा के प्रत्याशी भाजपा के सदर महोली और सिधौली प्रत्याशियों को लेकर तेज हुई हलचल।

JagranPublish: Fri, 28 Jan 2022 11:09 PM (IST)Updated: Fri, 28 Jan 2022 11:09 PM (IST)
कोई शुक्रगुजार तो किसी पर शुक्र का 'वार'

गोविन्द मिश्र, सीतापुर

जनवरी का अंतिम शुक्रवार.. राजनीतिक हलचल बढ़ाने वाला शुक्रवार.. वर्ष 2022 के चुनावी समीकरण तय करने वाला शुक्रवार..। इस शुक्रवार कोई शुक्रगुजार हो गया तो किसी पर शुक्र ने कसक देने वाला 'वार' कर दिया। जी हां, हम बात कर रहे हैं 28 जनवरी को बीते शुक्रवार की, जिसने न केवल टिकट के दावेदारों का गणित बनाया और उलझाया वरन जनता की बेचैनी बढ़ाने में भी कोई कसर नहीं छोड़ी।

शुक्रवार को धूप चटक और ठर्रन भी जबरदस्त थी। सियासी ताप बढ़ा था। सबसे पहले चर्चा बिसवां के भाजपा विधायक महेंद्र यादव की। माना जा रहा है कि आपत्तिजनक तस्वीरों और इससे पहले के कुछ घटनाक्रमों ने महेंद्र यादव के टिकट के खेल को बिगाड़ दिया। सूची आई तो बिसवां से भाजपा ने सपा छोड़कर पार्टी में शामिल हुए पूर्व विधायक निर्मल वर्मा को प्रत्याशी बना दिया। इस सीट पर चर्चा में कई नाम थे लेकिन, प्रत्याशी घोषित होने के बाद कई दिल टूट गए। अब बिसवां से सिधौली ले चलते हैं। सियासी गलियारों में हवा यही बह रही थी कि भाजपा और सपा एक-दूसरे की रणनीति पर नजरें गड़ाए हैं। खैर, तमाम उठापटक, जबरदस्त घमासान के बीच सपा ने अपना प्रत्याशी घोषित कर धुंधली तस्वीर को थोड़ा साफ कर दी है। अब सबकी नजरें न केवल भाजपा के प्रत्याशी बल्कि मनीष रावत पर भी गड़ी हैं। मनीष आगे क्या करेंगे और भाजपा किसे अपना चेहरा बनाएगी, इसे जानने के लिए हर शख्स बेताब है। राजनीतिक जानकार मनीष के निर्णय को सुशीला सरोज फैक्टर से भी जोड़कर देख रहे हैं। सुशीला सरोज, मनीष रावत की रिश्ते में सास होने के साथ ही मलिहाबाद से सपा प्रत्याशी भी हैं। खैर, बेसब्र होने की जरूरत नहीं, यहां भी 'पर्दा' जल्द उठ जाएगा। अब सदर, महोली और सिधौली में क्या करेगी भाजपा

शुक्रवार को अपने एक विधायक का टिकट काटने के बाद भाजपा सदर, महोली और सिधौली में क्या करेगी? यह बड़ा सवाल है। आप इंटरनेट मीडिया के विभिन्न माध्यमों पर नजरें दौड़ाइए तो ऐसे लोगों की संख्या काफी ज्यादा है, जो इन पर भाजपा के चेहरे जानना चाहते हैं। वैसे, ये बादल भी अब शीघ्र छंटने के आसार हैं। चर्चा तो यह भी है कि शुक्रवार को भले ही टिकट कटने के चर्चे रहे हों, लेकिन शनिवार को कुछ नए गुल भी खिलेंगे। ..तो फिर तैयार रहिए, क्यूंकि पिक्चर अभी बाकी है! जानिए, किस दल के कितने प्रत्याशी..

जिले की नौ विधानसभा क्षेत्रों में प्रत्याशियों की घोषणा में सपा सबसे आगे है। सपा ने सभी नौ प्रत्याशी घोषित कर दिए हैं। कांग्रेस ने आठ, बसपा ने सात और भाजपा ने छह की सूची जारी की है। पहली प्रतिक्रिया.. पार्टी के निर्णय का स्वागत

चित्र परिचय- 28एसआइटी39 हां, सूची में हमारा नाम नहीं है। पार्टी ने जो निर्णय लिया है, मैं उसका सम्मान करूंगा। भाजपा नेतृत्व जो निर्देश देगा, उसका पालन करूंगा।

- महेंद्र यादव, विधायक बिसवां

Edited By Jagran

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept