भविष्य में विकास की नई इबारत लिखेगा शामली

जनपद शामली भविष्य में विकास की नई इबारत लिखने जा रहा है। यहां पांच हाईवे का निर्माण कार्य पूरा होने के बाद जिला गुड़गांव व नोएडा को टक्कर देता दिखाई देगा। जिले में जहां तीन हाईवे पर काम अभी चल रहा है वहीं दो एक्सप्रेसवे के निर्माण की प्रक्रिया भी शुरू हो चुकी है। हालांकि अधिग्रहण की मंद रफ्तार से इसमें अभी देरी हो रही है। हाल ही में मुजफ्फरनगर विकास प्राधिकरण ने शामली महायोजना का भी प्रकाशन कर दिया है। महायोजना-2031 पर पिछले एक साल से कार्य चल रहा था। इसमें नगर पालिका परिषद सीमा से एक किलोमीटर परिधि के क्षेत्र को शामिल किया जाएगा। हालांकि सात फरवरी तक आपत्ति मांगी गई हैं।

JagranPublish: Fri, 21 Jan 2022 08:22 PM (IST)Updated: Fri, 21 Jan 2022 08:22 PM (IST)
भविष्य में विकास की नई इबारत लिखेगा शामली

शामली, जागरण टीम। जनपद शामली भविष्य में विकास की नई इबारत लिखने जा रहा है। यहां पांच हाईवे का निर्माण कार्य पूरा होने के बाद जिला गुड़गांव व नोएडा को टक्कर देता दिखाई देगा। जिले में जहां तीन हाईवे पर काम अभी चल रहा है, वहीं दो एक्सप्रेसवे के निर्माण की प्रक्रिया भी शुरू हो चुकी है। हालांकि अधिग्रहण की मंद रफ्तार से इसमें अभी देरी हो रही है। हाल ही में मुजफ्फरनगर विकास प्राधिकरण ने शामली महायोजना का भी प्रकाशन कर दिया है। महायोजना-2031 पर पिछले एक साल से कार्य चल रहा था। इसमें नगर पालिका परिषद सीमा से एक किलोमीटर परिधि के क्षेत्र को शामिल किया जाएगा। हालांकि सात फरवरी तक आपत्ति मांगी गई हैं।

------------

साल 2022 में पूरा होगा दिल्ली-सहारनपुर हाईवे का निर्माण कार्य

दिल्ली-सहारनपुर राष्ट्रीय राजमार्ग 709 बी का निर्माण सपा सरकार के कार्यकाल में भी शुरू हुआ था, लेकिन यह लंबे समय तक अधर में लटक गया। प्रदेश में भाजपा की सरकार बनने पर दिल्ली-सहारनपुर हाईवे का निर्माण कराने की घोषणा की गई थी। इसके बाद कार्य शुरू कराया गया। पहले फेज में बागपत व दूसरे फेज का कार्य फिलहाल चल रहा है। इसमें जलालाबाद तक निर्माण लगभग पूरा हो चुका है। सहारनपुर जनपद में भी काफी कार्य हुआ है। फिलहाल 70 प्रतिशत निर्माण पूरा हो चुका है। कंपनी का दावा है कि अप्रैल 2022 में यह कंपलीट हो जाएगा। मेरठ-करनाल हाईवे का काम 2023 में होगा कार्य पूरा

मेरठ-करनाल हाईवे के चौड़ीकरण का काम तेजी से चल रहा है। हर प्रमुख चौराहे पर ओवरब्रिज बनने के साथ ही शामली के बाहर से बाईपास का निर्माण चल रहा है। वर्ष 2015 में 85 किलोमीटर लंबाई के 17 मीटर चौड़े मेरठ-करनाल फोरलेन का निर्माण लोक निर्माण विभाग (लोनिवि) ने किया था। वर्ष 2017 में प्रदेश सरकार ने जिले के सभी हाईवे को राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण नई दिल्ली को हस्तांतरित कर दिया। इसके बाद प्रक्रिया पूरी करने के बाद से काम शुरू हुआ। बाइपास से मेरठ चौड़ीकरण का कार्य रहा है। अगले साल 2023 तक कार्य पूरा होने का दावा है।

