रेडीनेस प्रशिक्षण में बुनियादी शिक्षा पर जोर

ब्लाक संसाधन केंद्र डुमरियागंज परिसर में स्कूल रेडीनेस कार्यक्रम के तहत एक दिवसीय ईसीसीई क्रियान्वयन कार्यशाला का आयोजन मंगलवार को किया गया। जिसमें डुमरियागंज विकासखंड के समस्त आंगनबाड़ी कार्यकर्ता व परिषदीय शिक्षकों ने प्रतिभाग किया।

JagranPublish: Tue, 30 Nov 2021 10:54 PM (IST)Updated: Tue, 30 Nov 2021 10:54 PM (IST)
रेडीनेस प्रशिक्षण में बुनियादी शिक्षा पर जोर

सिद्धार्थनगर : ब्लाक संसाधन केंद्र डुमरियागंज परिसर में स्कूल रेडीनेस कार्यक्रम के तहत एक दिवसीय ईसीसीई क्रियान्वयन कार्यशाला का आयोजन मंगलवार को किया गया। जिसमें डुमरियागंज विकासखंड के समस्त आंगनबाड़ी कार्यकर्ता व परिषदीय शिक्षकों ने प्रतिभाग किया। तौकीर हसन रिजवी, विवेक कुमार द्विवेदी, विष्णु कांत दुबे, शेष राम यादव ने प्रशिक्षित किया।

बीईओ डुमरियागंज श्याम प्रताप सिंह ने कहा कि यह प्रशिक्षण काफी महत्वपूर्ण है। सभी प्रशिक्षण ले रहे लोग ध्यान दें कि सरल व रुचि पूर्व शिक्षा पर अगर ध्यान दिया जाए तो बच्चे प्रेरित होंगे तथा ठहराव की स्थिति भी अच्छी रहेगी। सीडीपीओ डुमरियागंज अभय प्रताप सिंह ने कहा कि विद्यालय तैयारी माड्यूल एवं विद्या प्रवेश की गाइड लाइन के अनुसार कक्षा 1 से संचालित किए जाने वाले 3 माह के विद्यालय तैयारी, समय सारणी के क्रियान्वयन और आंगनबाड़ी बाल वाटिका गतिविधि पर ध्यान दिए जाने की आवश्यकता है। जब तक आंगनबाड़ी कार्यकर्ता और शिक्षकों के बीच सामंजस्य नहीं स्थापित होगा कार्यक्रम सफल नहीं हो पाएगा। प्रशिक्षण दे रहे ट्रेनर ने कुछ शिक्षकों व आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को टोली बनाकर गतिविधियों के माध्यम से प्रशिक्षण दिया। लोगों को बताया कि तीन से छह वर्ष तक के बच्चों के शिक्षण अधिगम सामग्री के निर्माण को लेकर यह कार्यशाला आयोजित है। संचालन विवेक कुमार द्विवेदी ने किया। आंगनबाड़ी कार्यकर्ता संघ की प्रदेश महामंत्री प्रभावती देवी, आबिद रिजवी, कुसुम मिश्रा, विमला पांडे, तारा पांडे, मोहरती देवी, आशा यादव, विध्यवासिनी सिंह, उमा, आयशा रहमान, फरहीन सिद्दीकी, गणेश गौंड़, अमित मिश्रा आदि मौजूद रहे। अवशेष प्रबंधन के लिए विद्यार्थियों के बीच हुई प्रतियोगिता

सिद्धार्थनगर : मंगलवार को आचार्य नरेंद्र देव कृषि एवं प्रौद्योगिक विश्वविद्यालय कुमारगंज अयोध्या से संचालित कृषि विज्ञान केंद्र सोहना में चल रहे फसल अवशेष प्रबंधन परियोजना के अंतर्गत कृषि विज्ञानियों ने अब्दुल कलाम आजाद एजुकेशनल इंस्टीट्यूट पीजी कालेज डुमरियागंज में विद्यार्थियों के बीच मोबिलाइजेशन आफ स्कूल स्टूडेंट कार्यक्रम चलाया। जिससे खेत में पराली न जलाने एवं उसके प्रबंधन पर किसानों को अधिक से अधिक जागरूक किया जा सके। विद्यार्थियों के बीच प्रतियोगिता भी आयोजित हुई। निबंध प्रतियोगिता में नूरजहां प्रथम, नाजिया फातिमा द्वितीय, जिया फातिमा रिजवी तृतीय स्थान पर रहीं। पेंटिग प्रतियोगिता में शत्रुघ्न कौशल प्रथम, सैयदा खातून द्वितीय, निकहत जमन तृतीय रहीं। प्रश्नोत्तरी में जिया फातिमा रिजवी प्रथम, आयशा शाहीन द्वितीय, सिम्मी जहां तृतीय रहीं। सभी विजेताओं को शील्ड व प्रमाण पत्र देकर किया गया सम्मानित। फसल अवशेष प्रबंधन के प्रोजेक्ट इंचार्ज डा. प्रदीप कुमार, डा. एस एन सिंह एवं प्रधानाचार्य अबू सुफियान मलिक के हाथों सभी को पुरस्कार मिला। विज्ञानियों ने सभी विद्यार्थियों को शपथ दिलाई कि धान फसल मड़ाई के बाद धान की पराली किसानों को न जलाने के लिए प्रेरित करना है। कार्यक्रम में 200 विद्यार्थियों ने भाग लिया। सैयद मेहंदी हसन, अब्दुल अव्वल फारूकी, सिद्दीकी, नदीम बानो, शेख सायरा, राजेश कुमार व जावेद अख्तर आदि उपस्थित रहे।

Edited By Jagran

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept