पकड़ में आए छह फर्जी शिक्षक, जल्द होगी बर्खास्तगी

फर्जी प्रमाण पत्र के आधार पर नौकरी करने वाले लगभग आधा दर्जन फर्जी शिक्षकों पर बर्खास्तगी की तलवार लटक रही है। एक पैन कार्ड पर दो शिक्षकों के आटीआर दाखिल करने के बाद हुए जांच में छह मामला विभाग की पकड़ में आया है। जल्द ही इनके खिलाफ मुकदमा दर्ज करने के साथ बर्खास्तगी की कार्रवाई हो सकती है।

JagranPublish: Sat, 09 Oct 2021 11:43 PM (IST)Updated: Sun, 10 Oct 2021 12:48 AM (IST)
पकड़ में आए छह फर्जी शिक्षक, जल्द होगी बर्खास्तगी

सिद्धार्थनगर: फर्जी प्रमाण पत्र के आधार पर नौकरी करने वाले लगभग आधा दर्जन फर्जी शिक्षकों पर बर्खास्तगी की तलवार लटक रही है। एक पैन कार्ड पर दो शिक्षकों के आटीआर दाखिल करने के बाद हुए जांच में छह मामला विभाग की पकड़ में आया है। जल्द ही इनके खिलाफ मुकदमा दर्ज करने के साथ बर्खास्तगी की कार्रवाई हो सकती है।

जिले में कई वर्षों से फर्जी शिक्षक नौकरी कर रहे हैं। पिछले दो वर्ष में 102 फर्जी शिक्षकों को बर्खास्त किया जा चुका है। इसमें तमाम ऐसे मामले पकड़ में आए थे जो दूसरे के प्रमाण पत्र पर इस जनपद में नौकरी कर रहे थे। इस बार जिनकी पहचान हुई है, उसमें भी कूटरचित दस्तावेजों के सहारे नौकरी करने का मामला सामने आ चुका है। असली प्रमाण पत्र पर वास्तविक व्यक्ति अन्य जिले में नौकरी कर रहे हैं। जब आयकर रिटर्न दाखिल करने व मानव संपदा पोर्टल पर शिक्षकों का डाटा फीडिग पूरी होने लगी तो इनकी पहचान हुई है। मामले की जानकारी होने पर असली प्रमाण पत्र पर नौकरी कर रहे शिक्षक भौचक रह गए। नौकरी कर रहे असली शिक्षकों ने पत्र लिखकर बीएसए को मामले से अवगत कराया। शिकायत पर कराई गई जांच में दूसरे के नाम पर नौकरी करते हुए लोग पाए गए। गंभीर बात यह है कि यह फर्जी शिक्षक कई वर्षों से दूसरे के प्रमाण पत्र के आधार पर नौकरी करते रहे और विभाग को इसकी भनक तक नहीं लग सका।

बीएसए देवेंद्र कुमार पांडेय ने कहा कि अभी हमने चार्ज लिया है। पूर्व में हुई कार्रवाई की जानकारी आफिस खुलने पर लेकर उचित कार्रवाई करेंगे। जो भी दोषी होगा उसके खिलाफ मुकदमा दर्ज कराते हुए वेतन रिकवरी की कार्रवाई की जाएगी।

Edited By Jagran

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept
ट्रेंडिंग न्यूज़

मौसम