पानीपत-खटीमा हाईवे का 52 फीसद कार्य पूरा

पानीपत-खटीमा राजमार्ग का निर्माण कार्य चल रहा है। इसका निर्माण कार्य पूरा होने से शामली से पानीपत तक बहुत कम समय में पहुंचा जा सकेगा। इस हाईवे पर फिलहाल 52 प्रतिशत कार्य पूरा हो चुका है। कैराना तहसील क्षेत्र से होकर गुजरने वाले फोरलेन हाईवे के निर्माण में तेजी से चल रहा है। हरियाणा के पानीपत के गांव सिवाह से कैराना, शामली, मुजफ्फरनगर होते हुए बिजनौर के नगीना तक बन रहे नेशनल हाईवे-709एडी (फोरलेन) का कार्य तीन चरणों में पूरा होना है। दिल्ली-देहरादून एक्सप्रेस वे प्रक्रिया में

दिल्ली-देहरादून इकानामिक कारिडोर एक्सप्रेस-वे भारतमाला परियोजना के तहत प्रस्तावित है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी व केंद्रीय सड़क परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने वर्ष 2019 में लोकसभा चुनाव से पहले 13 हजार करोड़ रुपये की लागत के इस हाईवे के निर्माण की घोषणा की थी। यह फिलहाल प्रक्रिया में है। शामली से गोरखपुर को जोड़ेगा एक्सप्रेसवे

भारतमाला परियोजना के तहत शामली जिले को एक और एक्सप्रेसवे बनेगा। करीब 700 किलोमीटर लंबा यह ग्रीन फील्ड एक्सप्रेसवे शामली को गोरखपुर से जोड़ेगा। इसकी डीपीआर तैयार करने के लिए कंसलटेंट एजेंसी नियुक्त कर दी गई है। यह एक्सप्रेसवे उत्तर प्रदेश के 22 जिलों की 37 तहसीलों से होकर गुजरेगा। फिलहाल इसपर कार्य चल रहा है। इन्होंने कहा

शामली जिले में दिल्ली-सहारनपुर हाईवे का निर्माण कार्य करीब-करीब पूरा हो चुका है, लेकिन डिवाइडर का कार्य पूरा नहीं हुआ है। डिवाइडरों पर रिफ्लेक्टर न लगने से कोहरे में दुर्घटना की संभावना बनी है। इस ओर कंपनी के अधिकारियों को ध्यान देना चाहिए।

- माजिद मलिक, व्यापारी

-------------

पानीपत-खटीमा हाईवे बनने से शामली से पानीपत तक पहुंचने में कम समय लगेगा। कई हाईवे बनने से जिले में विकास की रफ्तार तेज हो जाएगी। व्यापार बढ़ेगा व हर वर्ग को इससे सहूलियत रहेगी।

- अवनीश कुमार, व्यापारी जिले से पांच हाईवे होकर गुजरेंगे तो जाहिर सी बात है कि विकास होगा। गुड़गांव व दिल्ली की तर्ज पर शामली आगे बढ़ेगा। पहले हाईवे नहीं थे, सड़कों की बदहाली से लोग बहुत परेशान थे।

- मोनू संगल, नागरिक

हमारे जिले के तीन हाईवे पर काम चल रहा है। वहीं दो एक्सप्रेसवे प्रस्तावित हैं। पांचों हाईवे के बनने से यहां परिवहन व्यवस्था बेहतर हो जाएगी। दिल्ली, पानीपत, सहारनपुर समेत विभिन्न स्थानों की दूरी कम हो जाएगी।

- नीरज तायल

--------------------

जिले में8 तीन हाईवे का निर्माण कार्य चल रहा है। दिल्ली-सहारनपुर हाईवे का कार्य काफी हद तक पूरा हो चुका है। पानीपत-खटीमा व मेरठ-करनाल पर भी काम चल रहा है। दो एक्सप्रेस वे भी प्रक्रिया में हैं। इन हाईवे के बनने से जिले का तेजी से अधिक विकास होगा।

- संतोष कुमार सिंह, एडीएम

Edited By Jagran

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept